Dharma & Karma (ज्योतिष शास्त्र) 

आज का दिन आप सबके लिए बढ़िया रहेगा। शादीशुदा लोगों के गृहस्थ जीवन में हल्की फुल्की झड़प के योग बनेंगे। ध्यान रखना…

आचार्य रमेश चन्द्र तिवारी धानिवबांग नालासोपारा पालघर महाराष्ट्र 🌸🙏🌸
सम्पर्क सूत्र – 9518782511
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏
🙏🌸🙏 अथ पंचांगम् 🙏🌸🙏
🙏ll जय श्री राधे ll*🙏
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏

दिनाँक-: 18/09/2020,शुक्रवार
प्रतिपदा, शुक्ल पक्ष आश्विन अधिकमास (पुरूसोत्तम मास)
“”””””””””””””””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ———प्रतिपदा 12:50:11 तक
पक्ष —————————-शुक्ल
नक्षत्र —उत्तराफाल्गुनी 6:58:56
नक्षत्र———– हस्त 28:05:53
योग————शुक्ल 19:41:13
करण ————–बव 12:50:11
करण ———–बालव 22:59:25
वार ————————- शुक्रवार
माह ————————- आश्विन
चन्द्र राशि ——————-कन्या
सूर्य राशि ——————-कन्या
रितु —————————–शरद
आयन —————– दक्षिणायण
संवत्सर ———————-शार्वरी
संवत्सर (उत्तर) ————प्रमादी
विक्रम संवत —————-2077
विक्रम संवत (कर्तक) —-2076
शाका संवत —————-1942

मुम्बई
सूर्योदय ————— 06:27:43
सूर्यास्त —————–18:36:55
दिन काल ————-12:09:12
रात्री काल ————–11:50:58
चंद्रास्त ————– 19:38:09
चंद्रोदय —————–07:08:08

लग्न —-कन्या 1°26′ , 151°26′

सूर्य नक्षत्र ———-उत्तराफाल्गुनी
चन्द्र नक्षत्र ———उत्तराफाल्गुनी

🙏🌸पद, चरण🌸🙏

पी—–उत्तराफाल्गुनी 06:58:56
पू————– हस्त 12:15:38
ष —————- हस्त 17:32:15
ण ————– हस्त 22:48:56
ठ —————- हस्त 28:05:53

🌸 राहू काल सुबह 11:01 – 12:33 अशुभ
अभिजित 11:40 -12:20 शुभ

🌸 चोघडिया, दिन
चर 06:04 – 07:37 शुभ
लाभ 07:37 – 09:10 शुभ
अमृत 09:10 – 10:43 शुभ
काल 10:43 – 12:15 अशुभ
शुभ 12:15 – 13:48 शुभ
रोग 13:48 – 15:21 अशुभ
उद्वेग 15:21 – 16:54 अशुभ
चर 16:54 – 18:27 शुभ

🌸 चोघडिया, रात
रोग 18:27 – 19:54 अशुभ
काल 19:54 – 21:21 अशुभ
लाभ 21:21 – 22:49 शुभ
उद्वेग 22:49 – 24:16* अशुभ
शुभ 24:16* – 25:43* शुभ
अमृत 25:43* – 27:10* शुभ
चर 27:10* – 28:37* शुभ
रोग 28:37* – 30:04* अशुभ

🌸 दिशा शूल ज्ञान————-पश्चिम
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा काजू खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l
भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll

🌸अग्नि वास ज्ञान
1 + 6 + 1 = 8 ÷ 4 = 0 शेष
मृत्यु लोक पर अग्नि वास हवन के लिए शुभ कारक है l

🌸 शिव वास एवं फल
1 + 1 + 5 = 7 ÷ 7 = 7 शेष
अशुभ कारक

🙏🌸शुभ विचार🌸🙏

यथा चतुर्भिः कनकं पराक्ष्यते
निघर्षणं छेदनतापताडनैः ।
तथा चतुर्भिः पुरुषः परीक्ष्य़ते
त्यागेन शीलेन गुणेन कर्मणा ।।
।।चा o नी o।।

सोने की परख उसे घिस कर, काट कर, गरम कर के और पीट कर की जाती है. उसी तरह व्यक्ति का परीक्षण वह कितना त्याग करता है, उसका आचरण कैसा है, उसमे गुण कौनसे है और उसका व्यवहार कैसा है इससे होता है.

🌸सुभाषितानि🌸

गीता -: अक्षरब्रह्मयोग अo-08

अक्षरं ब्रह्म परमं स्वभावोऽध्यात्ममुच्यते ।,
भूतभावोद्भवकरो विसर्गः कर्मसंज्ञितः ॥,

श्री भगवान ने कहा- परम अक्षर ‘ब्रह्म’ है, अपना स्वरूप अर्थात जीवात्मा ‘अध्यात्म’ नाम से कहा जाता है तथा भूतों के भाव को उत्पन्न करने वाला जो त्याग है, वह ‘कर्म’ नाम से कहा गया है॥,3॥,

    *🌸व्रत पर्व विवरण*🌸

अधिक-षुरूषोत्तम-मल मास प्रारंभ, चन्द्र-दर्शन
विशेष – प्रतिपदा को कूष्माण्ड(कुम्हड़ा, पेठा) न खाये, क्योंकि यह धन की हानि करता है।

🌸 अमिट पुण्य अर्जित करने का अवसर-पुरुषोत्तम मास 🌸

➡️ 18 सितम्बर से 16 अक्टूबर तकपुरुषोत्तम/अधिक मास
🙏🏻अधिक मास में सूर्य की सक्रांति (सूर्य का एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश) न होने से इसे ‘मल मास’ (मलिन मास) कहा गया है। स्वामीरहित होने से यह मास देव-पितर आदि की पूजा तथा मंगल कर्मों के लिए त्याज्य माना गया। इससे लोग इसकी घोर निंदा करने लगे।
🙏🏻मल मास ने भगवान को प्रार्थना की, भगवान बोले- “मल मास नहीं, अब से इसका नाम पुरुषोत्तम मास होगा। इस महीने जो जप, सत्संग, ध्यान, पुण्य आदि करेंगे, उन्हें विशेष फायदा होगा। अंतर्यामी आत्मा के लिए जो भी कर्म करेंगे, तेरे मास में वह विशेष फलदायी हो जायेगा। तब से मल मास का नाम पड़ गया ‘पुरुषोत्तम मास’।”
🌸 विशेष लाभकारी
🙏🏻 अधिक मास में आँवला और तिल के उबटन से स्नान पुण्यदायी है और स्वास्थ्य प्रसन्नता में बढ़ोतरी करने वाला है अथवा तो आँवला, जौ तिल का मिश्रण बनाकर रखो और स्नान करते समय थोड़ा मिश्रण बाल्टी में डाल दिया। इससे भी स्वास्थ्य और प्रसन्नता पाने में मदद मिलती है। इस मास में आँवले के पेड़ के नीचे बैठकर भोजन करना अधिक प्रसन्नता और स्वास्थ्य देता है।
🙏🏻आँवले व पीपल के पेड़ को स्पर्श करने से स्नान करने का पुण्य होता है, सात्त्विकता और प्रसन्नता की बढ़ोतरी होती है। इन्हें स्नान करने के बाद स्पर्श करने से दुगुना पुण्य होता है। पीपल और आँवला सात्विकता के धनी हैं।
🙏🏻इस मास में धरती पर (बिस्तर बिछाकर) शयन व पलाश की पत्तल पर भोजन करे और ब्रह्मचर्य व्रत पाले तो पापनाशिनी ऊर्जा बढ़ती है और व्यक्तित्व में निखार आता है। इस पुरुषोत्तम मास को कई वरदान प्राप्त हैं और शुभ कर्म करने हेतु इसकी महिमा अपरम्पार है।

❌अधिक मास में वर्जित
➡️ पुरुषोत्तम मास व चतुर्मास में नीच कर्मों का त्याग करना चाहिए। वैसे तो सदा के लिए करना चाहिए लेकिन आरम्भ वाला भक्त इन्हीं महीनों में त्याग करे तो उसका नीच कर्मों के त्याग का सामर्थ्य बढ़ जायेगा। इस मास में शादी-विवाह अथवा सकाम कर्म एवं सकाम व्रत वर्जित हैं। जैसे कुएँ, बावली, तालाब और बाग़ आदि का आरम्भ तथा प्रतिष्ठा, नवविवाहिता वधू का प्रवेश, देवताओं का स्थापन (देव-प्रतिष्ठा), यज्ञोपवीत संस्कार, नामकरण, मकान बनाना, नये वस्त्र एवं अलंकार पहनना आदि। इस मास में किये गये निष्काम कर्म कई गुना विशेष फल देते हैं।

अधिक मास में करने योग्य
➡️ जप, कीर्तन, स्मरण, ध्यान, दान, स्नान आदि तथा पुत्रजन्म के कृत्य, पितृस्मरण के श्राद्ध आदि एवं गर्भाधान, पुंसवन जैसे संस्कार किये जा सकते हैं ।
🙏🏻देवी भागवत के अनुसार यदि आदि की सामर्थ्य न हो तो संतों-महापुरुषों की सेवा (उनके दैवी कार्य में सहभागी होना) सर्वोत्तम है। इससे तीर्थ, तप आदि के समान फल प्राप्त होता है। इस माह में दीपकों का दान करने से मनोकामनाएँ पूर्ण होती हैं। दुःख-शोकों का नाश होता है। वंशदीप बढ़ता है, ऊँचा सान्निध्य मिलता है, आयु बढ़ती है। इस मास में गीता के 15वें अध्याय का अर्थसहित प्रेमपूर्वक पाठ करना चाहिए। भक्तिपूर्वक सदगुरु से अध्यात्म विद्या का श्रवण करने से ब्रह्महत्याजनित पाप नष्ट हो जाते हैं तथा दिन प्रतिदिन अश्वमेध यज्ञ का फल प्राप्त होता है। निष्काम भाव से यदि श्रवण किया जाय तो जीव मुक्त हो जाता है।
🌸 व्रत विधि 🌸
🙏🏻भगवान श्रीकृष्ण इस मास की व्रत विधि एवं महिमा बताते हुए कहते हैं- “इस मास में मेरे उद्देश्य से जो स्नान (ब्राह्ममुहूर्त में उठकर भगवत्स्मरण करते हुए किया गया स्नान), दान, जप, होम, गुरु-पूजन, स्वाध्याय, पितृतर्पण, देवार्चन तथा और जो भी शुभ कर्म किये जाते हैं, वे सब अक्षय हो जाते हैं। जो प्रमाद से इस मास को खाली बिता देते हैं, उनका जीवन मनुष्यलोक में दारिद्र्य पुत्रशोक तथा पाप के कीचड़ से निंदित हो जाता है, इसमें संदेह नहीं।
🙏🏻 शंख की ध्वनि के साथ कपूर से आरती करें। ये न हों तो रूई की बाती से ही आरती कर लें। इससे अनंत फल की प्राप्ति होती है। चंदन, अक्षत और पुष्पों के साथ ताँबे के पात्र में पानी रखकर भक्ति से प्रातःपूजन के पहले या बाद में अर्घ्य दें।
शंख से वास्तु दोष भी मिटाया जा सकता है। शंख को किसी भी दिन लाकर पूजा स्थान पर पवित्र करके रख लें और प्रतिदिन शुभ मुहूर्त में इसकी धूप-दीप से पूजा की जाए तो घर में वास्तु दोष का प्रभाव कम हो जाता है। शंख में गाय का दूध रखकर इसका छिड़काव घर में किया जाए तो इससे भी सकारात्मक उर्जा का संचार होता है।
भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी को शंख बहुत प्रिय बताया गया है. धार्मिक मान्यता है जिस घर में शंख होता हैं वहां भगवान विष्णु उपस्थित होते हैं जहां भगवान विष्णु होते हैं वहीं मां लक्ष्मी भी आ जाती हैं. ऐसी मान्यता है जिस घर में शंख नहीं होता है वहां पर मां लक्ष्मी अपना निवास नहीं बनाती हैं.
🙏🏻 पुरुषोत्तम मास का व्रत दारिद्र्य, पुत्रशोक और वैधव्य का नाशक है। इसके व्रत से ब्रह्महत्या आदि सब पाप नष्ट हो जाते हैं।
🌸 विधिवत सेवते यस्तु पुरुषोत्तममादरात्।
कुलं स्वकीयमुद्धृत्य मामेवैष्यत्यसंशयम्।।
🙏🏻 पुरुषोत्तम मास के आगमन पर जो व्यक्ति श्रद्धा-भक्ति के साथ व्रत, उपवास, पूजा आदि शुभ कर्म करता है, वह निःसंदेह अपने समस्त परिवार के साथ मेरे लोक में पहुँचकर मेरा सान्निध्य प्राप्त करलेता है।

🌸 एकादशी
पद्मिनी एकादशी – 27 सितंबर 2020

🌸प्रदोष
29 सितंबर ( मंगलवार ) भौम प्रदोष व्रत ( शुक्ल )

*🌸 दैनिक राशिफल*🌸

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमांगल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत्।।

🌸 मेष
आपके लिए आज का दिन सामान्य रूप से फलदायक रहेगा। आप के खर्चों में अप्रत्याशित रूप से बढ़ोतरी होगी जो आपकी चिंता का कारण बन सकती है। सेहत का ध्यान रखना जरूरी होगा। काम के सिलसिले में दिन अच्छा रहेगा। घर में सुख रहेगा। शादीशुदा लोगों के गृहस्थ जीवन में आज कुछ तनाव देखने को मिल सकता है। प्रेम जीवन बिता रहे लोगों के लिए दिनमान ठीक-ठाक रहेगा।
🌸 वृष
आज का दिन आपके लिए बढ़िया रहेगा। शादीशुदा लोगों के गृहस्थ जीवन में हल्की फुल्की झड़प के योग बनेंगे। थोड़ा ध्यान रखना जरूरी होगा। प्रेम जीवन बिता रहे लोगों के लिए आज का दिन मान बढ़िया रहेगा। आज अपनी भावनाओं को नियंत्रण में रखना जरूरी होगा नहीं तो इमोशनल होकर बहुत कुछ कह सकते हैं जिससे आपका प्रिय दुखी हो सकता है। काम के सिलसिले में दिनमान सामान्य रहेगा। सेहत अच्छी रहेगी
🌸 मिथुन
आपके लिए आज का दिन अच्छा रहेगा। पारिवारिक जिम्मेदारियों को निभाते हुए परिवार के सदस्यों की बिगड़ते सेहत को लेकर चिंतित रहेंगे। आपकी सेहत ठीक ठाक रहेगी। काम के सिलसिले में मेहनत करने से और सही दिशा में प्रयास करने से सफलता मिलेगी। शादीशुदा लोगों के गृहस्थ जीवन के लिए आज का दिन मान बढ़िया रहेगा। आपसी समझदारी रहेगी। प्रेम जीवन बिता रहे लोगों के लिए आज का दिनमान सामान्य रहेगा।

🌸 कर्क
आपके लिए आज का दिन मध्यम फलदायक रहेगा। आपकी सेहत अच्छी रहेगी। मन में खुशी होगी। रिश्तों में प्रेम बढ़ेगा। काम के सिलसिले में दिन काफी बढ़िया रहेगा। आपकी मेहनत सफल होगी। साथी कर्मचारियों का सपोर्ट मिलेगा। शादीशुदा लोगों का गृहस्थ जीवन समझदारी से आगे बढ़ेगा। रिश्ते में रोमांस भी रहेगा। प्रेम जीवन बिता रहे लोग आज किसी बात को लेकर थोड़े गंभीर होंगे।
🌸 सिंह
आपके लिए आज का दिन अच्छा रहेगा। घर में पैसों की आवक होगी जिससे आर्थिक स्थिति बढ़िया होगी लेकिन परिवार में किसी बात को लेकर तनाव का माहौल रहेगा। हल्के खर्चे होंगे लेकिन इनकम भी ठीक रहेगी। प्रेम जीवन बिता रहे लोगों के लिए दिनमान ठीक रहेगा। शादीशुदा लोगों के गृहस्थ जीवन में तनाव बढ़ सकता है।
🌸 कन्या
आज का दिन आपके लिए बढ़िया रहेगा। आपका स्वास्थ्य मजबूत रहेगा। कामों में सफलता मिलेगी। आप किसी बड़े काम में आज हाथ डालने की कोशिश करेंगे। भविष्य में अच्छी सफलता के लिए अभी से प्रयास चालू करें। इनकम में बढ़ोतरी रहेगी। शादीशुदा लोगों का गृहस्थ जीवन आज अच्छा रहेगा। प्रेम जीवन बिता रहे लोगों के लिए दिन रोमांस से भरपूर रहेगा। एक दूसरे पर विश्वास बढ़ेगा।

🌸 तुला
आज का दिन आपके लिए मध्यम रूप से फलदायक रहेगा। आप के खर्चे यकायक बढ़ जाएंगे जो आप को चिंता में डाल सकते हैं। कुछ लोगों को लंबी ट्रैवलिंग पर जाना पड़ सकता है। काम के सिलसिले में आज का दिन आपको बिजी रखेगा। शादीशुदा लोगों के गृहस्थ जीवन में जीवन साथी आज कुछ अच्छी उपलब्धि पा सकता है। प्रेम जीवन बिता रहे लोगों के लिए आज का दिनमान सामान्य रहेगा। अपने प्रिय को घर वालों से इंट्रोड्यूस करा सकते हैं।
🌸 वृश्चिक
आपके लिए आज का दिन बहुत बढ़िया रहेगा। इनकम में जबरदस्त बढ़ोतरी देखने को मिलेगी जिससे आपका मन हर्षित होगा। शादीशुदा लोगों के गृहस्थ जीवन के लिए आज का दिन बढ़िया रहेगा। रिश्ते में रोमांस के साथ साथ आपसी समझदारी बढ़ेगी। प्रेम जीवन बिता रहे लोग भी आज के दिन को घंटों बातचीत में बिताएंगे और दिल खोल कर बात करेंगे। काम के सिलसिले में आप को बड़ी सफलता हाथ लग सकती है।
🌸 धनु
आज का दिन आपके लिए अच्छा रहने वाला है। आपका पूरा ध्यान आपके काम पर होगा जिससे आपकी काम पर पकड़ मजबूत होगी। पारिवारिक समस्याओं से छुटकारा मिलेगा। घर में सुख शांति आएगी। सेहत अच्छी रहेगी। शादीशुदा लोगों के गृहस्थ जीवन में आज का दिन खुशियां लेकर आएगा। प्रेम जीवन बिता रहे लोगों के लिए दिन थोड़ा सा तनावपूर्ण हो सकता है।


🌸 मकर
आपके लिए आज का दिन सामान्य रूप से फलदायक रहेगा। भाग्य प्रबल होगा जिससे अटके हुए भी कुछ काम पूरे हो जाएंगे। अचानक से धन प्राप्ति के योग बनेंगे। शादीशुदा लोगों के गृहस्थ जीवन के लिए दिनमान बढ़िया रहेगा। प्रेम जीवन बिता रहे लोग भी आज खुशी महसूस करेंगे।
🌸 कुंभ
आपके लिए आज का दिन सामान्य रूप से फलदायक रहेगा। आपके खर्चों में बढ़ोतरी होगी और सेहत में गिरावट आ सकती है और आप बीमार पड़ सकते हैं। बेवजह की चिंताएं आपको परेशान करेंगी और इसका असर आपके काम पर भी पड़ेगा इसलिए इनसे बचने की कोशिश करें। काम के सिलसिले में दिनमान मध्यम रहेगा। आपको अपनी कार्यकुशलता पर भरोसा रखना होगा। शादीशुदा लोगों के गृहस्थ जीवन के लिए दिनमान तनावपूर्ण रहेगा लेकिन प्रेम जीवन के लिये बहुत बढ़िया दिन है।
🌸 मीन
आज का दिन आपके लिए अच्छा रहेगा। शादीशुदा लोगों के गृहस्थ जीवन में तनाव में कमी आएगी। एक-दूसरे से प्यार बढ़ेगा। प्रेम जीवन बिता रहे लोग आज के दिन को रोमांस के सहारे आगे बढ़ाएंगे। काम के सिलसिले में दिनमान मजबूत रहेगा। आप अच्छी तरह से अपने काम को समझ कर उसे अंजाम तक पहुंचाएंगे। सेहत के मामले में दिनमान अच्छा रहेगा

🌸जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं
अंक ज्योतिष का सबसे आखरी मूलांक है नौ। आपके जन्मदिन की संख्या भी नौ है। यह मूलांक भूमि पुत्र मंगल के अधिकार में रहता है। आप बेहद साहसी हैं। आपके स्वभाव में एक विशेष प्रकार की तीव्रता पाई जाती है।

आप सही मायनों में उत्साह और साहस के प्रतीक हैं। मंगल ग्रहों में सेनापति माना जाता है। अत: आप में स्वाभाविक रूप से नेतृत्त्व की क्षमता पाई जाती है। लेकिन आपको बुद्धिमान नहीं माना जा सकता। मंगल के मूलांक वाले चालाक और चंचल भी होते हैं। आपको लड़ाई-झगड़ों में भी विशेष आनंद आता है। आपको विचित्र साहसिक व्यक्ति कहा जा सकता है।

🌸 शुभ दिनांक : 9, 18, 27
🌸 शुभ अंक : 1, 2, 5, 9, 27, 72
🌸 शुभ वर्ष : 2025, 2036, 2045
🌸 ईष्टदेव : हनुमान जी, मां दुर्गा।
🌸 शुभ रंग : लाल, केसरिया, पीला

🌸कैसा रहेगा यह वर्ष
आप अपनी शक्ति का सदुपयोग कर प्रगति की और अग्रसर होंगे। पारिवारिक विवाद सुलझेंगे। महत्वपूर्ण कार्य योजनाओं में सफलता मिलेगी। अधिकार क्षेत्र में वृद्धि संभव है। नौकरी में आ रही बाधा दूर होगी। स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा। राजनैतिक व्यक्ति सफलता का स्वाद चख सकते हैं। मित्रों स्वजनों का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी

🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

eleven − 3 =

WhatsApp chat