कांग्रेस के 18 पार्षदों ने कर दी बगावत, हार गए मेयर, डिप्टी मेयर कैंडिडेट…

महाराष्ट्र में हाल ही में शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी के गठबंधन वाली महा विकास अघाड़ी सरकार सत्ता पर काबिज हुई है। अब इस गठबंधन सरकार को बड़ा झटका लगा है। दरअसल भिवंडी म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन के चुनावों में कांग्रेस और शिवसेना के गठबंधन को हार का सामना करना पड़ा है। खास बात ये है कि भिवंडी नगर निगम में कांग्रेस और शिवसेना का गठबंधन बहुमत में है, लेकिन पार्टी के कुछ कॉरपोरेटर्स की बगावत के चलते दोनों पार्टियों के गठबंधन को मेयर और डिप्टी मेयर के चुनाव में हार का सामना करना पड़ा है।

90 सदस्यों वाले भिवंडी नगर निगम में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी है और पार्टी ने 2017 के निगम चुनावों में 47 सीटों पर जीत दर्ज की थी। भाजपा ने 19 और शिवसेना ने 12 सीटों पर जीत हासिल की थी। वहीं कोणार्क विकास अघाड़ी नामक पार्टी ने चुनावों में 4 सीटों पर जीत दर्ज की थी।

राज्य में कांग्रेस और शिवसेना के हालिया गठबंधन से पहले भिवंडी नगर निगम चुनावों में दोनों पार्टियों का गठबंधन था। जिसके चलते 2017 में कांग्रेस के जावेद दलवी मेयर और शिवसेना के मनोज मोतीराम कातेकर डिप्टी मेयर चुने गए थे। इस साल के मेयर चुनाव में कांग्रेस और शिवसेना को झटका देते हुए कोणार्क विकास अघाड़ी पार्टी ने मेयर और डिप्टी मेयर पद पर कब्जा जमाया। भाजपा ने कोणार्क विकास अघाड़ी को समर्थन दिया है। जिसके चलते कोणार्क विकास अघाड़ी की प्रतिभा पाटिल ने कांग्रेस की निशिका राका को मेयर पद के लिए हुए चुनावों में और कोणार्क विकास अघाड़ी के ही इमरान खान ने शिवसेना के बाला चौधरी को डिप्टी मेयर पद के चुनावों में करारी शिकस्त दे दी।

कांग्रेस के 18 उम्मीदवारों ने क्रॉस वोटिंग की। रिपोर्ट के अनुसार, ये पार्षद बीते 2 दिनों से गायब भी बताए जा रहे हैं। वहीं भिवंडी नगर निगम चुनावों के नतीजों से महाराष्ट्र कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बालासाहेब थोराट ने नाराजगी जाहिर की है। थोराट ने कहा कि हमें जानकारी मिली है कि 18 कांग्रेस कॉरपोरेटर्स ने पार्टी के आधिकारिक उम्मीदवार के खिलाफ वोटिंग की। यह बेहद गंभीर मामला है। हमने स्थानीय पदाधिकारियों को क्रॉस वोटिंग करने वाले कोरपोरेटर्स के खिलाफ निष्कासन की कार्रवाई करने को कहा है। इसके साथ ही भिवंडी कांग्रेस अध्यक्ष शोएब गुड्डु को भी कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है।

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

17 − six =

WhatsApp chat