कुंभ राशि को देखकर चौकिए मत आप जानिए अपने राशि की दशा और स्थिति आचार्य रमेश जी से

आचार्य रमेश चन्द्र तिवारी

सम्पर्क सूत्र : +91 9518782511
🌹🌹

🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸
******|| जय श्री राधे ||******
🙏🌸🙏 *अथ पंचांगम्* 🙏🌸🙏
*******ll जय श्री राधे ll*******
🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸

*दिनाँक -: 31/07/2019,बुधवार*
चतुर्दशी, कृष्ण पक्ष
श्रावण””””””'””'””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि———–चतुर्दशी11:57:26 तक
पक्ष—————————–कृष्ण
नक्षत्र————पुनर्वसु14:40:31
योग—————–वज्र19:05:16
करण————शकुनी11:57:26
करण———-चतुष्पदा22:22:01
वार—————————बुधवार
माह—————————श्रावण
चन्द्र राशि——-मिथुन 09:14:36
चन्द्र राशि———————–कर्क
सूर्य राशि———————–कर्क
रितु——————————वर्षा
आयन——————-दक्षिणायण
संवत्सर———————-विकारी
संवत्सर (उत्तर)———–परिधावी
विक्रम संवत—————–2076
विक्रम संवत (कर्तक)——-2075
शाका संवत——————1941

वृन्दावन
सूर्योदय—————–05:42:54
सूर्यास्त——————19:08:00
दिन काल—————13:25:06
रात्री काल————–10:35:25
चंद्रोदय—————–06:02:06
चंद्रास्त——————18:40:01

लग्न—-कर्क13°25′ , 103°25′

सूर्य नक्षत्र———————-पुष्य
चन्द्र नक्षत्र——————-पुनर्वसु
नक्षत्र पाया——————–रजत

*🚩💮🚩 पद, चरण 🚩💮🚩*

हा—-पुनर्वसु 09:14:364

ही—-पुनर्वसु 14:40:31

हु—-पुष्य 20:04:592

हे—-पुष्य 25:28:10

*💮🚩💮 ग्रह गोचर 💮🚩💮*

ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद
=======================
सूर्य=कर्क 13 ° 52 ‘ पुष्य , 4 ड
चन्द्र =मिथुन 11°23′ पुनर्वसु’ 3 हा
बुध=कर्क 00°30 ‘ पुनर्वसु’ 3 हा
शुक्र= कर्क 09 ° 30, पुष्य 2 हे
मंगल=कर्क 24 ° 38 ‘आश्लेषा’ 3 डे
गुरु=वृश्चिक 20°21 ‘ ज्येष्ठा , 2 या
शनि=धनु 22°43’ पू oषा o ‘ 3 फा
राहू=मिथुन 22°30 ‘ पुनर्वसु , 2 को
केतु=धनु 22 ° 30’ पूo षाo, 4 ढा

*🚩💮🚩शुभा$शुभ मुहूर्त🚩💮🚩*

राहू काल 12:25 – 14:06अशुभ
यम घंटा 07:24 – 09:04अशुभ
गुली काल 10:45 – 12:25अशुभ
अभिजित 11:59 -12:52अशुभ
दूर मुहूर्त 11:59 – 12:52अशुभ

💮चोघडिया, दिन
लाभ 05:43 – 07:24शुभ
अमृत 07:24 – 09:04शुभ
काल 09:04 – 10:45अशुभ
शुभ 10:45 – 12:25शुभ
रोग 12:25 – 14:06अशुभ
उद्वेग 14:06 – 15:47अशुभ
चर 15:47 – 17:27शुभ
लाभ 17:27 – 19:08शुभ

🚩चोघडिया, रात
उद्वेग 19:08 – 20:27अशुभ
शुभ 20:27 – 21:47शुभ
अमृत 21:47 – 23:06शुभ
चर 23:06 – 24:26*शुभ
रोग 24:26* – 25:45*अशुभ
काल 25:45* – 27:05*अशुभ
लाभ 27:05* – 28:24*शुभ
उद्वेग 28:24* – 29:43*अशुभ

💮होरा, दिन
बुध 05:43 – 06:50
चन्द्र 06:50 – 07:57
शनि 07:57 – 09:04
बृहस्पति 09:04 – 10:11
मंगल 10:11 – 11:18
सूर्य 11:18 – 12:25
शुक्र 12:25 – 13:33
बुध 13:33 – 14:40
चन्द्र 14:40 – 15:47
शनि 15:47 – 16:54
बृहस्पति 16:54 – 18:01
मंगल 18:01 – 19:08

🚩होरा, रात
सूर्य 19:08 – 20:01
शुक्र 20:01 – 20:54
बुध 20:54 – 21:47
चन्द्र 21:47 – 22:40
शनि 22:40 – 23:33
बृहस्पति 23:33 – 24:26
मंगल 24:26* – 25:19
सूर्य 25:19* – 26:12
शुक्र 26:12* – 27:05
बुध 27:05* – 27:58
चन्द्र 27:58* – 28:50
शनि 28:50* – 29:43

*नोट*– दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है।
प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है।
चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥
रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार ।
अमृत में काम सभी करो , सहाय करो कर्तार ॥
अर्थात- चर में वाहन,मशीन आदि कार्य करें ।
उद्वेग में भूमि सम्बंधित एवं स्थायी कार्य करें ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार ,सगाई व चूड़ा पहनना आदि कार्य करें ।
लाभ में व्यापार करें ।
रोग में जब रोगी रोग मुक्त हो जाय तो स्नान करें ।
काल में धन संग्रह करने पर धन वृद्धि होती है ।
अमृत में सभी शुभ कार्य करें ।

*💮दिशा शूल ज्ञान————–उत्तर*
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो पान अथवा पिस्ता खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
*शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l*
*भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll*

*🚩 अग्नि वास ज्ञान -:*
*यात्रा विवाह व्रत गोचरेषु,*
*चोलोपनिताद्यखिलव्रतेषु ।*
*दुर्गाविधानेषु सुत प्रसूतौ,*
*नैवाग्नि चक्रं परिचिन्तनियं ।।* *महारुद्र व्रतेSमायां ग्रसतेन्द्वर्कास्त राहुणाम्*
*नित्यनैमित्यके कार्ये अग्निचक्रं न दर्शायेत् ।।*

15 + 14 + 4 + 1 = 34 ÷ 4 = आकाश शेष
पृथ्वी लोक पर अग्नि वास हवन के लिए अशुभ कारक है l

*💮 शिव वास एवं फल -:*

29 + 29 + 5 = 63 ÷ 7 = 0 शेष

शमशान भूमि = मृत्यु कारक

*🚩भद्रा वास एवं फल -:*

*स्वर्गे भद्रा धनं धान्यं ,पाताले च धनागम:।*
*मृत्युलोके यदा भद्रा सर्वकार्य विनाशिनी।।*

*💮🚩 विशेष जानकारी 🚩💮*

* पितृकार्य अमावश्या

*💮🚩💮 शुभ विचार 💮🚩💮*

गुरुरग्निर्द्वि जातीनां वर्णानां ब्राह्मणो गुरुः ।
पतिरेव गुरुः स्त्रीणां सर्वस्याभ्यागतो गुरुः ।।
।।चाo नी o।।

ब्राह्मणों को अग्नि की पूजा करनी चाहिए . दुसरे लोगों को ब्राह्मण की पूजा करनी चाहिए . पत्नी को पति की पूजा करनी चाहिए तथा दोपहर के भोजन के लिए जो अतिथि आये उसकी सभी को पूजा करनी चाहिए .

*🚩💮🚩 सुभाषितानि 🚩💮🚩*

गीता -: विश्वरूपदर्शनयोग अo-11

लेलिह्यसे ग्रसमानः समन्ताल्लोकान्समग्रान्वदनैर्ज्वलद्भिः ।,
तेजोभिरापूर्य जगत्समग्रंभासस्तवोग्राः प्रतपन्ति विष्णो ॥,

आप उन सम्पूर्ण लोकों को प्रज्वलित मुखों द्वारा ग्रास करते हुए सब ओर से बार-बार चाट रहे हैं।, हे विष्णो! आपका उग्र प्रकाश सम्पूर्ण जगत को तेज द्वारा परिपूर्ण करके तपा रहा है॥,30॥,

*💮🚩 दैनिक राशिफल 🚩💮*

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

🐏मेष
आज का दिन शुभ है। मन में प्रसन्नता बनी रहेगी तथा तनावमुक्त दिन रहेगा। आत्मविश्वास बना रहेगा। कार्य करते हुए मन में प्रसन्नता बनी रहेगी। किसी भी परिस्थिति में सही निर्णय ले पाएंगे। वर्तमान में आपका दिमाग बहुत सक्रिय है इसलिए बौद्धिक संबंधी कार्य आप अच्छे से कर पाएंगे। परिवार से आपको पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। घर में सभी से प्रेमपूर्ण वातावरण रहेगा।

🐂वृष
आज का दिन सामान्य है। मन में अस्थिरता बनी रहेगी। कार्य करने में शिथिलता रहेगी। अपने अंदर ऊर्जा की कमी महसूस करेंगे। कठिन परिस्थितियों में निर्णय लेने में असमंजस रहेगा। किसी बात को लेकर परिवार में छोटे सदस्यों से विवाद हो सकता है। भाइयों का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। माता का सहयोग बना रहेगा, परंतु माता का स्वास्थ्य खराब हो सकता है। संतान को पूर्ण सफलता न मिलने से मन दु:खी रहेगा।

👫मिथुन
आज का दिन शुभ है। मन में प्रसन्नता बनी रहेगी तथा ऊर्जा द्वारा अपने सभी कार्य संपन्न कर पाएंगे। कठिन से कठिन परिस्थिति में बिलकुल सही निर्णय ले पाएंगे। दिमाग बहुत सक्रिय रहेगा। इससे बौद्धिक कार्य को करने में सहायता मिलेगी। परिवार व कुटुम्ब का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। समाज में मान-सम्मान बढ़ेगा। माता का स्वास्थ्य कुछ खराब हो सकता है।

🦀कर्क
आज का दिन शुभ नहीं है। मन में तनाव बना रहेगा तथा अस्थिरता बनी रहेगी। मन में ऊर्जा की कमी महसूस होगी। किसी कारण से परिवार में विवाद हो सकता है। मन में क्रोध अधिक उत्पन्न होगा, परंतु आप अधिक क्रोध न करें, नहीं तो विवाद हो सकता है। माता के प्रति लगाव बना रहेगा। माता के आशीर्वाद से आपको सफलता प्राप्त होगी। संतान पक्ष संबंधी कार्य पूर्ण होंगे।

🐅सिंह
आज का दिन शुभ है। मन में प्रसन्नता बनी रहेगी। आत्मविश्वास भरपूर बना रहेगा। कार्य करने में भरपूर ऊर्जा का अनुभव होगा। निर्णय लेने की क्षमता अत्यधिक बढ़ जाएगी। माता के भाग्य से आपको सफलता प्राप्त होगी। भाइयों का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। संतान के लिए थोड़ा कठिन समय है, संतान का स्वास्थ्य बिगड़ सकता है या उन्हें कार्यक्षेत्र में परेशानी आ सकती है। शत्रुओं पर विजय प्राप्त कर सकेंगे।

🙎कन्या
आज का दिन सामान्य है। मन में अस्थिरता बनी रहेगी तथा एकाग्रता की कमी महसूस करेंगे। कार्य करने में ऊर्जा की कमी महसूस होगी। किसी भी कार्य में निर्णय लेने की क्षमता कम होगी। कार्यक्षेत्र में तनाव के कारण पारिवारिक वातावरण बिगड़ सकता है। व्यवसाय में आर्थिक नुकसान के योग बनते हैं। जीवनसाथी के विचारों को समझें। जीवनसाथी के द्वारा दी गई सलाह को मानें, आपको लाभ प्राप्त होगा।

⚖तुला
आज का दिन बहुत शुभ है। मन में प्रसन्नता बनी रहेगी तथा आत्मविश्वास बना रहेगा। कार्य करने में भरपूर ऊर्जा की अनुभूति होगी। निर्णय लेने की क्षमता बढ़ेगी। परिवार में सम्मान प्राप्त होगा। सामाजिक संस्था में कोई महत्वपूर्ण पद प्राप्त हो सकता है। भाइयों का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। माता-पिता की सेवा करें। उनके आशीर्वाद से आपका भाग्योदय होगा। अनुदान के लिए शुभ समय है।

🦂वृश्चिक
आज का दिन शुभ नहीं है। मन में चिंता बनी रहेगी तथा तनाव बना रहेगा। कार्य करने में ऊर्जा की कमी महसूस होगी। एकाग्रता की कमी रहेगी। किसी भी परिस्थिति में निर्णय लेने की क्षमता प्रभावित होगी। धार्मिक विचार बने रहेंगे। ईश्वर पर आस्था प्रगाढ़ रहेगी। परिवार में किसी बात को लेकर विवाद हो सकता है। माता के स्वास्थ्य में कमी महसूस होगी। संतान पक्ष के कार्यों में रुकावट आएगी।

🏹धनु
आज का दिन शुभ है। मन में प्रसन्नता बनी रहेगी तथा एकाग्रता बनी रहेगी। आत्मविश्वास भरपूर रहेगा। दिमाग अधिक सक्रिय रहेगा। परिवार में सम्मान प्राप्त होगा। समाज में पद-प्रतिष्ठा बढ़ेगी। माता का आशीर्वाद बना रहेगा। गुप्त शत्रुओं पर भी विजय प्राप्त कर सकेंगे। कार्यक्षेत्र में मजबूती प्राप्त होगी। नौकरी में सभी का सहयोग प्राप्त होगा। नौकरी में पदोन्नति होगी।

🐊मकर
आज का दिन सामान्य हैं। मन में अस्थिरता बनी रहेगी। कार्य करने में रुचि नहीं होगी। निर्णय लेने में कठिनाई उत्पन्न होगी। कानूनी मामलों में परेशानी रहेगी। भाइयों से किसी बात को लेकर विवाद हो सकता है। माता के आशीर्वाद से स्थायी संपत्ति के योग बनते हैं। जीवनसाथी का भाग्य बहुत शुभ है। उनके भाग्य से आपको स्थायी संपत्ति के योग बनते हैं।

🍯कुंभ
आज का दिन शुभ है। मन में प्रसन्नता बनी रहेगी तथा कार्य करने में भरपूर ऊर्जा प्राप्त होगी। निर्णय करने में आत्मविश्वास बना रहेगा। भाइयों का सहयोग प्राप्त होगा। माता के आशीर्वाद से स्थायी संपत्ति प्राप्त होगी। पिता की प्रेरणा से आपको सफलता मिलेगी। शत्रुओं को परास्त कर पाएंगे। ससुराल पक्ष में कोई मांगलिक कार्य हो सकता है।

🐟मीन
आज का दिन शुभ नहीं है। मन में अनजाना-सा भय बना रहेगा। शरीर में थकान महसूस करेंगे। आत्मविश्वास की कमी महसूस करेंगे। निर्णय लेने में असमंजस बना रहेगा। भाइयों से किसी बात को लेकर मतभेद हो सकते हैं। संतान के भविष्य को लेकर चिंतित रहेंगे। पिता के आशीर्वाद से सफलता प्राप्त होगी। जीवनसाथी की सलाह से आप वर्तमान की परेशानियों से बच जाएंगे।


🌸🙏व्रत पर्व विवरण🙏🌸
दर्श अमावस्या, दिवासा-रात्रि जागरण*
💥 *विशेष – चतुर्दशी और अमावस्या के दिन स्त्री-सहवास तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)
🌷 *श्रावण में रुद्राभिषेक करने का महत्व* 🌷
*“रुद्राभिषेकं कुर्वाणस्तत्रत्याक्षरसङ्ख्यया, प्रत्यक्षरं कोटिवर्षं रुद्रलोके महीयते।* *पञ्चामृतस्याभिषेकादमृत्वम् समश्नुते।। ”*
🙏🏻 *श्रावण में रुद्राभिषेक करने वाला मनुष्य उसके पाठ की अक्षर-संख्या से एक-एक अक्षर के लिए करोड़-करोड़ वर्षों तक रुद्रलोक में प्रतिष्ठा प्राप्त करता है। पंचामृत का अभिषेक करने से मनुष्य अमरत्व प्राप्त करता है।
🌷 *श्रावण मास में भूमि पर शयन* 🌷
🌷 *”केवलं भूमिशायी तु कैलासे वा समाप्नुयात” – स्कन्दपुराण*
🙏🏻 *श्रावण मास में भूमि पर शयन करने से मनुष्य कैलाश में निवास प्राप्त करता है।
🌷 *पार्थिव शिवलिंग* 🌷
🙏🏻 *जो पार्थिव शिवलिंग का निर्माण कर एकबार भी उसकी पूजा कर लेता है, वह दस हजार कल्प तक स्वर्ग में निवास करता है, शिवलिंग के अर्चन से मनुष्य को प्रजा, भूमि, विद्या, पुत्र, बान्धव, श्रेष्ठता, ज्ञान एवं मुक्ति सब कुछ प्राप्त हो जाता है | जो मनुष्य ‘शिव’ शब्द का उच्चारण कर शरीर छोड़ता है वह करोड़ों जन्मों के संचित पापों से छूटकर मुक्ति को प्राप्त हो जाता है |’*
🙏🏻 *कलियुग में पार्थिव शिवलिंग पूजा ही सर्वोपरि है ।*
*कृते रत्नमयं लिंगं त्रेतायां हेमसंभवम्*
*द्वापरे पारदं श्रेष्ठं पार्थिवं तु कलौ युगे (शिवपुराण)*
🙏🏻 *शिवपुराण के अनुसार पार्थिव शिवलिंग का पूजन सदा सम्पूर्ण मनोरथों को देनेवाला हैं तथा दुःख का तत्काल निवारण करनेवाला है |*
🌷 *पार्थिवप्रतिमापूजाविधानं ब्रूहि सत्तम ॥*
*येन पूजाविधानेन सर्वाभिष्टमवाप्यते ॥*
🙏🏻 *अग्निपुराण के अनुसार*
🌷 *त्रिसन्ध्यं योर्च्चयेल्लिङ्गं कृत्वा विल्वेन पार्थिवम् ।*
*शतैकादशिकं यावत् कुलमुद्‌धृत्य नाकभाक् ।। ३२७.१५ ।। अग्निपुराण*
🙏🏻 *जो मनुष्य प्रतिदिन तीनों समय पार्थिव लिङ्ग का निर्माण करके बिल्वपत्रों से उसका पूजन करता है, वह अपनी एक सौ ग्यारह पीढ़ियों का उद्धार करके स्वर्गलोक को प्राप्त होता है।*
🙏🏻 *स्कंदपुराण के अनुसार*
*प्रणम्य च ततो भक्त्या स्नापयेन्मूलमंत्रतः॥*
*ॐहूं विश्वमूर्तये शिवाय नम॥*
*इति द्वादशाक्षरो मूलमंत्रः॥ ४१.१०२ ॥*
🙏🏻 *”ॐ हूं विश्वमूर्तये शिवाय नमः” यह द्वादशाक्षर मूल मंत्र है। इससे शिवलिंग को स्नान कराना चाहिए।*🌸🌸

🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸
जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं
दिनांक 31 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 4 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति जिद्दी, कुशाग्र बुद्धि वाले, साहसी होते हैं। ऐसे व्यक्ति को जीवन में अनेक परिवर्तनों का सामना करना पड़ता है। जैसे तेज स्पीड से आती गाड़ी को अचानक ब्रेक लग जाए ऐसा उनका भाग्य होगा। लेकिन यह भी निश्चित है कि इस अंक वाले अधिकांश लोग कुलदीपक होते हैं। आपका जीवन संघर्षशील होता है। इनमें अभिमान भी होता है। ये लोग दिल के कोमल होते हैं किन्तु बाहर से कठोर दिखाई पड़ते हैं। इनकी नेतृत्व क्षमता के लोग कायल होते हैं।

शुभ दिनांक : 4, 8, 13, 22, 26, 31,

शुभ अंक : 4, 8,18, 22, 45, 57,
शुभ वर्ष : 2015, 2020, 2031, 2040 2060,

ईष्टदेव : श्री गणेश, श्री हनुमान,

शुभ रंग : नीला, काला, भूरा,

जन्मतिथि के अनुसार भविष्यफल :
यह वर्ष पिछले वर्ष के दुष्प्रभावों को दूर करने में सक्षम है। आपको सजग रहकर कार्य करना होगा। विवाह के मामलों में आश्चर्यजनक परिणाम आ सकते हैं। परिवारिक मामलों में सहयोग के द्वारा सफलता मिलेगी। मान-सम्मान में वृद्धि होगी, वहीं मित्र वर्ग का सहयोग मिलेगा। नवीन व्यापार की योजना प्रभावी होने तक गुप्त ही रखें। शत्रु पक्ष पर प्रभावपूर्ण सफलता मिलेगी। नौकरीपेशा प्रयास करें तो उन्नति के चांस भी है।

🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏

Spread the love

Related posts

Leave a Comment

3 × 1 =

WhatsApp chat