Dharma & Karma (ज्योतिष शास्त्र) 

यदि घर में लक्ष्मीजी की फोटो लगानी हो! तो कैसी फोटो लगाएं? बैठी हुई ? या खड़ी हुई ? अगर आपने ऐसी फ़ोटो लगाई तो…

आचार्य रमेश चन्द्र तिवारी धानिवबांग नालासोपारा पालघर महाराष्ट्र 🌸🙏🌸
सम्पर्क सूत्र – 9518782511
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏
🙏🌸🙏 अथ पंचांगम् 🙏🌸🙏
🙏ll जय श्री राधे ll*
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏

दिनाँक -: 04/08/2020,मंगलवार
प्रतिपदा, कृष्ण पक्ष
भाद्रपद
“”””””””””””””””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ——–प्रतिपदा 21:54:16 तक
पक्ष —————————-कृष्ण
नक्षत्र ———श्रवण 08:09:49
योग ———सौभाग्य 29:13:48
करण ———-बालव 09:37:27
करण ———कौलव 21:54:16
वार ———————–मंगलवार
माह ———————— भाद्रपद
चन्द्र राशि ——मकर 20:46:00
चन्द्र राशि ——————–कुम्भ
सूर्य राशि ———————-कर्क
रितु —————————–वर्षा
आयन ——————-दक्षिणायण
संवत्सर ———————–शार्वरी
संवत्सर (उत्तर) ————-प्रमादी
विक्रम संवत —————-2077
विक्रम संवत (कर्तक)——2076
शाका संवत —————-1942

मुम्बई
सूर्योदय ————— 06:17:31
सूर्यास्त —————–19:11:19
दिन काल ————- 12:53:48
रात्री काल ————-11:06:30
चंद्रास्त —————- 06:55:59
चंद्रोदय —————–19:59:13

लग्न —-कर्क 17°59′ , 107°59′

सूर्य नक्षत्र —————आश्लेषा
चन्द्र नक्षत्र ——————-श्रवण
नक्षत्र पाया ——————–ताम्र

🙏🌸पद, चरण🌸🙏

खो —-श्रवण 08:09:49
गा —-धनिष्ठा 14:27:02
गी —-धनिष्ठा 20:46:00
गु —-धनिष्ठा 27:06:44

🌸चोघडिया, दिन
रोग 05:45 – 07:25 अशुभ
उद्वेग 07:25 – 09:05 अशुभ
चर 09:05 – 10:45 शुभ
लाभ 10:45 – 12:25 शुभ
अमृत 12:25 – 14:05 शुभ
काल 14:05 – 15:45 अशुभ
शुभ 15:45 – 17:25 शुभ
रोग 17:25 – 19:05 अशुभ

🌸चोघडिया, रात
काल 19:05 – 20:25 अशुभ
लाभ 20:25 – 21:45 शुभ
उद्वेग 21:45 – 23:05 अशुभ
शुभ 23:05 – 24:25* शुभ
अमृत 24:25* – 25:46* शुभ
चर 25:46* – 27:06* शुभ
रोग 27:06* – 28:26* अशुभ
काल 28:26* – 29:46* अशुभ

🌸दिशा शूल ज्ञान————-उत्तर
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा गुड़ खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l
भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll

🌸 अग्नि वास ज्ञान
15 + 1 + 3 + 1 = 20 ÷ 4 = 0 शेष
मृत्यु लोक पर अग्नि वास हवन के लिए शुभ कारक है l

🌸शिव वास एवं फल
16 + 16 + 5 = 37 ÷ 7 = 2 शेष
गौरि सन्निधौ = शुभ कारक

🙏🌸शुभ विचार🌸🙏

एक एव पदार्थस्तु त्रिधा भवति वीक्षितः ।
कुणपंकामिनी मांसं योगिभिः कामिभिः श्वभिः ।।
।।चा o नी o।।

एक ही वस्तु देखने वालो की योग्यता के अनुरूप बिलग बिलग दिखती है. तप करने वाले में वस्तु को देखकर कोई कामना नहीं जागती. लम्पट आदमी को हर वास्तु में स्त्री दिखती है. कुत्ते को हर वस्तु में मांस दिखता है.

🌸सुभाषितानि🌸

गीता -: राजविद्याराजगुह्ययोग अo-09

अश्रद्दधानाः पुरुषा धर्मस्यास्य परन्तप ।,
अप्राप्य मां निवर्तन्ते मृत्युसंसारवर्त्मनि ॥,

हे परंतप! इस उपयुक्त धर्म में श्रद्धारहित पुरुष मुझको न प्राप्त होकर मृत्युरूप संसार चक्र में भ्रमण करते रहते हैं॥,3॥,

🌸 व्रत पर्व विवरण🌸

गायत्री पुरश्चरण प्रारंभ, ऋक् श्रावणी, मंगलागौरी पूजन
🌸 विशेष – प्रतिपदा को कूष्माण्ड(कुम्हड़ा, पेठा) न खाये, क्योंकि यह धन का नाश करने वाला है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

🌸 वास्तु शास्त्र
🏡 यदि घर में लक्ष्मीजी की फोटो लगानी हो तो ऐसी फोटो लगाए, जिसमें वे बैठी हुई हों। जिस फोटो में लक्ष्मीजी खड़ी हुई दिखाई देती हैं, वह फोटो घर में लगाने से बचना चाहिए।

🌸 देवी महालक्ष्मी 🌸
➡ लक्ष्मी ने इंद्र को बताई थीं ये बातें, किन लोगों के घर में करती हैं निवास
🙏🏻 देवी महालक्ष्मी की कृपा से धन और सुख-समृद्धि प्राप्त होती है। लक्ष्मी कृपा के लिए पूजा-अर्चना के साथ-साथ हमारे घर का वातावरण भी शुद्ध रहना चाहिए। लक्ष्मी को कैसा वातावरण चाहिए, इस संबंध में देवी लक्ष्मी और इंद्र की एक कथा प्रचलित है। यहां जानिए उस प्रचलित कथा के आधार पर किन लोगों के घर में लक्ष्मी निवास करती हैं।
🙏🏻 कथा के अनुसार प्राचीन समय में महालक्ष्मी असुरों के यहां निवास करती थीं, लेकिन एक दिन वे देवराज इंद्र के यहां पहुंचीं और उन्होंने कहा कि इंद्र, मैं आपके यहां निवास करना चाहती हूं।
🙏🏻 इंद्र ने आश्चर्य से कहा कि हे देवी, आप तो असुरों के यहां बड़े आदरपूर्वक रहती हैं। वहां आपको कोई कष्ट भी नहीं है। मैंने पूर्व में आपसे कितनी बार निवेदन किया कि आप स्वर्ग पधारें, लेकिन आप नहीं आईं। आज आप बिन बुलाए कैसे मेरे यहां पधारी हैं? कृपया इसका कारण मुझे बताइएं।
🙏🏻 देवी लक्ष्मी ने कहा कि हे इंद्र, कुछ समय पहले असुर भी धर्मात्मा हुआ करते थे, वे अपने सभी कर्तव्य निभाते थे। अब असुर अधार्मिक हो गए हैं। इसीलिए मैं अब वहां नहीं रह सकती हूं।
🙏🏻 जिस स्थान पर प्रेम की जगह ईर्ष्या-द्वेष और क्रोध-कलह आ जाए, अधार्मिक, दुर्गुण और बुरी आदतें आ जाए, वहां मैं नहीं रह सकती। असुरों में ये सब बातें आ गई हैं। इसीलिए उन्हें छोड़कर मैं तुम्हारे यहां रहने आईं हूं।
🙏🏻 तब इंद्र ने पूछा कि देवी वे और कौन-कौन से दोष हैं? जहां आप निवास नहीं करती हैं।
🙏🏻 लक्ष्मीजी ने कहा कि जो लोग विवेक और धर्म की बात नहीं करते हैं, जो ज्ञानी लोगों का अपमान करते हैं, उन लोगों के घर में मैं निवास नहीं करती हूं। जिस घर में पाप, अधर्म, स्वार्थ रहता हैं, वहां लक्ष्मी नहीं रहती है।
🙏🏻 जो लोग गुरु, माता-पिता और बड़ों का सम्मान नहीं करते, लक्ष्मी उनके यहां निवास नहीं करती।
🙏🏻 जो संतान अपने माता-पिता से मुंहजोरी करते हैं, उनका अनादर करते हैं, बिना वजह वाद-विवाद करते हैं, लक्ष्मी ऐसे लोगों पर कृपा नहीं बरसाती।
🙏🏻 महालक्ष्मी ने कहा कि मैं उन लोगों के यहां निवास करती हूं जो धार्मिक हैं। जिस घर के सदस्य पवित्र मन वाले हैं, जो सभी को आदर-सम्मान देते हैं। जिस घर के सदस्य किसी को धोखा नहीं देते, लक्ष्मी उनके यहां निवास करती है। जो व्यक्ति दूसरों की मदद करते हैं, गरीबों को दान देते हैं, अपना कार्य पूर्ण ईमानदारी से करते हैं, लक्ष्मी कृपा प्राप्त करते हैं।

🌸पंचक
4 अगस्त
रात्रि 8.47 से 9 अगस्त सायं 7.05 बजे तक

अजा एकादशी- 15 अगस्त- दिन शनिवार

🌸 जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं
दिनांक 4 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 4 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति जिद्दी, कुशाग्र बुद्धि वाले, साहसी होते हैं। ऐसे व्यक्ति को जीवन में अनेक परिवर्तनों का सामना करना पड़ता है। जैसे तेज स्पीड से आती गाड़ी को अचानक ब्रेक लग जाए ऐसा उनका भाग्य होगा। लेकिन यह भी निश्चित है कि इस अंक वाले अधिकांश लोग कुलदीपक होते हैं।
आपका जीवन संघर्षशील होता है। इनमें अभिमान भी होता है। ये लोग दिल के कोमल होते हैं किन्तु बाहर से कठोर दिखाई पड़ते हैं। इनकी नेतृत्त्व क्षमता के लोग कायल होते हैं।

शुभ दिनांक : 4, 8, 13, 22, 26, 31

शुभ अंक : 4, 8 ,18 , 22, 45, 57

शुभ वर्ष : 2021, 2031, 2040, 2060

ईष्टदेव : श्री गणेश, श्री हनुमान

शुभ रंग : नीला, काला, भूरा

🌸 कैसा रहेगा यह वर्ष
यह वर्ष पिछले वर्ष के दुष्प्रभावों को दूर करने में सक्षम है। आपको सजग रहकर कार्य करना होगा। परिवारिक मामलों में सहयोग के द्वारा सफलता मिलेगी। मान-सम्मान में वृद्धि होगी, वहीं मित्र वर्ग का सहयोग मिलेगा।
नवीन व्यापार की योजना प्रभावी होने तक गुप्त ही रखें। शत्रु पक्ष पर प्रभावपूर्ण सफलता मिलेगी। नौकरीपेशा प्रयास करें तो उन्नति के चांस भी है। विवाह के मामलों में आश्चर्यजनक परिणाम आ सकते हैं।

🌸दैनिक राशिफल🌸

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

🐏मेष
भूमि, भवन व दुकान इत्यादि के खरीदने की योजना बनेगी। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। आय में वृद्धि होगी। प्रसन्नता रहेगी। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। सुख के साधन जुटेंगे। जोखिम न उठाएं। बुद्धि का प्रयोग करें। शोक संदेश मिल सकता है।

🐂वृष
घर-बाहर बेवजह विवाद हो सकता है। दु:खद समाचार मिल सकता है, धैर्य रखें। आत्मविश्वास में कमी रहेगी। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। पुराना रोग उभर सकता है। काम की रफ्तार धीमी रहेगी। हताशा हो सकती है। मेहनत अधिक करना पड़ेगी। जल्दबाजी में निर्णय न लें।

👫मिथुन
काम में पूरा ध्यान लगेगा। प्रयास सफल रहेंगे। भाइयों से मदद मिलेगी। कार्यसिद्धि होगी। प्रसन्नता रहेगी। कार्य में उन्नति होगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। पदोन्नति मिल सकती है। व्यवसाय ठीक चलेगा। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। सभी काम निर्धारित समय पर पूरे होंगे।

🦀कर्क
शुभ समाचार प्राप्त होंगे। घर में अतिथियों का आगमन होगा। व्यय बढ़ेगा। अनावश्यक विवाद से बचें। आर्थिक स्थिति मजबूत करने की दिशा में मदद मिलेगी। आत्मविश्वास बढ़ेगा। काम पर ध्यान दें। लाभ होगा। जल्दबाजी से काम बिगड़ सकते हैं। परिवार की चिंता रहेगी। प्रमाद न करें।

🐅सिंह
नौकरी में अधिकार बढ़ सकते हैं। भाग्योन्नति के प्रयास सफल रहेंगे। व्यावसायिक यात्रा लाभदायक रहेगी। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। सट्टे-लॉटरी के चक्कर में न पड़ें। कोई बड़ा प्रस्ताव मिल सकता है। कोई बड़ी समस्या से छुटकारा मिलेगा। चिंता में कमी होगी।

🙎‍♀️कन्या
कुछ रिश्ते तनाव का कारण बन सकते हैं। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। चिंता तथा तनाव बने रहेंगे। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। कुसंगति से हानि होगी। वाणी पर नियंत्रण रखें। कार्यों में अनावश्यक विलंब होगा।

⚖️तुला
कारोबार में वृद्धि होगी। रुका हुआ पैसा मिल सकता है। आय के नए स्रोत प्राप्त होने के योग हैं। ऐश्वर्य का साधनों पर व्यय होगा। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। आंखों में चोट लग सकती है। घर-परिवार के वृद्धजनों के स्वास्थ्य पर व्यय होगा।

🦂वृश्चिक
नेत्रों का ध्यान रखें। वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। राजकीय व्यक्तियों से मेलजोल लाभ देगा। कार्य का विस्तार होगा। नए अनुबंध हो सकते हैं। आय में वृद्धि होगी। भागदौड़ अधिक रहेगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। मान-सम्मान मिलेगा। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी।

🏹धनु
धन आगम बना रहेगा। चोट व रोग से बाधा संभव है। लेन-देन में सावधानी रखें। धर्म-कर्म में रुचि रहेगी। संत- महात्मा के साथ का अवसर प्राप्त हो सकता है। व्यापार ठीक चलेगा। निवेश शुभ रहेगा। विवेक का प्रयोग करें। लाभ में वृद्धि होगी। जल्दबाजी न करें।

🐊मकर
भय, पीड़ा, तनाव व चिंता का माहौल बन सकता है। वाणी पर नियंत्रण रखें। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। कुसंगति से हानि होगी। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। व्यापार व व्यवसाय में संतुष्टि नहीं मिलेगी। प्रयास अधिक करना पड़ेंगे। जोखिम न उठाएं।

🍯कुंभ
पुराना रोग उभर सकता है। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। क्रोध पर नियंत्रण रखें। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। कोर्ट व कचहरी के कार्य अनुकूल रहेंगे। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय बनी रहेगी। पारिवारिक जनों में प्रेम व सौहार्द बढ़ेगा। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी।

🐟मीन
घर-बाहर बेवजह विवाद हो सकता है। दु:खद समाचार मिल सकता है, धैर्य रखें। आत्मविश्वास में कमी रहेगी। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। पुराना रोग उभर सकता है। काम की रफ्तार धीमी रहेगी। हताशा हो सकती है। मेहनत अधिक करना पड़ेगी। जल्दबाजी में निर्णय न लें।

🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

5 × 5 =

WhatsApp chat