ब्रॉडकास्टिंग सेक्टर में बड़ा बदलाव करने की तैयारी में टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया…

टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानी ट्राई जल्द लोगों को नए साल का तोहफा देने वाला है। दरअसल ट्राई दूरसंचार के बाद अब ब्रॉडकास्टिंग सेक्टर में बड़ा बदलाव करने की तैयारी में है, जिससे उपभोक्ता कम कीमत में टीवी चैनल पैक रिचार्ज करा सकेंगे। इसके अलावा नए नियम लागू होने से पुराने चैनल की कीमतें बदल सकती है। इससे पहले अप्रैल में ट्राई ने यूजर्स के लिए नए टैरिफ नियम लागू किए थे। इन नियमों की वजह से चैनल पैक की कीमतों में बढोतरी हो गई थी। वहीं, टीवी चैनल टैरिफ की दरों में इजाफा होने की वजह को नेटवर्क कपैसिटी फी (एनसीएफ) को माना गया है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि डीटीएच और केबल टीवी यूजर्स को 153 रुपये का एनएफसी देना पड़ता है। वहीं, एनएफसी इस बात पर निर्भर करता है कि यूजर्स कितने फ्री-टू-एयर चैनल्स देख रहे हैं। साथ ही ए-ला-कारते (अलग से चुने गए चैनल) चैनल पैक की कीमत महंगी हो गई हैं। मीडिया रिपोर्ट के आधार पर कहा जा सकता है कि ट्राई इस चैनल पैक के प्राइस को कम करने पर विचार कर रहा है, जिससे यूजर्स कम कीमत में ज्यादा चैनल देख सकें।

इस समय यूजर्स को टीवी देखने के लिए दो तरह के बिल का भुगतान करना पड़ता है, जिसमें एनसीएफ और कंटेंट चार्ज शामिल है। यूजर्स की तरफ से दिया गया कंटेंट का चार्ज ब्रॉडकास्टर के अकाउंट में जाता है, तो दूसरी तरफ एनसीएफ चार्ज डीटीएच या केबल टीवी प्रदाता को दिया जाता है। इस चार्ज में यूजर्स को 100 चैनल के लिए 153 रुपये देने पड़ते हैं।

ट्राई की नई रिपोर्ट में टैरिफ नियम में बदलाव करने की बात कही गई है। वहीं, ट्राई ने नियम में बदलाव को लेकर प्रपोजल दिया है, जिससे यूजर्स कम कीमत में टीवी देख सकें। इसके अलावा एनसीएफ को यूजर की पसंद और उपलब्ध डाटा को ध्यान में रखकर तय किया जाएगा।

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

fourteen + eleven =

WhatsApp chat