अगर आप चाहते हैं कि आपके घर में भी लक्ष्मी का स्थाई वास् हो तो अपने घर के इस जगह पर स्थापित करना होगा…

आचार्य रमेश चन्द्र तिवारी
सम्पर्क सूत्र +91 9518782511
🙏🌹🌷🌹🌷🌹🌷🌹🌷🙏
|| जय श्री राधे ||*
🙏🌹🙏
अथ पंचांगम् 🙏🌹🙏
ll जय श्री राधे ll**
🙏🌹🌷🌹🌷🌹🌷🌹🌷🙏

Presents

दिनाँक -: 03/09/2019,मंगलवार
पंचमी, शुक्ल पक्ष
भाद्रपद
“””””””””””””‘”””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि————-पंचमी23:27:21 तक
पक्ष—————————–शुक्ल
नक्षत्र————–चित्रा06:23:40
नक्षत्र————-स्वाति28:52:58
योग—————–ब्रह्म22:58:00
करण—————भाव12:35:30
करण————-बालव23:27:21
वार————————-मंगलवार
माह————————–भाद्रपद
चन्द्र राशि———————–तुला
सूर्य राशि————————सिंह
रितु——————————-वर्षा
आयन——————-दक्षिणायण
संवत्सर———————-विकारी
संवत्सर (उत्तर)———–परिधावी
विक्रम संवत—————–2076
विक्रम संवत (कर्तक)——-2075
शाका संवत——————1941

मुम्बई
सूर्योदय—————–06:35:54
सूर्यास्त——————18:54:00
दिन काल—————12:37:06
रात्री काल————–11:23:20
चंद्रोदय——————09:57:20
चंद्रास्त——————21:43:18

लग्न—-सिंह16°7′ , 136°7′

सूर्य नक्षत्र————-पूर्वाफाल्गुनी
चन्द्र नक्षत्र——————— चित्रा
नक्षत्र पाया——————–रजत

🌹🌷🌹 पद, चरण 🌹🌷🌹

री—-चित्रा 06:23:40

रू—-स्वाति 11:57:07

रे—-स्वाति 17:33:05

रो—-स्वाति 23:11:40

ता—-स्वाति 28:52:58

🌹🌷🌹 ग्रह गोचर 🌹🌷🌹

ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद

सूर्य=सिंह 16°42 ‘ पू o फा o, 1 मो
चन्द्र =तुला 21°23 ‘ चित्रा ‘ 4 री
बुध=सिंह 15°16 ‘पू o फ़ा o’ 1 मो
शुक्र= सिंह 21 ° 10, पू oफा o’ 3 टी
मंगल=सिंह 15°12 ‘ पू oफ़ा o ‘ 1 मो
गुरु=वृश्चिक 20°48 ‘ ज्येष्ठा , 2 या
शनि=धनु 22°13′ पू oषा o ‘ 3 फा
राहू=मिथुन 20°25 ‘ पुनर्वसु , 1 के
केतु=धनु 20 ° 25′ पूo षाo, 3 फा

🌹🌷🌹शुभा$शुभ मुहूर्त🌹🌷🌹

राहू काल 15:28 – 17:02अशुभ
यम घंटा 09:09 – 10:44अशुभ
गुली काल 12:18 – 13:53अशुभ
अभिजित 11:53 -12:44शुभ
दूर मुहूर्त 08:31 – 09:22अशुभ
दूर मुहूर्त 23:10 – 24:01*अशुभ

🌹चोघडिया, दिन
रोग 05:59 – 07:35अशुभ
उद्वेग 07:35 – 09:09अशुभ
चर 09:09 – 10:44शुभ
लाभ 10:44 – 12:18शुभ
अमृत 12:18 – 13:53शुभ
काल 13:53 – 15:28अशुभ
शुभ 15:28 – 17:02शुभ
रोग 17:02 – 18:37अशुभ

🌹चोघडिया, रात
काल 18:37 – 20:02अशुभ
लाभ 20:02 – 21:28शुभ
उद्वेग 21:28 – 22:53अशुभ
शुभ 22:53 – 24:19शुभ अमृत 24:19 – 25:44शुभ चर 25:44 – 27:10शुभ रोग 27:10 – 28:35अशुभ काल 28:35 – 30:00*अशुभ

🌹होरा, दिन
मंगल 05:59 – 07:03
सूर्य 07:03 – 08:06
शुक्र 08:06 – 09:09
बुध 09:09 – 10:12
चन्द्र 10:12 – 11:15
शनि 11:15 – 12:18
बृहस्पति 12:18 – 13:22
मंगल 13:22 – 14:25
सूर्य 14:25 – 15:28
शुक्र 15:28 – 16:31
बुध 16:31 – 17:34
चन्द्र 17:34 – 18:37

🌹होरा, रात
शनि 18:37 – 19:34
बृहस्पति 19:34 – 20:31
मंगल 20:31 – 21:28
सूर्य 21:28 – 22:25
शुक्र 22:25 – 23:22
बुध 23:22 – 24:19
चन्द्र 24:19* – 25:16
शनि 25:16* – 26:13
बृहस्पति 26:13* – 27:10
मंगल 27:10* – 28:06
सूर्य 28:06* – 29:03
शुक्र 29:03* – 30:00

नोट— दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है।
प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है।
चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥
रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार ।
अमृत में काम सभी करो , सहाय करो कर्तार ॥
अर्थात- चर में वाहन,मशीन आदि कार्य करें ।
उद्वेग में भूमि सम्बंधित एवं स्थायी कार्य करें ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार ,सगाई व चूड़ा पहनना आदि कार्य करें ।
लाभ में व्यापार करें ।
रोग में जब रोगी रोग मुक्त हो जाय तो स्नान करें ।
काल में धन संग्रह करने पर धन वृद्धि होती है ।
अमृत में सभी शुभ कार्य करें ।

🌼दिशा शूल ज्ञान————-उत्तर
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा गुड़ खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l
भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll

🌹 अग्नि वास ज्ञान -:
यात्रा विवाह व्रत गोचरेषु,
चोलोपनिताद्यखिलव्रतेषु ।
दुर्गाविधानेषु सुत प्रसूतौ,
नैवाग्नि चक्रं परिचिन्तनियं ।। महारुद्र व्रतेSमायां ग्रसतेन्द्वर्कास्त राहुणाम्
नित्यनैमित्यके कार्ये अग्निचक्रं न दर्शायेत् ।।

   5 + 3 + 1 = 9 ÷ 4 = 1 शेष

पाताल लोक पर अग्नि वास हवन के लिए अशुभ कारक है l

🌹 शिव वास एवं फल -:

5 + 5 + 5 = 15 ÷ 7 = 1 शेष

कैलाश वास = शुभ कारक

🌹भद्रा वास एवं फल -:

स्वर्गे भद्रा धनं धान्यं ,पाताले च धनागम:।
मृत्युलोके यदा भद्रा सर्वकार्य विनाशिनी।।

🌹🌷🌹विशेष जानकारी 🌹🌷🌹

  • ऋषि पंचमी व्रत
  • श्रीजी मंदिर से चाव सवारी चार दिन श्री राधाबल्लभ जी वृन्दावन

🌹🌷🌹 शुभ विचार 🌹🌷🌹

कुराजराज्येन कुतः प्रजासुखं
कुमित्रमित्रेण कुतोऽभिनिर्वृतिः ।
कुदारदारैश्च कुतो गृहे रतिः
कुशिष्यमध्यापयतः कुतो यशः ।।
।।चा o नी o।।

एक बेकार राज्य में लोग सुखी कैसे हो? एक पापी से किसी शान्ति की प्राप्ति कैसे हो? एक बुरी पत्नी के साथ घर में कौनसा सुख प्राप्त हो सकता है. एक नालायक शिष्य को शिक्षा देकर कैसे कीर्ति प्राप्त हो?

🌹🌷🌹 सुभाषितानि 🌹🌷🌹

गीता -: भक्तियोग अo-12

श्रेयो हि ज्ञानमभ्यासाज्ज्ञानाद्धयानं विशिष्यते ।,
ध्यानात्कर्मफलत्यागस्त्यागाच्छान्तिरनन्तरम्‌ ॥,

मर्म को न जानकर किए हुए अभ्यास से ज्ञान श्रेष्ठ है, ज्ञान से मुझ परमेश्वर के स्वरूप का ध्यान श्रेष्ठ है और ध्यान से सब कर्मों के फल का त्याग (केवल भगवदर्थ कर्म करने वाले पुरुष का भगवान में प्रेम और श्रद्धा तथा भगवान का चिन्तन भी बना रहता है, इसलिए ध्यान से ‘कर्मफल का त्याग’ श्रेष्ठ कहा है) श्रेष्ठ है, क्योंकि त्याग से तत्काल ही परम शान्ति होती है॥,1

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

🌹व्रत पर्व विवरण 🌹- ऋषि पंचमी, सामा पंचमी, गुरु पंचमी (ओड़िशा), रक्षा पंचमी (बंगाल)
💥 *विशेष – पंचमी को बेल खाने से कलंक लगता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)
🌷 *गणेश उत्सव* 🌷
02 सितंबर 2019 गणेश उत्सव शुरू हो गया है जो की ये 10 दिन भगवान गणेश को प्रसन्न करने और उनकी कृपा पाने के लिए बहुत ही खास माने जाते हैं। वास्तु में भी कुछ वस्तुओं का खास संबंध भगवान गणेश से माना जाता है। यदि आज इन 5 में से एक भी वास्तु घर लाई जाए तो भगवान गणेश के साथ-साथ देवी लक्ष्मी भी प्रसन्न होती है और घर-परिवार पर उनकी कृपा हमेशा बनी रहती है।

1⃣ गणेश की नृत्य करती प्रतिमा
धन संबंधी परेशानियां दूर करने के लिए नृत्य करती गणेश प्रतिमा घर में रखना शुभ माना जाता है। प्रतिमा को इस तरह रखें कि घर के मेन गेट पर भगवान गणेश की दृष्टि रहे।

2⃣ बांसुरी
बांसुरी घर में रखने से घर में लक्ष्मी का वास बना रहता है।इससे घर के वास्तु दोष दूर होते हैं और धन पाने के योग बनने लगते हैं।

3⃣ एकाक्षी नारियल
जिस घर में एकाक्षी नारियल रखा जाता है और इसकी नियमित पूजा होती है, वहां नेगेटिविटी नहीं ठहरती है, न ही कभी धन-धान्य की कमी होती है।

4⃣ घर के मंदिर में शंख
शंख में वास्तु दोष दूर करने की अद्भुत शक्ति होती है। जिस घर के पूजा स्थल में शंख की स्थापना भी की जाती है, वहां देवी लक्ष्मी स्वयं निवास करती हैं।

5⃣ कुबेर की मूर्ति
भगवान कुबेर उत्तर दिशा के स्वामी माने जाते हैं, इसलिए उत्तर दिशा में इनकी मूर्ति रखने से घर में कभी पैसों की कमी नहीं होती।

वास्तु शास्त्र
🏡 इस तरह कर सकते हैं वास्तुदोष का अंत
घर का जो हिस्सा वास्तु के अनुसार सही न हो, वहां घी मिश्रित सिंदूर से श्री गणेश स्वरुप स्वस्तिक दीवार पर बनाने से वास्तु दोष का प्रभाव कम होने लगता है।
आर्थिक परेशानी रहती हो तो
🙏🏻 अथर्ववेद की गणेश उपनिषद के अनुसार दूर्वा ( जो गणेशजी की पूजा के काम में आता है ) उसे घी में डुबायें …. और आहूति दें …. ये मंत्र बोल कर आहूति डालें … ” ॐ गं गणपतये स्वाहा “
समाज में हर काम में विफलता – अपयश मिलता हो तो
👨🏻 जिन लोगो को समाज में हर काम में विफलता मिलती है, अपयश मिलता है, वे लोग साल (संस्कृत में उसे लाजा कहते है ) में घी मिला कर गणपति मंत्र से हवन करें तो कार्य सिद्ध होते है । यश की वृद्धि होती है |


मेष
दिन के पहले भाग में कुछ परेशानी हो सकती है लेकिन दिन का दूसरा भाग बहतर रहेगा। आज धन सम्बन्धी कोई बुरी खबर मिल सकती है। किसी प्रकार का कोई नुकसान हो सकता है, सावधानी बरतें। आज किसी को उधार न दें और यदि कोई उधार लिया हुआ है तो उसे जल्द से जल्द उतारने का प्रयास करें। आज किसी प्रकार का दान अवश करें।

वृष
अपने जीवन की दिशा को लेकर मन में कुछ असमंजस बना रह सकता है। आपमें भरपूर योग्यता होते हुए भी आप अपना कौशल पूरी तरह से इस्तेमाल नहीं कर पा रहे जिससे मन में असंतोष की भावना होती है। यदि आपके कुछ सपने हैं तो उन्हें पूरा करने के लिए आज कोई कदम अवश्य उठाएं चाहे वह कितना ही छोटा हो। इससे आपकी ऊर्जा को उचित दिशा मिलेगी।

मिथुन
असंतोष और परेशानी बनी रह सकती है। परिस्थिति में बदलाव हो रहा है, इसके साथ अपने आप को भी बदलने का प्रयास करें नहीं तो आपके अड़ियल स्वभाव के कारण आप अपना नुकसान कर सकते हैं। रिश्तों में भी दूसरों का नजरिया देखने का प्रयास करें तभी कोई मसला हल होगा। आपके आइडियाज बुत सराहनीय हैं किन्तु उन्हें थोड़ा प्रैक्टिकल बनाने की भी आवश्यकता है। प्रेमी या प्रेमिका से आज किसी बात पर झगड़ा हो सकता है। अपनी बातों या विचारों में अड़ियल न हों।

कर्क
जीवन में ऐसी कोई कमी नहीं है जिससे आपको चिंतित होने की आवश्यकता हो। सही समय पर आपके पास आपकी ज़रुरत के संसाधन प्राप्त हो जाते हैं। कमी केवल इस विचार में है की जीवन में आप जो पान चाहते हैं उसके लिए बहुत मेहनत करनी पड़ेगी और कमी हो सकती है। इस विचार को छोड़कर यदि मेहनत करेंगे तो सफलता जल्द ही प्राप्त होगी। अपने विचारों को कमी की बजाय सम्पन्नता पर फोकस रखें।

सिंह
मित्रों से मेलजोल करने का मौका मिलेगा फिर भी मन में एक खालीपन सा महसूस हो सकता है। थोड़ा समय मेडिटेशन में बिताएं, इससे आपके मन को शान्ति मिलेगी और अध्यात्मिक प्रगति के लिए भी यह एक अच्छा कदम है। विद्यार्थियों को पढ़ाई में ध्यान देने की आवश्यकता है नहीं तो भविष्य में परेशानी हो सकती है। कम्पटीशन परीक्षा के लिए थोड़ी और मेहनत की ज़रुरत है।

कन्या
दिन कुछ परेशानियों भरा हो सकता है। किसी बात की चिंता करने की बजाय उसका हल निकालने का प्रयास करें। सब कुछ जानते बूझते हुए चुप न रहें नहीं तो इससे आपका और आपके प्रियजनों का नुकसान हो सकता है। आज निजी जीवन से संबंधित कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेने से पहले किसी से सलाह अवश्य करें। आज अपने मूड स्विंग को नियंत्रण में रखें।

तुला
कुछ समय से चली आ रही परेशानियों का हल जल्द ही मिलेगा। जीवन में उन्नति करना चाहते हैं और लक्ष्य भी बनाएं हुए हैं, परन्तु प्रयास की कमी है जिस कारण आपको कई बार निराश होना पड़ा है। यह दिन आपके लिए कई बदलाव ला रहा है। इसका पूरा फायदा उठाने के लिए आज से ही अपने प्रयास में कोई कमी न होने दें। जल्द ही आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो सकती हैं
वृश्चिक
दिन रचनात्मक ऊर्जा की अधिकता रहेगी। इसे उचित दिशा प्रदान करेंगे तो लाभ होगा। इसके साथ साथ आज यह भी आवश्यक है की आप प्रयास करने के साथ प्रयास को फलित होने का भी मौका दें। धैर्य और संयम से काम लें। धन लाभ के योग हैं। किसी भी प्रकार की कमी नहीं है। केवल अपने व्यवहार में संयम बनाएं रखें।

धनु
किसी बात को लेकर चिंता बनी हुई है। उसका जल्द ही हल मिलेगा। आपका आज काम में फोकस बहुत अच्छा बना हुआ है, इसका उपयोग अपना काम करने में करें। अपने व्यापार या व्यवसाय के बारे में गंभीरता से विचार करें। मन से किसी भी प्रकार के भय को मिटा दें। आप जैसा चाहते हैं आपके जीवन में वैसे बदलाव जल्द ही आयेंगे।

मकर
किसी भी बात में टालमटोल न करें नहीं तो यह स्वभाव आपके लिए भविष्य में नुकसानदायक हो सकता है। आये हुए अवसर हाथ से निकल सकते हैं। आज मन और मस्तिष्क में एक नयी ऊर्जा बनी रहेगी, इसे उचित दिशा में लगायें तो सफलता मिलेगी। जो भी अपने जीवन में चाहते हैं उसके लिए यूनिवर्स या ईश्वर को धन्यवाद दें और चमत्कार देखें। आज आपको कई अवसर ऐसे मिल सकते हैं जिनसे जीवन में उन्नति हो सकती है।

कुम्भ
यदि किसी के लिए मन में कड़वाहट हो तो उसे माफ़ ज़रूर करें। इससे आपकी सेहत बेहतर होगी और आपके कर्म अच्छे होंगे। व्यर्थ चिंता न करें। परिस्थिति जल्द ही अनुकूल ही जाएगी। परिस्थिति के प्रति अनासक्ति का भाव रखें, इससे आपको लाभ होगा। नकारात्मक सोच से बचें और नकारात्मक सोच रखने वाले व्यक्तियों से भी दूर रहें। किसी भी स्थिति में निर्णय लेने से पहले थोड़ा इंतज़ार करलें तो अच्छा रहेगा।

मीन
आपके मन में तनावपूर्ण स्थिति रह सकती है। मन में बहुत से विचार चल रहे हैं किन्तु उन्हें लागू नहीं कर पा रहे हैं जिस कारण दुविधा हो सकती है। दूसरों पर भरोसा करना सीखें। परफेक्शन पर इतना ध्यान न दें की उससे आपके स्वास्थ्य,

मन की शान्ति
और रिश्तों पर भी नकारात्मक असर हो। सकारात्मक दृष्टिकोण रखने का प्रयास करें
जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं
अंक ज्योतिष के अनुसार आपका मूलांक 3 आता है। यह बृहस्पति का प्रतिनिधि अंक है। ऐसे व्यक्ति निष्कपट, दयालु एवं उच्च तार्किक क्षमता वाले होते हैं। अनुशासनप्रिय होने के कारण कभी-कभी आप तानाशाह भी बन जाते हैं। आप दार्शनिक स्वभाव के होने के बावजूद एक विशेष प्रकार की स्फूर्ति रखते हैं। आपकी शिक्षा के क्षेत्र में पकड़ मजबूत होगी। आप एक सामाजिक प्राणी हैं। आप सदैव परिपूर्णता या कहें कि परफेक्शन की तलाश में रहते हैं यही वजह है कि अकसर अव्यवस्थाओं के कारण तनाव में रहते हैं। 

शुभ दिनांक : 3, 12, 21, 30
 
शुभ अंक : 1, 3, 6,7, 9, 
शुभ वर्ष : 2019, 2028, 2030, 2031, 2034, 2043, 2049, 2052

ईष्टदेव : देवी सरस्वती, देवगुरु बृहस्पति, भगवान विष्णु

शुभ रंग : पीला , सुनहरा और गुलाबी

कैसा रहेगा यह वर्ष
वर्ष आपके लिए अत्यंत सुखद है। किसी विशेष परीक्षा में सफलता मिल सकती है। नौकरीपेशा के लिए प्रतिभा के बल पर उत्तम सफलता का है। नवीन व्यापार की योजना भी बन सकती है। दांपत्य जीवन में सुखद स्थिति रहेगी। घर या परिवार में शुभ कार्य होंगे। मित्र वर्ग का सहयोग सुखद रहेगा। शत्रु वर्ग प्रभावहीन होंगे। महत्वपूर्ण कार्य से यात्रा के योग भी है।
🙏🌹🌷🌹🌷🌹🌷🌹🌷🙏

Spread the love

Related posts

Leave a Comment

4 + 14 =

WhatsApp chat