क्या कहता है आज आपका राशिफ़ल? किस राशि में धूप और किस राशि मे छाँव होगा? कहीं आपकी राशि मीन…

आचार्य रमेश चन्द्र तिवारी धानिवबांग नालासोपारा पालघर महाराष्ट्र 🌸🙏
सम्पर्क सूत्र – 9518782511
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏
🙏🌸🙏 अथ पंचांगम् 🙏🌸🙏
🙏ll जय श्री राधे ll*🙏
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏

दिनाँक -: 17/05/2020,रविवार
दशमी, कृष्ण पक्ष
ज्येष्ठ
“””””””””””””””””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ———-दशमी 12:41:42 तक
पक्ष —————————-कृष्ण
नक्षत्र ——–पू०भा० 13:57:27
योग ———विश्कुम्भ 27:30:37
करण ——विष्टि भद्र 12:41:42
करण ————भाव 25:54:38
वार ————————–रविवार
माह ————————— ज्येष्ठ
चन्द्र राशि ——कुम्भ 07:13:10
चन्द्र राशि ———————मीन
सूर्य राशि ——————-वृषभ
रितु —————————-ग्रीष्म
आयन ——————–उत्तरायण
संवत्सर ———————–शार्वरी
संवत्सर (उत्तर) ————-प्रमादी
विक्रम संवत —————-2077
विक्रम संवत (कर्तक) —-2076
शाका संवत —————-1942

मुम्बई
सूर्योदय —————-06:04:21
सूर्यास्त —————–19:05:36
दिन काल ————–13:01:15
रात्री काल ————-10:58:36
चंद्रास्त —————–14:49:06
चंद्रोदय —————–27:21:49

लग्न —-वृषभ 2°27′ , 32°27′

सूर्य नक्षत्र —————–कृत्तिका
चन्द्र नक्षत्र ———–पूर्वाभाद्रपदा
नक्षत्र पाया ———————ताम्र

  *🙏🌸पद, चरण🌸🙏*

दा —-पूर्वाभाद्रपदा 07:13:10

दी —-पूर्वाभाद्रपदा 13:57:27

दू —-उत्तराभाद्रपदा 20:42:08

थ —-उत्तराभाद्रपदा 27:27:01

🌸चोघडिया, दिन
उद्वेग 05:30 – 07:12 अशुभ
चर 07:12 – 08:53 शुभ
लाभ 08:53 – 10:34 शुभ
अमृत 10:34 – 12:16 शुभ
काल 12:16 – 13:57 अशुभ
शुभ 13:57 – 15:38 शुभ
रोग 15:38 – 17:20 अशुभ
उद्वेग 17:20 – 19:01 अशुभ

🌸चोघडिया, रात
शुभ 19:01 – 20:20 शुभ
अमृत 20:20 – 21:38 शुभ
चर 21:38 – 22:57 शुभ
रोग 22:57 – 24:16* अशुभ
काल 24:16* – 25:34* अशुभ
लाभ 25:34* – 26:53* शुभ
उद्वेग 26:53* – 28:11* अशुभ
शुभ 28:11* – 29:30* शुभ

🌸दिशा शूल ज्ञान————-पश्चिम
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा चिरौजी खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l
भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll

🌸 अग्नि वास ज्ञान
15 + 10 + 1 + 1 = 27 ÷ 4 = 3 शेष
मृत्यु लोक पर अग्नि वास हवन के लिए शुभ कारक है l

🌸 शिव वास एवं फल
25 + 25 + 5 = 55 ÷ 7 = 6 शेष
क्रीड़ायां = शोक ,दुःख कारक

🌸भद्रा वास एवं फल

स्वर्गे भद्रा धनं धान्यं ,पाताले च धनागम:।
मृत्युलोके यदा भद्रा सर्वकार्य विनाशिनी।।

दोपहर 12:42 तक समाप्त

मृत्यु लोक = सर्वकार्य विनाशिनी

*🌸विशेष जानकारी🌸*
  • सर्वार्थ सिद्धि योग 13:57 से
  • विश्व दूरसंचार दिवस
  • रोगेसन सन्डे 🙏🌸शुभ विचार🌸🙏

स्वहस्तग्रथिता माला स्वहस्ताद घृष्टचन्दनम् ।
स्वहस्तलिखितं शक्रस्यापि श्रियं हरेत् ।।
।।चा o नी o।।

आपको इन्द्र के समान वैभव प्राप्त होगा यदि आप..
अपने भगवान् के गले की माला अपने हाथो से बनाये.
अपने भगवान् के लिए चन्दन अपने हाथो से घिसे.
अपने हाथो से पवित्र ग्रंथो को लिखे.

*🌸सुभाषितानि🌸*

गीता -: विश्वरूपदर्शनयोग अo-11

किरीटिनं गदिनं चक्रिणं च तेजोराशिं सर्वतो दीप्तिमन्तम्‌ ।,
पश्यामि त्वां दुर्निरीक्ष्यं समन्ताद्दीप्तानलार्कद्युतिमप्रमेयम्‌ ॥,

आपको मैं मुकुटयुक्त, गदायुक्त और चक्रयुक्त तथा सब ओर से प्रकाशमान तेज के पुंज, प्रज्वलित अग्नि और सूर्य के सदृश ज्योतियुक्त, कठिनता से देखे जाने योग्य और सब ओर से अप्रमेयस्वरूप देखता हूँ॥,17॥,

🌸 व्रत पर्व विवरण 🌸

🌸 विशेष – रविवार के दिन ब्रह्मचर्य पालन करे तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)
🌸 रविवार के दिन मसूर की दाल, अदरक और लाल रंग का साग नहीं खाना चाहिए।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, श्रीकृष्ण खंडः 75.90)
🌸 रविवार के दिन काँसे के पात्र में भोजन नहीं करना चाहिए।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, श्रीकृष्ण खंडः 75)
🌸 स्कंद पुराण के अनुसार रविवार के दिन बिल्ववृक्ष का पूजन करना चाहिए। इससे ब्रह्महत्या आदि महापाप भी नष्ट हो जाते हैं।

🌸एकादशी व्रत के लाभ🌸
🌸 विशेष – 18 मई सोमवार को एकादशी का व्रत (उपवास) रखें ।
🙏🏻एकादशी व्रत के पुण्य के समान और कोई पुण्य नहीं है ।
🙏🏻 जो पुण्य सूर्यग्रहण में दान से होता है, उससे कई गुना अधिक पुण्य एकादशी के व्रत से होता है ।
🙏🏻 जो पुण्य गौ-दान सुवर्ण-दान, अश्वमेघ यज्ञ से होता है, उससे अधिक पुण्य एकादशी के व्रत से होता है ।
🙏🏻एकादशी करनेवालों के पितर नीच योनि से मुक्त होते हैं और अपने परिवारवालों पर प्रसन्नता बरसाते हैं ।इसलिए यह व्रत करने वालों के घर में सुख-शांति बनी रहती है ।
🙏🏻 धन-धान्य, पुत्रादि की वृद्धि होती है ।
🙏🏻 कीर्ति बढ़ती है, श्रद्धा-भक्ति बढ़ती है, जिससे जीवन रसमय बनता है ।
🙏🏻 परमात्मा की प्रसन्नता प्राप्त होती है ।पूर्वकाल में राजा नहुष, अंबरीष, राजा गाधी आदि जिन्होंने भी एकादशी का व्रत किया, उन्हें इस पृथ्वी का समस्त ऐश्वर्य प्राप्त हुआ ।भगवान शिवजी ने नारद से कहा है : एकादशी का व्रत करने से मनुष्य के सात जन्मों के पाप नष्ट हो जाते हैं, इसमे कोई संदेह नहीं है । एकादशी के दिन किये हुए व्रत, गौ-दान आदि का अनंत गुना पुण्य होता है ।

🌸 एकादशी के दिन करने योग्य🌸
🙏🏻एकादशी को दिया जला के विष्णु सहस्त्र नाम पढ़ें …….विष्णु सहस्त्र नाम नहीं हो तो १० माला गुरुमंत्र का जप कर लें l अगर घर में झगडे होते हों, तो झगड़े शांत हों जायें ऐसा संकल्प करके विष्णु सहस्त्र नाम पढ़ें तो घर के झगड़े भी शांत होंगे l

🌸 एकादशी के दिन ये सावधानी रहे🌸
🙏🏻महीने में १५-१५ दिन में एकादशी आती है एकादशी का व्रत पाप और रोगों को स्वाहा कर देता है लेकिन वृद्ध, बालक और बीमार व्यक्ति एकादशी न रख सके तभी भी उनको चावल का तो त्याग करना चाहिए एकादशी के जो दिन चावल खाता है… तो धार्मिक ग्रन्थ से एक- एक चावल एक- एक कीड़ा खाने का पाप लगता है…

🙏🏻 पंचक
14मई2020 शाम 07.20 से
19मई 2020 शाम 07.53 तक

एकादशी
18मई 2020 सोमवार

प्रदोष
19मई 2020 मंगलवार

अमावस्या
22मई 2020 शुक्रवार

जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं

दिनांक 17 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक
8 होगा। यह ग्रह सूर्यपुत्र शनि से संचालित होता है। इस दिन जन्मे व्यक्ति धीर गंभीर, परोपकारी, कर्मठ होते हैं। आपकी वाणी कठोर तथा स्वर उग्र है। आप भौतिकतावादी है। आप अदभुत शक्तियों के मालिक हैं। आप अपने जीवन में जो कुछ भी करते हैं उसका एक मतलब होता है। आपके मन की थाह पाना मुश्किल है। आपको सफलता अत्यंत संघर्ष के बाद हासिल होती है। कई बार आपके कार्यों का श्रेय दूसरे ले जाते हैं।

शुभ दिनांक : 8, 17, 26

शुभ अंक : 8, 17, 26, 35, 44

शुभ वर्ष : 2024, 2042

ईष्टदेव : हनुमानजी, शनि देवता

शुभ रंग : काला, गहरा नीला, जामुनी

कैसा रहेगा यह वर्ष
सभी कार्यों में सफलता मिलेगी। जो अभी तक बाधित रहे है वे भी सफल होंगे। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति उत्तम रहेगी। नौकरीपेशा व्यक्ति प्रगति पाएंगे। बेरोजगार प्रयास करें, तो रोजगार पाने में सफल होंगे। शत्रु वर्ग प्रभावहीन होंगे, स्वास्थ्य की दृष्टि से समय अनुकूल ही रहेगा। राजनैतिक व्यक्ति भी समय का सदुपयोग कर लाभान्वित होंगे

🌸दैनिक राशिफल🌸

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

🐏मेष
जीवनसाथी के स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। चोट व रोग से हानि संभव है। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। व्यावसायिक यात्रा लाभदायक रहेगी। धनार्जन सुगमता से होगा। मान-सम्मान मिलेगा। दूसरों के भरोसे कार्य न करें। विवेक का प्रयोग आवश्यक है।

🐂वृष
स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। चिंता तथा तनाव रहेंगे। जरूरी कागजों को समझकर हस्ताक्षर करें। कोई बड़ी मुसीबत आ सकती है। अपनों से विरोध होगा। धैर्य रखें।

👫मिथुन
स्वास्थ्य संबंधी समस्या रहेगी। बेचैनी रहेगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। लॉटरी व सट्टे आदि से दूर रहें। बेरोजगारी की समस्या समाप्त होगी। प्रयास करें। नए अनुबंध हो सकते हैं। व्यवसाय ठीक चलेगा। प्रमाद न करें।

🦀कर्क
कान संबंधी रोग हो सकता है। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। अतिथियों का आगमन होगा। व्यय बढ़ेगा। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। क्रोध पर नियंत्रण रखें। व्यवसाय ठीक चलेगा। परिवार के सदस्यों का सहयोग मिलेगा। आय में वृद्धि होगी।

🐅सिंह
कष्ट, भय व तनाव का वातावरण बन सकता है। पराक्रम व प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। कार्यसिद्धि होने से प्रसन्नता रहेगी। पार्टनरों से मतभेद समाप्त होकर सहयोग मिलेगा। बाहर जाने का मन बन सकता है। धनार्जन होगा। जल्दबाजी न करें।

🙎‍♀️कन्या
भागदौड़ अधिक होने से स्वास्थ्य प्रभावित होगा। किसी के व्यवहार से हृदय को ठेस पहुंच सकती है। विवाद को बढ़ावा न दें। दु:खद समाचार मिल सकता है, धैर्य रखें। पुराना रोग उभर सकता है। लापरवाही न करें। आय में कमी रहेगी। प्रेम-प्रसंग में जल्दबाजी न करें। जोखिम न लें।

⚖️तुला
व्यावसायिक यात्रा में सावधानी रखें। पार्टी व पिकनिक का आनंद प्राप्त होगा। विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। मनपसंद भोजन की प्राप्ति संभव है। मस्तिष्क में पीड़ा रह सकती है। बेमतलब लोग विरोध करेंगे, धैर्य रखें। ठीक होगा। व्यवसाय ठीक चलेगा।

🦂वृश्चिक
शत्रु परास्त होंगे। आय में वृद्धि होगी। लेन-देन में सावधानी रखें। भय रहेगा। भूमि, भवन व दुकान आदि के खरीदने-बेचने की योजना बनेगी। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। आय के स्रोत बढ़ सकते हैं। प्रसन्नता रहेगी। परिवारजन साथ देंगे।

🏹धनु
किसी के व्यवहार से दिल को ठेस पहुंच सकती है। शारीरिक कष्ट बाधा का कारण बन सकता है। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। राजकीय बाधा दूर होकर लाभ की स्थिति बनेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। धनार्जन होगा। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी।

🐊मकर
पुराना रोग उभर सकता है। वाहन, मशीनरी व अग्नि आदि के प्रयोग में सावधानी रखें। विवाद से स्वाभिमान को चोट पहुंच सकती है। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। कुसंगति से हानि होगी। वरिष्ठजनों की सलाह मानें। विवेक का प्रयोग करें।

🍯कुंभ
धर्म-कर्म में रुचि रहेगी। संत समागम हो सकता है। कोर्ट व कचहरी के काम सुलझेंगे। धन प्राप्ति सुगम होगी। राजकीय वरिष्ठ व्यक्ति से मुलाकात हो सकती है। परिवार की चिंता बनी रहेगी। वाणी पर नियंत्रण रखें। बात बिगड़ सकती है। जोखिम न लें।

🐟मीन
नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। प्रतिद्वंद्वी शांत रहेंगे। विरोधी सक्रिय रहेंगे। विवाद में न पड़ें। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। कार्यकुशलता का विकास होगा। व्यवसाय लाभदायक रहेगा। सुख के साधनों पर व्यय होगा। उत्साहवर्धक सूचना मिलेगी।

🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

three + 12 =

WhatsApp chat