Dharma & Karma (ज्योतिष शास्त्र) 

आज राशिफ़ल के साथ जानिए राहु काल के बारे में, क्यों इसमें शुभ कार्य नही करना चाहिए, कब करना चाहिए, क्या करें? क्या ना करें!!मान्यता.. ऐसी बहुत सारी बातें…

आचार्य रमेश चन्द्र तिवारी धानिवबांग नालासोपारा पालघर महाराष्ट्र 🌸🙏🌸
सम्पर्क सूत्र – 9518782511
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏
🙏🌸🙏 अथ पंचांगम् 🙏🌸🙏
🙏ll जय श्री राधे ll*🙏
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏

दिनाँक -: 25/09/2020,शुक्रवार
नवमी, शुक्ल पक्ष
अधिक आश्विन
“”””””””””””””””””‘””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ———-नवमी 18:43:05 तक
पक्ष —————————शुक्ल
नक्षत्र ——-पूर्वाषाढा 18:29:58
योग ————शोभन 20:36:18
करण ———-बालव 06:47:34
करण ———कौलव 18:43:05
वार ————————-शुक्रवार
माह —————-अधिक आश्विन
चन्द्र राशि ——-धनु 24:40:40
चन्द्र राशि ——————–मकर
सूर्य राशि ——————- कन्या
रितु —————————–शरद
आयन ——————दक्षिणायण
संवत्सर ———————–शार्वरी
संवत्सर (उत्तर) ————-प्रमादी
विक्रम संवत —————-2077
विक्रम संवत (कर्तक) —-2076
शाका संवत —————-1942

मुम्बई
सूर्योदय —————-06:29:11
सूर्यास्त —————–18:30:42
दिन काल ————–12:01:41
रात्री काल ————-11:58:30
चंद्रोदय —————–14:17:15
चंद्रास्त —————–25:31:08

लग्न —-कन्या 8°17′ , 158°17′

सूर्य नक्षत्र ———उत्तराफाल्गुनी
चन्द्र नक्षत्र —————-पूर्वाषाढा
नक्षत्र पाया ———————ताम्र

🙏🌸पद, चरण🌸🙏

धा ———-पूर्वाषाढा 06:14:54
फा ———पूर्वाषाढा 12:21:22
ढा ———-पूर्वाषाढा 18:29:58
भे ———उत्तराषाढा 24:40:40

🌸 राहू काल 10:40 – 12:11 अशुभ
🌸 अभिजित 11:47 -12:35 शुभ

🌸 चोघडिया, दिन
चर 06:10 – 07:40 शुभ
लाभ 07:40 – 09:10 शुभ
अमृत 09:10 – 10:40 शुभ
काल 10:40 – 12:11 अशुभ
शुभ 12:11 – 13:41 शुभ
रोग 13:41 – 15:11 अशुभ
उद्वेग 15:11 – 16:41 अशुभ
चर 16:41 – 18:11 शुभ

🌸 चोघडिया, रात
रोग 18:11 – 19:41 अशुभ
काल 19:41 – 21:11 अशुभ
लाभ 21:11 – 22:41 शुभ
उद्वेग 22:41 – 24:11* अशुभ
शुभ 24:11* – 25:41* शुभ
अमृत 25:41* – 27:11* शुभ
चर 27:11* – 28:41* शुभ
रोग 28:41* – 30:11* अशुभ

🌸 दिशा शूल ज्ञान————-पश्चिम
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा काजू खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l
भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll

🌸 अग्नि वास ज्ञान
9 + 6 + 1 = 16 ÷ 4 = 0 शेष
मृत्यु लोक पर अग्नि वास हवन के लिए शुभ कारक है l

🌸 शिव वास एवं फल
9 + 9 + 5 = 23 ÷ 7 = 2 शेष
गौरि सन्निधौ = शुभ कारक

   *🌸शुभ विचार🌸*

वित्तेन रक्ष्यते धर्मो विद्या योगेन रक्ष्यते ।
मृदुना रक्ष्यते भूपः सत्स्त्रिया रक्ष्यते गृहम् ।।
।।चा o नी o।।

दान गरीबी को ख़त्म करता है. अच्छा आचरण दुःख को मिटाता है. विवेक अज्ञान को नष्ट करता है. जानकारी भय को समाप्त करती है.

 *🌸सुभाषितानि🌸*

गीता -: अक्षरब्रह्मयोग अo-08

अव्यक्ताद्व्यक्तयः सर्वाः प्रभवन्त्यहरागमे ।,
रात्र्यागमे प्रलीयन्ते तत्रैवाव्यक्तसंज्ञके ॥,

संपूर्ण चराचर भूतगण ब्रह्मा के दिन के प्रवेश काल में अव्यक्त से अर्थात ब्रह्मा के सूक्ष्म शरीर से उत्पन्न होते हैं और ब्रह्मा की रात्रि के प्रवेशकाल में उस अव्यक्त नामक ब्रह्मा के सूक्ष्म शरीर में ही लीन हो जाते हैं॥,18॥,

🌸 ब्रत पर्व विवरण🌸

विशेष – नवमी को लौकी खाना गोमांस के समान त्याज्य है ।

🌸 शुभ कार्य के लिए निषिद्ध काल 🌸
👉🏻 डेढ़ घंटे के लिए राहू का समय माना जाता है, इसे काल राहू कहते है ज्योतिषशास्त्र में, उस काल राहू के समय कोई शुभ काम नहीं करना चाहिए या यात्रा के लिए न निकले उससे पहले निकल जाइए या उसके बाद |
➡ सोमवार को काल राहू का समय होता है सुबह को – ७.३० बजे से ९.०० बजे तक
➡ मंगलवार को काल राहू का समय होता है दोपहर को – ३.०० बजे से ४.३० बजे तक
➡ बुधवार को काल राहू का समय होता है दोपहर को -१२.०० बजे से १.३० बजे तक
➡ गुरुवार को काल राहू का समय होता है दोपहर को – १.३० बजे से ३.०० बजे तक
➡ शुक्रवार को काल राहू का समय होता है सुबह को – १०.३० बजे से १२.०० बजे तक
➡ शनिवार को काल राहू का समय होता है सुबह को – ९.०० बजे से १०.३० बजे तक
➡ रविवार को काल राहू का समय होता है श्याम – ४.३० बजे से ६.०० बजे तक
🙏🏻 तो इस समय में शुभकार्य वर्जित है और यात्रा उस समय न करके उसके पहले या उसके बाद शुभ माना जाता है | परन्तु अगर कोई व्यक्ति जरुरी इस राहू के टाइम निकले या कुछ काम करे ह्रदयपूर्वक भगवान नाम जप करके जाये तो भगवान का नाम सर्व मंगलसों से मुक्ति भी दिलाता है | फिर भी जहाँ तहाँ अपनी भक्ति खर्च नहीं करनी चाहिये | हम जप-तप करते है की इसलिए खर्च करे |
राहु काल में क्या न करें:
*इस काल में यज्ञ नहीं करते हैं।
*इस काल में नए व्यवसाय का शुभारंभ भी नहीं करना चाहिए।
*इस काल में किसी महत्वपूर्ण कार्य के लिए यात्रा भी नहीं करते हैं।
*यदि आप कहीं घूमने की योजना बना रहे हैं तो इस काल में यात्रा की शुरुआत न करें।
*इस काल में खरीदी-बिक्री करने से भी बचना चाहिए क्योंकि इससे हानि भी हो सकती है।
*राहुकाल में विवाह, सगाई, धार्मिक कार्य या गृह प्रवेश जैसे कोई भी मांगलिक कार्य नहीं करते हैं।
*इस काल में शुरु किया गया कोई भी शुभ कार्य बिना बाधा के पूरा नहीं होता। इसलिए यह कार्य न करें।
*राहुकाल के दौरान अग्नि, यात्रा, किसी वस्तु का क्रय विक्रय, लिखा पढ़ी व बहीखातों का काम नहीं करना चाहिए। *राहु काल में वाहन, मकान, मोबाइल, कम्प्यूटर, टेलीविजन, आभूषण या अन्य कोई भी बहुमूल्य वस्तु नहीं खरीदना चाहिए।

मान्यता:
राहुकाल के विषय में मान्यता हैं कि इस समय प्रारम्भ किए गए कार्यो में सफलता के लिए अत्यधिक प्रयास करने पड़ते हैं, कार्यों में अकारण की दिक्कत आती हैं, या कार्य अधूरे ही रह जाते हैं। कुछ लोगों का मानना हैं कि राहुकाल के समय में किए गए कार्य विपरीत व अनिष्ट फल प्रदान करते हैं।

उपाय : यदि राहुकाल के समय यात्रा करना जरूरी हो तो पान, दही या कुछ मीठा खाकर निकलें। घर से निकलने के पूर्व पहले 10 कदम उल्टे चलें और फिर यात्रा पर निकल जाएं। दूसरा यदि कोई मंगलकार्य या शुभकार्य करना हो तो हनुमान चालीसा पढ़ने के बाद पंचामृत पीएं और फिर कोई कार्य करें।
🙏🏻
🌸 पंचक
28 सितंबर 09:41 सुबह से 3 अक्तूबर 08:51 सुबह तक
🌸 एकादशी
पद्मिनी एकादशी – 27 सितंबर 2020
🌸 प्रदोष
29 सितंबर ( मंगलवार ) भौम प्रदोष व्रत ( शुक्ल )

 *🌸दैनिक राशिफल🌸*

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

🐏मेष
नवीन वस्त्राभूषण पर व्यय होगा। राजकीय बाधा संभव है। नए काम मिल सकते हैं। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। अपेक्षित कार्य समय पर पूरे होने से प्रसन्नता रहेगी। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। यात्रा की योजना बनेगी।
🐂वृष
राजकीय सहयोग प्राप्त होगा। धन प्राप्ति सुगम होगी। कुंआरों को वैवाहिक प्रस्ताव प्राप्त हो सकता है। व्यय होगा। कारोबार में वृद्धि होगी। आय के नए स्रोत प्राप्त हो सकते हैं। पारिवारिक सुख-शांति बनी रहेगी। भाइयों का सहयोग समय पर मिलेगा।
👫मिथुन
झंझटों में न पड़ें। वाहन, मशीनरी व अग्नि आदि के प्रयोग में लापरवाही न करें। आय में कमी हो सकती है। धनहानि की आशंका बनती है। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। दूसरों की अपेक्षा बढ़ेगी। न चाहकर भी विवाद हो सकता है।
🦀कर्क
तंत्र-मंत्र में रुझान रहेगा। राजकीय सहयोग प्राप्त होगा। रुके कार्यों में गति आएगी। किसी तीर्थयात्रा की योजना बनेगी। प्रभावशाली व्यक्तियों से मेलजोल बढ़ेगा। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। व्यस्तता के चलते स्वास्थ्य नरम हो सकता है।


🐅सिंह
नए काम मिलने की संभावना है। आय के स्रोत बढ़ेंगे। घर-बाहर सभी तरफ से सहयोग प्राप्त होंगे। रुके कार्य पूर्ण होंगे। भाग्य की अनुकूलता है। भरपूर प्रयास करें। मित्रों का सहयोग लाभ में वृद्धि करेगा। कारोबार अच्‍छा चलेगा। नौकरी में सफलता मिलेगी।
🙍‍♀️कन्या
डूबी हुई रकम प्राप्त हो सकती है। व्यावसायिक कार्य के लिए लंबी यात्रा की योजना बनेगी। पार्टनरों का सहयोग प्राप्त होगा। निवेश शुभ रहेगा। धनलाभ में वृद्धि के योग हैं। कारोबार अच्‍छा चलेगा। पारिवारिक सुख-शांति बनी रहेगी। जल्दबाजी न करें।
⚖️तुला
किसी अपने ही वाले व्यक्ति से कहासुनी हो सकती है। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। नकारात्मकता रहेगी। यात्रा में जल्दबाजी न करें। आवश्यक वस्तु गुम हो सकती है। व्ययवृद्धि होगी। दूसरों के कार्य कर पाएंगे। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें।
🦂वृश्चिक
उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे। संपत्ति के बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। प्रतिद्वंद्विता कम होगी। रोजगार में वृद्धि होगी। आय के नए स्रोत मिलेंगे। कोई बड़ा काम होने से प्रसन्नता में वृद्धि होगी। नौकरी में अधिकार बढ़ सकते हैं। वाणी पर नियंत्रण रखें। भाग्य की अनुकूलता रहेगी।


🏹धनु
बौद्धिक कार्य सफल रहेंगे। संगीत इत्यादि में रुचि रहेगी। नए विचार मन में आएंगे। पार्टी व पिकनिक का आनंद प्राप्त होगा। स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। व्यस्तता के चलते स्वास्थ्य कमजोर हो सकता है। परिवार में सुख-शांति बनी रहेगी। लेन-देन में सावधानी रखें।
🐊मकर
दूसरों के कार्य में हस्तक्षेप न करें। वाणी में हल्के शब्दों का प्रयोग न करें। थकान व कमजोरी रह सकती है। मेहनत अधिक होगी। नौकरी में अधिकारी की अपेक्षा बढ़ेगी। कोई नकारात्मक सूचना मिल सकती है। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। आय में निश्चितता रहेगी।
🍯कुंभ
सभी तरफ से अच्‍छे समाचार प्राप्त होंगे। उत्साह व प्रसन्नता में वृद्धि होगी। काम में मन लगेगा। पुराने मित्र व रिश्तेदारों से मेल बढ़ेगा। संपर्क बनाएं। आय में वृद्धि होगी। व्यस्तता के चलते स्वास्थ्‍य खराब हो सकता है। नौकरी में मातहतों का साथ मिलेगा।
🐟मीन
सामाजिक कार्य करने के अवसर प्राप्त होंगे। मान-सम्मान मिलेगा। थोड़े प्रयास से अधिक लाभ होगा। किसी बड़े कार्य के होने की संभावना है। प्रसन्नता में वृद्धि होगी। जीवनसाथी से सहयोग प्राप्त होगा। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। आलस्य न कर भरपूर प्रयास करें।

🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

14 + three =

WhatsApp chat