Dharma & Karma 

👫मिथुन राशि के लोगों को उत्साहवर्धक सूचना मिलेगी, स्वाभिमान बना रहेगा, लेकिन आपकी राशि में क्या है? क्या होगा??

आचार्य रमेश चन्द्र तिवारी धानिवबांग नालासोपारा पालघर महाराष्ट्र 🙏
सम्पर्क सूत्र – 9518782511
🙏🌹🌷🌹🌷🌹🌷🌹🌷🙏
🙏🌹🙏 अथ पंचांगम् 🙏🌹🙏
🙏ll जय श्री राधे ll*🙏
🙏🌹🌷🌹🌷🌹🌷🌹🌷🙏

दिनाँक -: 12/12/2019,गुरुवार
पूर्णिमा, शुक्ल पक्ष
मार्गशीर्ष
“””””””””””””””””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ———पूर्णिमा 10:42:04 तक
पक्ष —————————-शुक्ल
नक्षत्र ———मृगशिरा30:18:03
योग ————-साघ्य 13:50:06
करण ————भाव 10:42:04
करण ———-बालव 22:22:35
वार ————————-गुरूवार
माह ————————मार्गशीर्ष
चन्द्र राशि —-वृषभ 18:23:12
चन्द्र राशि ——————–मिथुन
सूर्य राशि ——————- वृश्चिक
रितु —————————-हेमंत
आयन ——————-दक्षिणायण
संवत्सर ———————-विकारी
संवत्सर (उत्तर) ———-परिधावी
विक्रम संवत —————-2076
विक्रम संवत (कर्तक) —-2076
शाका संवत —————-1941

मुम्बई
सूर्योदय —————–07:03:08
सूर्यास्त —————–18:00:55
दिन काल —————10:57:46
रात्री काल ————-13:02:48
चंद्रोदय —————–18:17:02
चंद्रास्त —————–31:41:36

लग्न —-वृश्चिक 25°35′ , 235°35′

सूर्य नक्षत्र ——————-ज्येष्ठा
चन्द्र नक्षत्र —————-मृगशिरा
नक्षत्र पाया ——————-लोहा

          *🌹पद, चरण🌹*

वे —-मृगशिरा 12:23:19

वो —-मृगशिरा 18:23:12

का —-मृगशिरा 24:21:25

की —-मृगशिरा 30:18:03

         *🌹ग्रह गोचर🌹*

ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद

सूर्य=वृश्चिक 25°32 ‘ ज्येष्ठा, 3 यी
चन्द्र = वृष 10°23 ‘मृगशिरा ‘ 1 वे
बुध = वृश्चिक 09°10 ‘अनुराधा’ 2 नी
शुक्र= धनु 25 ° 55, पू o षा o ‘ 4 ढा
मंगल=तुला 20°40 ‘ विशाखा ‘ 1 ती
गुरु=धनु 06°30 ‘ मूल , 3 भा
शनि=धनु 24°43′ पू oषा o ‘ 4 ढा
राहू=मिथुन 16 °20 ‘ आर्द्रा , 3 ङ
केतु=धनु 15 ° 20′ पूo षाo, 1 भू

     *🌹शुभा$शुभ मुहूर्त🌹*

राहू काल 13:31 – 14:49 अशुभ
यम घंटा 07:01 – 08:19 अशुभ
गुली काल 09:37 – 10:55 अशुभ
अभिजित 11:52 -12:34 शुभ
दूर मुहूर्त 10:29 – 11:10 अशुभ
दूर मुहूर्त 14:38 – 15:20 अशुभ

🌹 चोघडिया, दिन
शुभ 07:01 – 08:19 शुभ
रोग 08:19 – 09:37 अशुभ
उद्वेग 09:37 – 10:55 अशुभ
चर 10:55 – 12:13 शुभ
लाभ 12:13 – 13:31 शुभ
अमृत 13:31 – 14:49 शुभ
काल 14:49 – 16:06 अशुभ
शुभ 16:06 – 17:24 शुभ

🌹चोघडिया, रात
अमृत 17:24 – 19:07 शुभ
चर 19:07 – 20:49 शुभ
रोग 20:49 – 22:31 अशुभ
काल 22:31 – 24:13* अशुभ
लाभ 24:13* – 25:55* शुभ
उद्वेग 25:55* – 27:37* अशुभ
शुभ 27:37* – 29:20* शुभ
अमृत 29:20* – 31:02* शुभ

नोट*– दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है।
प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है।
चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥
रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार ।
अमृत में काम सभी करो , सहाय करो कर्तार ॥
अर्थात- चर में वाहन,मशीन आदि कार्य करें ।
उद्वेग में भूमि सम्बंधित एवं स्थायी कार्य करें ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार ,सगाई व चूड़ा पहनना आदि कार्य करें ।
लाभ में व्यापार करें ।
रोग में जब रोगी रोग मुक्त हो जाय तो स्नान करें ।
काल में धन संग्रह करने पर धन वृद्धि होती है ।
अमृत में सभी शुभ कार्य करें ।

🌹 दिशा शूल ज्ञान————-दक्षिण
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा केशर खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l
भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll

🌹 अग्नि वास ज्ञान -:
यात्रा विवाह व्रत गोचरेषु,
चोलोपनिताद्यखिलव्रतेषु ।
दुर्गाविधानेषु सुत प्रसूतौ,
नैवाग्नि चक्रं परिचिन्तनियं ।। महारुद्र व्रतेSमायां ग्रसतेन्द्वर्कास्त राहुणाम्
नित्यनैमित्यके कार्ये अग्निचक्रं न दर्शायेत् ।।

   15 + 5 + 1 =  21 ÷ 4 = 1 शेष

पाताल लोक पर अग्नि वास हवन के लिए अशुभ कारक है l

🌹 शिव वास एवं फल -:

15 + 15 + 5 = 35 ÷ 7 = 0 शेष

शमशान वास = मृत्यु कारक

🌹भद्रा वास एवं फल -:

स्वर्गे भद्रा धनं धान्यं ,पाताले च धनागम:।
मृत्युलोके यदा भद्रा सर्वकार्य विनाशिनी।।

    *🌹विशेष जानकारी🌹*
  • उदया पूर्णिमा
  • अन्नपूर्णा जयन्ती
  • छप्पन भोग दाऊजी *🌹शुभ विचार🌹*

एकवृक्षे समारूढा नानावर्णा बिहंगमाः ।
प्रभाते दिक्षु दशसु का तत्र परिवेदना ? ।।
।।चा o नी o।।

रात्रि के समय कितने ही प्रकार के पंछी वृक्ष पर विश्राम करते है. भोर होते ही सब पंछी दसो दिशाओ में उड़ जाते है. हम क्यों भला दुःख करे यदि हमारे अपने हमें छोड़कर चले गए.

    *🌹सुभाषितानि🌹*

गीता -: दैवासुरसम्पद्विभागयोग अo-16

तेजः क्षमा धृतिः शौचमद्रोहोनातिमानिता।,
भवन्ति सम्पदं दैवीमभिजातस्य भारत॥,

तेज (श्रेष्ठ पुरुषों की उस शक्ति का नाम ‘तेज’ है कि जिसके प्रभाव से उनके सामने विषयासक्त और नीच प्रकृति वाले मनुष्य भी प्रायः अन्यायाचरण से रुककर उनके कथनानुसार श्रेष्ठ कर्मों में प्रवृत्त हो जाते हैं), क्षमा, धैर्य, बाहर की शुद्धि (गीता अध्याय 13 श्लोक 7 की टिप्पणी देखनी चाहिए) एवं किसी में भी शत्रुभाव का न होना और अपने में पूज्यता के अभिमान का अभाव- ये सब तो हे अर्जुन! दैवी सम्पदा को लेकर उत्पन्न हुए पुरुष के लक्षण हैं॥,3॥,

  *🌹व्रत पर्व विवरण*🌹

🌹 विशेष – पूर्णिमा के दिन तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)

🌹 बुद्धि बढ़ाने का प्रयोग 🌹
👉🏻 – सात ग्राम जौ रात को भिगा दो और सुबह जरा सा सौंठ पाउडर मिलाकर चबा-चबा के खाओ और थोडा पानी पी लो । बुद्धि बढ़ेगी |
👭 – बच्चे हैं तो तीन काजू, बड़े हैं तो चार–पांच काजू जरा-सा शहद लगाकर खूब चबा-चबा कर खायें…. बुद्धि बढ़ेगी |
🌞 – सूर्यनारायण को अर्घ्य दें, तुलसी के पांच-सात पत्ते चबा-चबा कर खायें, बुद्धि बढती है |
🕉 – ॐकार का उच्चारण करें भ्रूमध्‍य में ॐकार को, गुरु को देखें, बुद्धि बढती है |

🌹दुर्भाग्य को सौभाग्य में बदलने के लिए 🌹
💵 यदि आपको धन संबंधी कोई समस्या है या घर में बरकत नहीं रहती है तो इन 4 में से कोई एक उपाय अपनाकर आप अपनी ये समस्या दूर कर सकते हैं ….
🌹 केले पर चढ़ाएं दूध
केले के पौधे की जड़ में रोजाना जल अर्पित करें । गुरुवार के दिन थोड़ा सा कच्चा दूध भी चढ़ाएं ।
🌹 बहेड़ा की जड़
बहेड़ा वृक्ष की जड़ व उसका एक पत्ता लाकर पैसे रखने वाले स्थान पर रख लें। घर में कभी भी दरिद्रता नहीं रहेगी ।
🌹 मदार की जड़
रविपृष्य नक्षत्र में लाई गई मदार की जड़ को दाहिने हाथ में धारण करने से आर्थिक समृद्धि में वृद्धि होती हैं ।
🌹शंखपुष्पी की जड़
शंखपुष्पी की जड़ शुभ मुहूर्त में लाकर चांदी की डिब्बी में घर की तिजोरी में रख लें । यह धन और समृद्धि दायक है ।

🌹 रसायन 🌹
🍏 आवले का रस.., वो तो रसायन है | आवले का रस १० ग्राम, १० ग्राम मिश्री, १० ग्राम घी, सुबह-सुबह नाश्ते में लें खाली पेट | शरीर मजबूत बनेगा !!

Presents
     *🌹दैनिक राशिफल🌹*

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

🐏मेष
दौड़धूप अधिक रहेगी। बुरी खबर मिल सकती है। वाणी पर नियंत्रण रखें। दुष्टजन हानि पहुंचा सकते हैं। समाज में आपके कार्यों की आलोचना होगी। राजकीय सहयोग मिलेगा एवं इस क्षेत्र के व्यक्तियों से संबंध बढ़ेंगे। वाणी पर संयम रखें।

🐂वृष
मेहनत सफल रहेगी। कार्य की प्रशंसा होगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। ऐश्वर्य के साधन मिलेंगे। विद्यार्थियों को प्रतियोगिता में सफलता मिलेगी। व्यापार अच्छा चलेगा। कार्य निर्णय बहुत शांति से विचार करके करना ही शुभ है।

👫मिथुन
पुराने मित्र व संबंधियों से मुलाकात होगी। उत्साहवर्धक सूचना मिलेगी। स्वाभिमान बना रहेगा। नौकरी में मनचाही पदोन्नति मिलने के योग बनेंगे। स्वास्थ्य की ओर ध्यान दें। रुका धन मिलेगा। व्यापार में नए अनुबंध होंगे। अजनबियों पर विश्वास न करें।

🦀कर्क
यात्रा, निवेश व नौकरी मनोनुकूल रहेंगे। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। जोखिम न उठाएं। प्रसन्नता रहेगी। धर्म के कार्यों में रुचि आपके मनोबल को ऊंचा करेगी। आर्थिक स्थिति में सुधार की संभावना है। व्ययों में कमी करना चाहिए।

🐅सिंह
फालतू खर्च होगा। शारीरिक कष्ट संभव है। दूसरों पर अतिविश्वास न करें। वस्तुएं संभालकर रखें। आपकी मिलनसारिता व धैर्यवान प्रवृत्ति आपके जीवन में आनंद का संचार करेगी। स्थायी संपत्ति में वृद्धि होगी। व्यापार अच्छा चलेगा।

🙎कन्या
डूबी हुई रकम प्राप्त होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। प्रसन्नता रहेगी। सार्वजनिक कार्यों में समय व्यतीत होगा। संतान की ओर से शुभ समाचार मिलेंगे। स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। रोजगार के क्षेत्र में उन्नति होगी।

⚖तुला
घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। योजना फलीभूत होगी। नए अनुबंध होंगे, प्रयास करें। प्रसन्नता रहेगी। उत्तम मनोबल आपकी सभी समस्याओं को हल कर देगा। प्रतिष्ठित जनों से मेलजोल बढ़ेगा। व्यापार में नए प्रस्ताव मिलेंगे।

🦂वृश्चिक
राजकीय बाधा दूर होगी। पूजा-पाठ में मन लगेगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। निवेश शुभ रहेगा। प्रसन्नता रहेगी। अपनी वस्तुएं संभालकर रखें। जीवनसाथी से मतभेद। व्यवहारकुशलता से समस्या का समाधान हो सकेगा। वाहन सावधानी से चलाएं।

🏹धनु
वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। विवाद को बढ़ावा न दें। कुसंगति से हानि होगी। आय कम होगी। नए संबंध लाभदायी सिद्ध होंगे। व्यावसायिक क्षेत्र में सफलता का विशेष योग है। व्यापारिक निर्णय जल्दबाजी में न लें।

🐊मकर
राजकीय बाधा दूर होगी। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। चिंता रहेगी। प्रमाद न करें। परेशानियों का मुकाबला करके भी लक्ष्य को प्राप्त कर सकेंगे। शिक्षा व ज्ञान में वृद्धि होगी। अधूरे पड़े काम पूरे होने के योग हैं।

🍯कुंभ
संपत्ति के कार्य लाभ देंगे। शत्रु परास्त होंगे। बेरोजगारी दूर होगी। यात्रा, नौकरी व निवेश लाभदायक रहेंगे। व्यापार में कर्मचारियों पर अधिक विश्वास न करें। आर्थिक स्थिति कमजोर रहेगी। संतान की शिक्षा संबंधी समस्या रह सकती है।

🐟मीन
यात्रा मनोरंजक रहेगी। रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। व्यवसाय ठीक चलेगा। प्रसन्नता बनी रहेगी। आय में अधिक व्यय से मनोबल कमजोर पड़ सकता है। कार्य, व्यवसाय के क्षेत्र में विभिन्न बाधाओं से मन अशांत रहेगा।

🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏

Spread the love

Written by 

Related posts

WhatsApp chat