👫मिथुन राशि के लोगों का ज्ञानार्जन तथा पठन-पाठन के कार्य सफल रहेंगे। अन्य राशि के बारे में आप ख़ुद पढ़ें…

आचार्य रमेश चन्द्र तिवारी धानिवबांग नालासोपारा पालघर महाराष्ट्र 🌸🙏
सम्पर्क सूत्र – 9518782511
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏
🙏🌸🙏 अथ पंचांगम् 🙏🌸🙏
🙏ll जय श्री राधे ll*🙏
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏

दिनाँक -: 22/04/2020,बुधवार
अमावस्या, कृष्ण पक्ष
वैशाख
“””””””””””””””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ———अमावस्या अहोरात्र तक
पक्ष —————————कृष्ण
नक्षत्र ———–रेवती 13:16:51
योग ———विश्कुम्भ 22:15:20
करण ——-चतुष्पदा 18:47:05
वार ————————–बुधवार
माह ————————– वैशाख
चन्द्र राशि ——- मीन 13:16:51
चन्द्र राशि ———————मेष
सूर्य राशि ———————–मेष
रितु —————————-वसंत
आयन ——————–उत्तरायण
संवत्सर ———————–शार्वरी
संवत्सर (उत्तर) ————-प्रमादी
विक्रम संवत —————-2077
विक्रम संवत (कर्तक)——2076
शाका संवत —————-1942

मुम्बई
सूर्योदय —————–06:17:11
सूर्यास्त —————–18:56:50
दिन काल ————–12:39:38
रात्री काल ————-11:19:40
चंद्रोदय —————–18:28:25
चंद्रास्त —————–30:28:33

लग्न —-मेष 8°13′ , 8°13′

सूर्य नक्षत्र —————–अश्विनी
चन्द्र नक्षत्र ——————–रेवती
नक्षत्र पाया ——————–स्वर्ण

  *🙏🌸पद, चरण🌸🙏*

च —-रेवती 06:33:39

ची —-रेवती 13:16:51

चु —-अश्विनी 19:59:30

चे —-अश्विनी 26:41:33

🌸गंड मूल अहोरात्र अशुभ

🌸पंचक 05:49 – 13:17 अशुभ

🌸चोघडिया, दिन
लाभ 05:49 – 07:26 शुभ
अमृत 07:26 – 09:03 शुभ
काल 09:03 – 10:41 अशुभ
शुभ 10:41 – 12:18 शुभ
रोग 12:18 – 13:55 अशुभ
उद्वेग 13:55 – 15:32 अशुभ
चर 15:32 – 17:10 शुभ
लाभ 17:10 – 18:47 शुभ

🌸चोघडिया, रात
उद्वेग 18:47 – 20:09 अशुभ
शुभ 20:09 – 21:32 शुभ
अमृत 21:32 – 22:55 शुभ
चर 22:55 – 24:17* शुभ
रोग 24:17* – 25:40* अशुभ
काल 25:40* – 27:03* अशुभ
लाभ 27:03* – 28:25* शुभ

🌸दिशा शूल ज्ञान————-उत्तर
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो पान अथवा पिस्ता खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l
भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll

🌸 अग्नि वास ज्ञान
यात्रा विवाह व्रत गोचरेषु,
चोलोपनिताद्यखिलव्रतेषु ।
दुर्गाविधानेषु सुत प्रसूतौ,
नैवाग्नि चक्रं परिचिन्तनियं ।। महारुद्र व्रतेSमायां ग्रसतेन्द्वर्कास्त राहुणाम्
नित्यनैमित्यके कार्ये अग्निचक्रं न दर्शायेत् ।।

   15 + 15 + 4 + 1 =  35 ÷ 4 = 3 शेष

मृत्यु लोक पर अग्नि वास हवन के लिए शुभ कारक है l

  *🌸शिव वास एवं फल*

30 + 30 + 5 = 65 ÷ 7 = 2 शेष

गौरि सन्निधौ = शुभ कारक

🌸भद्रा वास एवं फल

स्वर्गे भद्रा धनं धान्यं ,पाताले च धनागम:।
मृत्युलोके यदा भद्रा सर्वकार्य विनाशिनी।।

  *🌸विशेष जानकारी🌸*
  • देवपितृ कार्य अमावास्या
  • श्री शुकदेव मुनि जयन्ती
  • सर्वार्थ सिद्धि योग 16:04 तक *🙏शुभ विचार🙏*

अग्निर्देवो द्विजातीनां मुनीनां हृदि दैवतम् ।
प्रतिमा त्वल्पबुध्दीनां सर्वत्र समदर्शिनाम् ।।
।।चा o नी o।।

द्विज अग्नि में भगवान् देखते है.
भक्तो के ह्रदय में परमात्मा का वास होता है.
जो अल्प मति के लोग है वो मूर्ति में भगवान् देखते है.
लेकिन जो व्यापक दृष्टी रखने वाले लोग है, वो यह जानते है की भगवान सर्व व्यापी है.

    *🌸सुभाषितानि🌸*

गीता -: भक्तियोग अo-12

अभ्यासेऽप्यसमर्थोऽसि मत्कर्मपरमो भव ।,
मदर्थमपि कर्माणि कुर्वन्सिद्धिमवाप्स्यसि ॥,

यदि तू उपर्युक्त अभ्यास में भी असमर्थ है, तो केवल मेरे लिए कर्म करने के ही परायण (स्वार्थ को त्यागकर तथा परमेश्वर को ही परम आश्रय और परम गति समझकर, निष्काम प्रेमभाव से सती-शिरोमणि, पतिव्रता स्त्री की भाँति मन, वाणी और शरीर द्वारा परमेश्वर के ही लिए यज्ञ, दान और तपादि सम्पूर्ण कर्तव्यकर्मों के करने का नाम ‘भगवदर्थ कर्म करने के परायण होना’ है) हो जा।, इस प्रकार मेरे निमित्त कर्मों को करता हुआ भी मेरी प्राप्ति रूप सिद्धि को ही प्राप्त होगा॥,10॥,

*🌸व्रत पर्व विवरण*🌸

🌸 विशेष – अमावस्या के दिन ब्रह्मचर्य पालन करे तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)

🌸अमावस्या🌸
🙏🏻अमावस्या के दिन जो वृक्ष, लता आदि को काटता है अथवा उनका एक पत्ता भी तोड़ता है, उसे ब्रह्महत्या का पाप लगता है (विष्णु पुराण)
🙏🏻 शनि और पितृदोष से छुटकारा पाने के लिए उड़द या उड़द की छिलकेवाली दाल, काला कपड़ा, तला हुआ पदार्थ एवं दूध गरीबों में दान करें ।

🌸नकारात्मक ऊर्जा मिटाने के लिए
🏡 घर में हर अमावस्या अथवा हर १५ दिन में पानी में खड़ा नमक (१ लीटर पानी में ५० ग्राम खड़ा नमक) डालकर पोछा लगायें । इससे नेगेटिव एनेर्जी चली जाएगी । अथवा खड़ा नमक के स्थान पर गौझरण अर्क भी डाल सकते हैं ।

🌸धन-धान्य व सुख-संम्पदा के लिए🌸
🔥 हर अमावस्या को घर में एक छोटा सा आहुति प्रयोग करें।
🍛 सामग्री : १. काले तिल, २. जौं, ३. चावल, ४. गाय का घी, ५. चंदन पाउडर, ६. गूगल, ७. गुड़, ८. देशी कर्पूर, गौ चंदन या कण्डा।
🔥विधि: गौ चंदन या कण्डे को किसी बर्तन में डालकर हवनकुंड बना लें, फिर उपरोक्त ८ वस्तुओं के मिश्रण से तैयार सामग्री से, घर के सभी सदस्य एकत्रित होकर नीचे दिये गये देवताओं की १-१ आहुति दें।
🔥 आहुति मंत्र 🔥
१. ॐ कुल देवताभ्यो नमः
२. ॐ ग्राम देवताभ्यो नमः
३. ॐ ग्रह देवताभ्यो नमः
४. ॐ लक्ष्मीपति देवताभ्यो नमः
५. ॐ विघ्नविनाशक देवताभ्यो नमः
🌸 विशेष – 22 अप्रैल 2020 बुधवार को प्रातः 05:38 से 23 अप्रैल गुरुवार को सुबह 07:55 तक अमावस्या है ।

🙏 पंचक
17अप्रैल 2020 दोपहर 12.20 से
22अप्रैल 2020 दोपहर 1.17 तक

अमावस्या
22अप्रैल 2020

   *🌸दैनिक राशिफल*

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

🐏मेष
सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। किसी प्रभावशाली व्यक्ति का सहयोग व मार्गदर्शन प्राप्त होगा। आराम व मनोरंजन के साधन उपलब्ध होंगे। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। छोटी-मोटी यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है। प्रसन्नता रहेगी।

🐂वृष
संपत्ति के बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। भाग्योन्नति के प्रयास सफल रहेंगे। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। घर-बाहर सभी ओर सफलता प्राप्त होगी। पारिवारिक चिंता बनी रहेगी। जीवन सुखमय व्यतीत होगा। प्रमाद न करें।

👫मिथुन
ज्ञानार्जन तथा पठन-पाठन के कार्य सफल रहेंगे। पार्टी व पिकनिक का कार्यक्रम बन सकता है। परिवार के सदस्यों तथा मित्रों के साथ जीवन आनंदमय व्यतीत होगा। बाहरी सहयोग से कार्य बनेंगे। भाग्य का साथ रहेगा। विवाद न करें।

🦀कर्क
कोई बुरी सूचना मिलने से खिन्नता रहेगी। नकारात्मकता में वृद्धि होगी। मेहनत अधिक होगी। विवाद से क्लेश होगा। दुष्टजन हानि पहुंचा सकते हैं। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। आय में निश्चितता रहेगी।

🐅सिंह
परमार्थ करने की इच्छा रहेगी। मानसिक शांति रहेगी। घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। किसी कार्य के प्रति आशंका-कुशंका रह सकती है। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। बाहर जाने का कार्यक्रम बन सकता है। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा।

🙎कन्या
घर में मेहमान आ सकते हैं। अच्छे समाचार प्राप्त होंगे। घर-बाहर प्रसन्नता तथा उत्साह में वृद्धि होगी। कोई बड़ा कार्य करने की योजना बनेगी। व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल रहेगा। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें। बेचैनी रहेगी।

⚖तुला
किसी प्रभावशाली व्यक्ति के सहयोग से भाग्योन्नति के द्वार खुलेंगे। कोई उलझन दूर होकर सुख-शांति बनी रहेगी। वाणी में हल्के शब्दों के प्रयोग से बचें। घर-परिवार की चिंता रहेगी। भेंट व उपहार की प्राप्ति हो सकती है। मित्र व संबंधियों से मेल बढ़ेगा।

🦂वृश्चिक
खर्चे की मदों में इजाफा होगा। चिंता तथा तनाव रहेंगे। किसी व्यक्ति विशेष से विवाद हो सकता है। दूसरों की अपेक्षा बढ़ेगी। स्वास्थ्य खराब हो सकता है। लापरवाही न करें। समय सुधरेगा। आय में वृद्धि होगी। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। जोखिम न लें।

🏹धनु
डूबी हुई रकम प्राप्ति के योग हैं। कोई मनोरंजक यात्रा की योजना बनेगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। परिवार के सदस्यों के साथ जीवन सुखमय व्यतीत होगा। वाणी पर नियंत्रण रखें। दूसरों के कार्य में हस्तक्षेप बिलकुल न करें।

🐊मकर
भाग्योन्नति के लिए प्रयास किए जा सकते हैं। योजना फलीभूत होगी। कार्यक्षेत्र में सुधार होगा। व्यापार का विस्तार संभव है। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। चिंता तथा तनाव रहेंगे। मित्रों का सहयोग प्राप्त होगा। नए संपर्क बनेंगे। जल्दबाजी न करें।

🍯कुंभ
विवेक से कार्य करें। कार्यों में सफलता मिलेगी। तीर्थदर्शन का लाभ प्राप्त हो सकता है। सत्संग का लाभ प्राप्त होगा। किसी प्रभावशाली व्यक्ति के मार्गदर्शन व सहयोग से कार्यसिद्धि होगी। घर-बाहर उत्साह व प्रसन्नता में वृद्धि होगी।

🐟मीन
आने-जाने में कार्य करने समय वाहन व मशीनरी आदि के प्रयोग में लापरवाही न करें। क्रोध व उत्तेजना से कार्य बिगड़ सकते हैं। चिंता तथा तनाव रहेंगे। धनहानि की आशंका है। नौकरी में अधिकारियों की अपेक्षाएं बढ़ेंगी। धनार्जन होगा।

🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

14 + 16 =

WhatsApp chat