🐊मकर राशि वाला विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। और उनकी यात्रा भी मनोरंजक रहेगी। बाकी की राशियों का…

आचार्य रमेश चन्द्र तिवारी धानिवबांग नालासोपारा पालघर महाराष्ट्र 🌸🙏
सम्पर्क सूत्र – 9518782511
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏
🙏🌸🙏 अथ पंचांगम् 🙏🌸🙏
🙏ll जय श्री राधे ll*🙏
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏

दिनाँक -: 28/05/2020, गुरुवार
षष्ठी, शुक्ल पक्ष
ज्येष्ठ
“”””””””””””””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ————षष्ठी 23:26:48 तक
पक्ष —————————शुक्ल
नक्षत्र ————पुष्य 07:25:51
योग ————–घ्रुव 24:22:32
करण ——–कौलव 12:02:38
करण ———–तैतुल 23:26:48
वार ————————-गुरूवार
माह —————————-ज्येष्ठ
चन्द्र राशि ——————–कर्क
सूर्य राशि ——————-वृषभ
रितु —————————-ग्रीष्म
आयन ——————–उत्तरायण
संवत्सर ———————–शार्वरी
संवत्सर (उत्तर) ————प्रमादी
विक्रम संवत —————-2077
विक्रम संवत (कर्तक) —-2076
शाका संवत —————-1942

मुम्बई
सूर्योदय —————–06:01:51
सूर्यास्त —————–19:09:55
दिन काल —————13:08:03
रात्री काल ————-10:51:49
चंद्रोदय —————-10:48:59
चंद्रास्त —————-24:14:24

लग्न —- वृषभ 13°01′ , 43°01′

सूर्य नक्षत्र ——————रोहिणी
चन्द्र नक्षत्र ———————पुष्य
नक्षत्र पाया ——————–रजत

🙏🌸पद, चरण🌸🙏

ड —-पुष्य 07:25:51

डी —-आश्लेषा 13:21:15

डू —-आश्लेषा 19:14:55

डे —-आश्लेषा 25:06:53

*🙏🌸ग्रह गोचर🌸🙏*

ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद

सूर्य=वृषभ 12°22 ‘ रोहिणी, 1 ओ
चन्द्र = कर्क 09°23 ‘ पुष्य ‘ 4 ड
बुध = मिथुन 04°10 ‘ मृगशिरा ‘ 4 की
शुक्र= वृषभ 23°55,मृगशिरा ‘ 1 वे
मंगल=कुम्भ 15°30′ शतभिषा ‘ 3 सी
गुरु=मकर 02°02 ‘ उ oषाo , 2 भो
शनि=मकर 07°43′ उ oषा o ‘ 4 जी
राहू=मिथुन 06°25 ‘ मृगशिरा , 4 की
केतु=धनु 06 ° 25 ‘ मूल , 2 यो

🌸शुभा$शुभ मुहूर्त🌸
राहू काल 13:59 – 15:42 अशुभ
यम घंटा 05:26 – 07:09 अशुभ
गुली काल 08:51 – 10:34 अशुभ
अभिजित 11:49 -12:44 शुभ
दूर मुहूर्त 09:59 – 10:55 अशुभ
दूर मुहूर्त 15:28 – 16:23 अशुभ

🚩गंड मूल 07:26 – अहोरात्र अशुभ

🌸 चोघडिया, दिन
शुभ 05:26 – 07:09 शुभ
रोग 07:09 – 08:51 अशुभ
उद्वेग 08:51 – 10:34 अशुभ
चर 10:34 – 12:17 शुभ
लाभ 12:17 – 13:59 शुभ
अमृत 13:59 – 15:42 शुभ
काल 15:42 – 17:25 अशुभ
शुभ 17:25 – 19:07 शुभ

🌸 चोघडिया, रात
अमृत 19:07 – 20:24 शुभ
चर 20:24 – 21:42 शुभ
रोग 21:42 – 22:59 अशुभ
काल 22:59 – 24:17* अशुभ
लाभ 24:17* – 25:34* शुभ
उद्वेग 25:34* – 26:51* अशुभ
शुभ 26:51* – 28:09* शुभ
अमृत 28:09* – 29:26* शुभ

नोट— दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है।
प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है।
चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥
रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार ।
अमृत में काम सभी करो , सहाय करो कर्तार ॥
अर्थात- चर में वाहन,मशीन आदि कार्य करें ।
उद्वेग में भूमि सम्बंधित एवं स्थायी कार्य करें ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार ,सगाई व चूड़ा पहनना आदि कार्य करें ।
लाभ में व्यापार करें ।
रोग में जब रोगी रोग मुक्त हो जाय तो स्नान करें ।
काल में धन संग्रह करने पर धन वृद्धि होती है ।
अमृत में सभी शुभ कार्य करें ।

🌸दिशा शूल ज्ञान————-दक्षिण
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा केशर खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l
भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll

🌸अग्नि वास ज्ञान
6 + 5 + 1 = 12 ÷ 4 = 0 शेष
मृत्यु लोक पर अग्नि वास हवन के लिए शुभ कारक है l

*🌸शिव वास एवं फल*

6 + 6 + 5 = 17 ÷ 7 = 3 शेष
वृषभारूढ़ = शुभ कारक

🌸विशेष जानकारी🌸
*सर्वार्थ एवं अमृत सिद्धि योग 07:26 तक

  • गुरु पुष्य योग 7:26 तक
  • रानी लक्ष्मीबाई निर्वाण दिवस 🌸शुभ विचार🌸

शान्तितुल्यं तपो नास्ति न सन्तोषात्परं सुखम् ।
न तृष्णया परो व्याधिर्न च धर्मो दया परः ।।
।।चा o नी o।।

एक संयमित मन के समान कोई तप नहीं. संतोष के समान कोई सुख नहीं. लोभ के समान कोई रोग नहीं. दया के समान कोई गुण नहीं

 *🌸सुभाषितानि🌸*

गीता -: विश्वरूपदर्शनयोग अo-11

यथा प्रदीप्तं ज्वलनं पतंगाविशन्ति नाशाय समृद्धवेगाः ।,
तथैव नाशाय विशन्ति लोकास्तवापि वक्त्राणि समृद्धवेगाः ॥,

जैसे पतंग मोहवश नष्ट होने के लिए प्रज्वलित अग्नि में अतिवेग से दौड़ते हुए प्रवेश करते हैं, वैसे ही ये सब लोग भी अपने नाश के लिए आपके मुखों में अतिवेग से दौड़ते हुए प्रवेश कर रहे हैं॥,29॥,

🌸व्रत पर्व विवरण🌸
🌸 विशेष – षष्ठी को नीम की पत्ती फल या दातुन मुँह में डालने से नीच योनियों की प्राप्ति होती है ।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

🌸गर्मियों में स्वास्थ्य-सुरक्षा हेतु🌸
क्या करें ?
👉🏻 १] गर्मी के कारण जिनको सिरदर्द व कमजोरी होती है वे लोग सूखा धनियां पानी में भिगा दें और घिसके माथे पर लगायें | इससे सिरदर्द और कमजोरी दूर होगी |
👉🏻 २] नाक से खून गिरता हो तो हरे धनिये अथवा ताजी कोमल दूब (दूर्वा) का २ – २ बूँद रस नाक में डालें | इससे नकसीर फूटना बंद हो जायेगा |
👉🏻 ३] सत्तू में शीतल जल, मिश्री और थोडा घी मिलाकर घोल बनाके पियें | यह बड़ा पुष्टिा दायी प्रयोग है | भोजन थोडा कम करें |
👉🏻 ४] भोजन के बीच में २५ – ३५ मि. ली. आँवले का रस पियें | ऐसा २१ दिन करें तो ह्रदय व मस्तिष्क की दुर्बलता दूर होगी | ( शुक्रवार व रविवार को आँवले का सेवन वर्जित है | )
👉🏻 ५] २० मि. ली. आँवला रस, १० ग्राम शहद, ५ ग्राम घी – सबका मिश्रण करके पियें तो बल, बुद्धि, ओज व आयु बढ़ाने में मदद मिलती है |
👉🏻 ६] मुँह में छाले पड गये हों तो त्रिफला चूर्ण को पानी में डाल के कुल्ले करें तथा मिश्री चूसें | इससे छाले शांत हो जायेंगे |
क्या न करें ?
👉🏻 १] अति परिश्रम, अति कसरत, अति रात्रि-जागरण, अति भोजन व भारी भोजन नहीं करें | भोजन में लाल मिर्च व गर्म मसालों का प्रयोग न करें |
👉🏻 २] दही खाना हो तो सीधा नहीं खायें, पहले उसे मथ के मक्खन निकाल लें और बचे हुए भाग को लस्सी या छाछ बना के मिश्री मिला के या छौंक लगा के सेवन करें | ध्यान रहे, दही खट्टा न हो |
👉🏻 ३] बाजारू शीतल पेयों से बचें | फ्रिज का पानी न पियें | धूप में से आकर तुरंत पानी न पियें |

  *🌸मोटापा हो तो🌸*

🍋 मोटापा हो तो गर्म पानी में १ पके बड़े नींबू का रस और शहद मिलाकर भोजन के तुरंत बाद पियें l
🌿 छाछ में तुलसी के पत्ते लेने से भी मोटापे में आराम होता है l

      *🌸फोड़े-फुंसियाँ🌸*

👉🏻 फोड़ा-फुंसी है तो पालक+गाजर+ककड़ी तीनों को मिला कर उसका रस ले लें अथवा नारियल का पानी पियें तो फोड़ा फुंसी में आराम होता है ।

🌸 यदि आपका धन किसी के पास फंस गया है और वह उसे वापस नहीं कर रहा तो अमावस्या या पूर्णिमा तिथि को सुबह स्नान के बाद, एक ताम्बे के लोटे में जल लेकर उसमें लाल मिर्च के 11 बीज डालकर उगते हुए सूर्यदेव को चढ़ाते हुए प्रार्थना करे की आपके पैसे जल्दी वापस मिल जाये। जल चढ़ाने के पहले उगते हुये सूर्य को देखते हुए इस मंत्र- “ऊँ आदित्याय नमः” का 108 बार जप जरूर करें। कुछ ही दिनों में जिसके पास आपका पैसा है वह स्वयं घर आकर पैसे वापस देगा।

🌸दैनिक राशिफल🌸

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

🐏मेष
भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। दूर के शुभ समाचार प्राप्त होंगे। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे। परिवार के किसी सदस्य के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय बढ़ेगी। जोखिम न लें।

🐂वृष
बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। किसी बड़ी समस्या का हल सहज ही प्राप्त होगा। शत्रुओं का पराभव होगा, फिर भी सावधानी आवश्यक है। थकान महसूस होगी। सुख के साधनों पर व्यय अधिक होगा।

👫मिथुन
पुरानी व्याधि उठ सकती है। विवाद से क्लेश होगा। चिंता तथा तनाव बने रहेंगे। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। अपेक्षित कार्यों में विलंब होगा। पारिवारिक समस्याएं बनी रहेंगी। मतभेद हो सकता है। व्यवसाय ठीक चलेगा। लाभ होगा।

🦀कर्क
किसी प्रतिभाशाली व्यक्ति का मार्गदर्शन प्राप्त होगा। व्यवसाय में वृद्धि होगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। कोई बड़ा काम करने का मन बन सकता है। प्रसन्नता में वृद्धि होगी। थकान महसूस होगी। प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे।

🐅सिंह
चोट व रोग से बाधा संभव है। नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। समाज में मान-सम्मान मिलेगा। व्यवसाय लाभदायक रहेगा। सुख के साधन प्राप्त होंगे। लभा के अवसर हाथ आएंगे। लेन-देन में सावधानी रखें। जोखिम व जमानत के कार्य टालें।

🙎‍♀️कन्या
तीर्थयात्रा की योजना बनेगी। अध्यात्म में रुचि बढ़ेगी। कानूनी अड़चन दूर होकर लाभ की स्थिति बनेगी। रोजगार में वृद्धि होगी। विरोध होगा। स्वास्थ्य पर खर्च हो सकता है। पारिवारिक सहयोग प्राप्त होगा। वस्तुएं संभालकर रखें।

⚖️तुला
यात्रा में सावधानी रखें। नेत्र पीड़ा हो सकती है। प्रेम-प्रसंग में जोखिम न लें। जल्दबाजी से हानि संभव है। चोट व दुर्घटना से हानि संभव है। किसी अपने का व्यवहार हृदय को चोट पहुंचा सकता है। लेन-देन में सावधानी रखें। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। व्यवसाय ठीक चलेगा।

🦂वृश्चिक
वाणी पर नियंत्रण रखें। राजभय रहेगा। जल्दबाजी से बचें। शारीरिक कष्ट संभव है। कानूनी अड़चन दूर होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। बाहर जाने का मन बनेगा। पारिवारिक सहयोग मिलेगा। प्रमाद न करें।

🏹धनु
भय, पीड़ा व चिंता का माहौल बन सकता है। आंखों में पीड़ा हो सकती है। भूमि व भवन इत्यादि खरीदने की योजना बनेगी। रोजगार में वृद्धि होगी। विवाद से बचें। पार्टनरों का सहयोग प्राप्त होगा। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। भाग्य का साथ पूरा-पूरा रहेगा।

🐊मकर
विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। यात्रा मनोरंजक रहेगी। मनपसंद भोजन का आनंद मिलेगा। रोजगार में वृद्धि होगी। मित्र व संबंधियों के साथ अच्छा समय व्यतीत होगा। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। किसी वरिष्ठ व्यक्ति का मार्गदर्शन प्राप्त होगा। विवाद न करें।

🍯कुंभ
दु:खद समाचार मिल सकता है। दौड़धूप अधिक होगी। धैर्य रखें। स्वास्थ्य खराब हो सकता है। भाग्य का साथ नहीं मिलेगा। लेन-देन में सावधानी रखें। क्रोध पर नियंत्रण रखें। बनते कामों में अड़चन आएगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। बुद्धि से समस्याएं दूर होंगी।

🐟मीन
प्रयास सफल रहेंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। कार्य की प्रशंसा होगी। रोजगार में वृद्धि तथा प्रसन्नता बनी रहेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। मातहतों का सहयोग प्राप्त होगा। पुराने अटके कार्य पूर्ण होंगे। चोट व रोग से बचें। थकान रहेगी। जल्दबाजी न करें।

🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

17 − 6 =

WhatsApp chat