🦂वृश्चिक चोट व दुर्घटना से शारीरिक हानि की आशंका प्रबल है। लापरवाही न करें। और इन राशि के लोग…

आचार्य रमेश चन्द्र तिवारी धानिवबांग नालासोपारा पालघर महाराष्ट्र 🌸🙏
सम्पर्क सूत्र – 9518782511
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏
🙏🌸🙏 अथ पंचांगम् 🙏🌸🙏
🙏ll जय श्री राधे ll*🙏
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏

दिनाँक -: 23/06/2020,मंगलवार
द्वितीया, शुक्ल पक्ष
आषाढ
“””””””””””””””””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ——–द्वितीया 11:18:46 तक
पक्ष —————————शुक्ल
नक्षत्र ———पुनर्वसु 13:31:46
योग —————ध्रुव 11:00:03
करण ———कौलव 11:18:46
करण ———–तैतुल 22:49:07
वार ———————–मंगलवार
माह ————————–आषाढ
चन्द्र राशि —–मिथुन 07:33:45
चन्द्र राशि ——————– कर्क
सूर्य राशि ——————–मिथुन
रितु —————————-ग्रीष्म
सायन —————————वर्षा
आयन ——————–उत्तरायण
सायन —————– दक्षिणायण
संवत्सर ———————–शार्वरी
संवत्सर (उत्तर) ————प्रमादी
विक्रम संवत ————— 2077
विक्रम संवत (कर्तक) —-2076
शाका संवत —————-1942

मुम्बई
सूर्योदय —————–06:03:38
सूर्यास्त —————–19:17:57
दिन काल ————–13:14:18
रात्री काल ————-10:45:56
चंद्रोदय —————–07:43:16
चंद्रास्त —————–21:21:35

लग्न —- मिथुन 7°53′ , 67°53′

सूर्य नक्षत्र ———————आर्द्रा
चन्द्र नक्षत्र ——————पुनर्वसु
नक्षत्र पाया ——————–रजत

🙏🌸पद, चरण🌸🙏

हा —- पुनर्वसु 07:33:45
ही —- पुनर्वसु 13:31:46
हु —- पुष्य 19:28:16
हे —- पुष्य 25:23:18

🌸 चोघडिया, दिन
रोग 05:26 – 07:10 अशुभ
उद्वेग 07:10 – 08:54 अशुभ
चर 08:54 – 10:38 शुभ
लाभ 10:38 – 12:22 शुभ
अमृत 12:22 – 14:05 शुभ
काल 14:05 – 15:49 अशुभ
शुभ 15:49 – 17:33 शुभ
रोग 17:33 – 19:17 अशुभ

🌸 चोघडिया, रात
काल 19:17 – 20:33 अशुभ
लाभ 20:33 – 21:49 शुभ
उद्वेग 21:49 – 23:05 अशुभ
शुभ 23:05 – 24:22* शुभ

🌸दिशा शूल ज्ञान————-उत्तर
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा गुड़ खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l
भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll

🌸 अग्नि वास🌸
2 + 3 + 1 = 6 ÷ 4 = 2 शेष
आकाश लोक पर अग्नि वास हवन के लिए अशुभ कारक है l

🌸शिव वास एवं फल
2 + 2 + 5 = 9 ÷ 7 = 2 शेष
गौरि सन्निधौ = शुभ कारक

🌸विशेष जानकारी🌸

  • श्री जगन्नाथ रथ यात्रा (उड़ीसा)
  • श्री बाँकेबिहारी जी ,श्री राधाबल्लभ जी रथयात्रा वृन्दावन
  • कोकिला व्रत
  • श्री बल्लभाचार्य पुण्य तिथि
  • डा० श्यामसुंदर मुखर्जी बलिदान दिवस 🙏🌸शुभ विचार🌸🙏

न दुर्जनः साधुदशामुपैति बहुप्रकारैरपि शिक्ष्यमाणः ।
आमूलसिक्तः पयसाघृतेन न निम्बवृक्षौमधुरत्वमेति ।।
।।चा o नी o।।

एक दुष्ट व्यक्ति में कभी पवित्रता उदीत नहीं हो सकती उसे चाहे जैसे समझा लो. नीम का वृक्ष कभी मीठा नहीं हो सकता आप चाहे उसकी शिखा से मूल तक घी और शक्कर छिड़क दे

*🌸सुभाषितानि🌸*

गीता -: विभूतियोग अo-10

भूय एव महाबाहो श्रृणु मे परमं वचः ।,
यत्तेऽहं प्रीयमाणाय वक्ष्यामि हितकाम्यया ॥,

श्री भगवान्‌ बोले- हे महाबाहो! फिर भी मेरे परम रहस्य और प्रभावयुक्त वचन को सुन, जिसे मैं तुझे अतिशय प्रेम रखने वाले के लिए हित की इच्छा से कहूँगा॥,1॥,

🌸 व्रत पर्व विवरण🌸
🌸 विशेष – द्वितीया को बृहती छोटा बैगन नहीं खाना चाहिए (ब्रह्मवैवर्त पुराण ब्रह्म खंडः 27:29 -34)
🌸 गुप्त नवरात्रि🌸
🙏🏻 आषाढ़ मास की गुप्त नवरात्रि 22 जून 2020 सोमवार से शुरू हो रही हैं, जो 29 जून सोमवार तक रहेंगी , नवरात्रि के इन 9 दिनों में देवी के विभिन्न रूपों की पूजा की जाती है, इन नौ दिनों में देवी को विभिन्न प्रकार के भोग भी लगाए जाते हैं, शास्त्रों के अनुसार, इस उपाय से साधक (उपाय करने वाला) की सभी मनोकामनाएं पूरी हो सकती हैं, जानिए किस तिथि पर देवी को किस चीज का भोग लगाना चाहिए-
ये हैं गुप्त नवरात्रि के अचूक उपाय
1⃣ प्रतिपदा तिथि को माता को घी का भोग लगाएं, इससे रोगी को कष्टों से मुक्ति मिलती हैं एवं शरीर निरोगी होता है।
2⃣ द्वितीया तिथि को माता को शक्कर का भोग लगाएं, इससे उम्र लंबी होती है।
3⃣ तृतीया तिथि को माता को दूध का भोग लगाएं, इससे सभी प्रकार के दुःखों से मुक्ति मिलती है।
4⃣ चतुर्थी तिथि को माता को मालपुआ का भोग लगाएं, इससे समस्याओं का अंत होता है।
5⃣ पंचमी तिथि को माता को केले का भोग लगाएं, इससे परिवार में सुख-शांति बनी रहती है।
6⃣ षष्ठी तिथि को माता को शहद का भोग लगाएं, इससे धन लाभ होने के योग बनते हैं ।
7⃣ सप्तमी तिथि को माता को गुड़ का भोग लगाएं, इससे हर मनोकामना पूरी हो सकती है।
8⃣ अष्टमी तिथि को माता को नारियल का भोग लगाएं, इससे घर में सुख-समुद्वि आती है
9⃣ नवमी तिथि को माता को विभिन्न प्रकार के अनाज का भोग लगाएं, इससे वैभव व यश मिलता है।
🌸 गुप्त नवरात्रि🌸
➡ आषाढ़ मास की शुक्ल प्रतिपदा से नवमी तिथि तक गुप्त नवरात्रि का पर्व मनाया जाता है, बहुत कम लोग इस नवरात्रि के बारे में जानते हैं, इसलिए इसे गुप्त नवरात्रि कहा जाता है, गुप्त नवरात्रि में किए गए उपाय जल्दी ही शुभ फल प्रदान कर सकते हैं। धन, नौकरी, स्वास्थ्य, संतान, विवाह, प्रमोशन आदि कई मनोकामनाएं इन 9 दिनों में किए गए उपायों से प्राप्त हो सकते हैं, अगर आपके मन में कोई मनोकामना है तो आगे बताए गए उपायों से वह पूरी हो सकती है। ये उपाय इस प्रकार हैं-


💰 1. धन लाभ के लिए उपाय
गुप्त नवरात्रि के दौरान किसी भी दिन स्नान आदि करने के बाद उत्तर दिशा की ओर मुख करके पीले आसन पर बैठ जाएं, अपने सामने तेल के ९ दीपक जला लें, ये दीपक साधनाकाल तक जलते रहना चाहिए, दीपक के सामने लाल चावल (चावल को रंग लें) की एक ढेरी बनाएं फिर उस पर एक श्रीयंत्र रखकर उसका कुम कुम, फूल, धूप, तथा दीप से पूजन करें।
➡ उसके बाद एक प्लेट पर स्वस्तिक बनाकर उसे अपने सामने रखकर उसका पूजन करें, श्रीयंत्र को अपने पूजा स्थल पर स्थापित कर लें और शेष सामग्री को नदी में प्रवाहित कर दें, इस प्रयोग से आपको अचानक धन लाभ होने के योग बन सकते हैं।

👨🏻👩🏻 2. शीघ्र विवाह के लिए उपाय
गुप्त नवरात्रि में शिव-पार्वती का एक चित्र अपने पूजास्थल में रखें और उनकी पूजा करने के बाद नीचे लिखे मंत्र का 3, 5 अथवा 10 माला जप करें। जप के बाद भगवान शिव से विवाह में आ रही बाधाओं को दूर करने की प्रार्थना करें-
मंत्र- ऊं शं शंकराय सकल-जन्मार्जित-पाप-विध्वंसनाय,
पुरुषार्थ-चतुष्टय-लाभाय च पतिं मे देहि कुरु कुरु स्वाहा।।

👨🏻 3. मनपसंद वर के लिए उपाय
गुप्त नवरात्रि के दौरान किसी भी दिन अपने पास स्थित शिव मंदिर में जाएं, वहां भगवान शिव एवं मां पार्वती पर जल एवं दूध चढ़ाएं और पंचोपचार (चंदन, पुष्प, धूप, दीप एवं नैवेद्य) से उनका पूजन करें, अब मौली (पूजा में उपयोग किया जाने वाला लाल धागा) से उन दोनों के मध्य गठबंधन करें, अब वहां बैठकर लाल चंदन की माला से इस मंत्र का जप 108 बार करें-
🌸 हे गौरी शंकरार्धांगी। यथा त्वं शंकर प्रिया।
तथा मां कुरु कल्याणी, कान्त कान्तां सुदुर्लभाम्।।
➡ इसके बाद तीन महीने तक रोज इसी मंत्र का जप शिव मंदिर में अथवा अपने घर के पूजाकक्ष में मां पार्वती के सामने 108 बार करें, घर पर भी आपको पंचोपचार पूजा करनी है।

💵 4. बरकत बढ़ाने का उपाय
गुप्त नवरात्रि में किसी भी दिन सुबह स्नान कर साफ कपड़े में अपने सामने मोती शंख को रखें और उस पर केसर से स्वस्तिक का चिह्न बना दें, इसके बाद नीचे लिखे मंत्र का जप करें-
🌸 श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्मयै नम:
➡ मंत्र का जप स्फटिक माला से ही करें, मंत्रोच्चार के साथ एक-एक चावल इस शंख में डालें, इस बात का ध्यान रखें की चावल टूटे हुए ना हो, यह प्रयोग लगातार नौ दिनों तक करें, इस प्रकार रोज एक माला जप करें, उन चावलों को एक सफेद रंग के कपड़े की थैली में रखें और 9 दिन के बाद चावल के साथ शंख को भी उस थैली में रखकर तिजोरी में रखें, इस उपाय से घर की बरकत बढ़ सकती है।

👩🏻 5. मनचाही दुल्हन के लिए उपाय
गुप्त नवरात्रि के दौरान जो भी सोमवार आए, उस दिन सुबह किसी शिव मंदिर में जाएं, वहां शिवलिंग पर दूध, दही, घी, शहद और शक्कर चढ़ाते हुए उसे अच्छी तरह से साफ करें, फिर शुद्ध जल चढ़ाएं और पूरे मंदिर में झाड़ू लगाकर उसे साफ करें, अब भगवान शिव की चंदन, पुष्प एवं धूप, दीप आदि से पूजा करें।
➡ रात 10 बजे के बाद अग्नि प्रज्वलित कर ऊं नम: शिवाय मंत्र का उच्चारण करते हुए घी से 108 आहुति दें, अब 40 दिनों तक नित्य इसी मंत्र का पांच माला जप भगवान शिव के सामने करें, इससे शीघ्र ही आपकी मनोकामना पूर्ण होने के योग बनेंगे।

🤷🏻‍♂ 6. इंटरव्यु में सफलता का उपाय
गुप्त नवरात्रि में किसी भी दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि करने के बाद सफेद रंग का सूती आसन बिछाकर पूर्व दिशा की ओर मुख करके उस पर बैठ जाएं, अब अपने सामने पीला कपड़ा बिछाकर उस पर 108 दानों वाली स्फटिक की माला रख दें और इस पर केसर व इत्र छिड़क कर इसकी पूजा करें।
➡ इसके बाद धूप, दीप और अगरबत्ती दिखाकर नीचे लिखा मंत्र 31 बार बोलें, इस प्रकार 11 दिन तक करने से वह माला सिद्ध हो जाएगी, जब भी किसी इंटरव्यु में जाएं तो इस माला को पहन कर जाएं, ये उपाय करने से इंटरव्यु में सफलता की संभावना बढ़ सकती है।
🌸 मंत्र- ऊं ह्लीं वाग्वादिनी भगवती मम कार्य सिद्धि कुरु कुरु फट् स्वाहा।

👨🏻👩🏻 7. दांपत्य सुख के लिए उपाय
यदि जीवनसाथी से अनबन होती रहती है तो गुप्त नवरात्रि में रोज नीचे लिखी चौपाई को पढ़ते हुए 108 बार अग्नि में घी से आहुतियां दें, इससे यह चौपाई सिद्ध हो जाएगी, अब नित्य सुबह उठकर पूजा के समय इस चौपाई को 21 बार पढ़ें, यदि संभव हो तो अपने जीवनसाथी से भी इस चौपाई का जप करने के लिए कहें-
🌸 ​चौपाई
सब नर करहिं परस्पर प्रीति।
चलहिं स्वधर्म निरत श्रुति नीति।।
🙏

🌸दैनिक राशिफल🌸

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

🐏मेष
भेंट व उपहार की प्राप्ति संभव है। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। शेयर मार्केट व म्युचुअल फंड इत्यादि से लाभ होगा। समय की अनुकूलता का लाभ लें। सट्टे व लॉटरी से दूरी बनाए रखें। धन प्राप्ति सुगम होगी। उत्साह बना रहेगा। प्रमाद न करें।

🐂वृष
घर में अतिथियों का आगमन होगा। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। आत्मसम्मान बना रहेगा। कारोबारी लाभ होता रहेगा। नौकरी में चैन रहेगा। घर-बाहर प्रसन्नता बनी रहेगी। कोई बड़ा कार्य करने का मन बनेगा। निर्णय लेने की क्षमता बढ़ेगी। आय में वृद्धि होगी।

👫मिथुन
रुके कार्य पूर्ण होने के योग हैं। मेहनत का फल पूरा-पूरा मिलेगा। कार्य की प्रशंसा होगी। नौकरी में प्रभाव वृद्धि होगी। मित्रों तथा संबंधियों का सहयोग करने का अवसर प्राप्त होगा। शेयर मार्केट व म्युचुअल फंड जैसे स्थानों में सफलता प्राप्त होगी। प्रेम-प्रसंग अनुकूल रहेंगे।

🦀कर्क
मेहनत अधिक तथा लाभ कम रहेगा। वाणी पर नियंत्रण रखें। फिजूल की बातों पर ध्यान न दें। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। किसी से बिना वजह विवाद हो सकता है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। मन में संवेदनशीलता अधिक रहेगी। चिड़चिड़ापन रहेगा। व्यापार ठीक चलेगा।

🐅सिंह
शैक्षणिक व शोध कार्यों में सफलता मिलेगी। वरिष्ठ व्यक्तियों का सहयोग व मार्गदर्शन प्राप्त होगा। किसी पारिवारिक मांगलिक कार्यक्रम का आयोजन हो सकता है। यात्रा मनोरंजक रहेगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। प्रसन्नता व संतुष्टि में वृद्धि होगी। प्रमाद न करें।

🙎‍♀️कन्या
स्थायी संपत्ति में वृद्धि के योग हैं। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। किसी बड़े सौदे से बड़ा लाभ हो सकता है। नौकरी में प्रभाव क्षेत्र बढ़ेगा। धन प्राप्ति सुगम होगी। किसी बड़ी समस्या का हल सहज ही मिल सकता है। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। जल्दबाजी न करें।

⚖️तुला
राजकीय सहयोग समय पर प्राप्त होगा। लाभ के अवसर बढ़ेंगे। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। भेंट व उपहार पर व्यय होगा। पारिवारिक सहयोग से कार्य में सफलता प्राप्त होगी। कारोबारी लाभ में वृद्धि होगी। समय की अनुकूलता का लाभ लें। झंझटों से दूर रहें।

🦂वृश्चिक
चोट व दुर्घटना से शारीरिक हानि की आशंका प्रबल है। लापरवाही न करें। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। किसी भी व्यक्ति के उकसाने में नहीं आएं। अपने विवेक से कार्य करें। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। आय में निश्चितता रहेगी। कार्य की गति धीमी रहेगी।

🏹धनु
पूजा-पाठ में मन लगेगा। सत्संग का लाभ मिलेगा। कानूनी अड़चन दूर होकर स्थिति अनुकूल बनेगी। कारोबार में वृद्धि संभव है। मित्रों का सहयोग प्राप्त होगा। नौकरी में चैन रहेगा। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रह सकता है। स्वास्थ्य को प्राथमिकता दें। जल्दबाजी न करें।

🐊मकर
कार्यस्थल पर सुधार या परिवर्तन हो सकता है। नई योजना बनेगी। मित्रों व रिश्तेदारों का सहयोग कर पाएंगे। घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। कारोबार में वृद्धि होगी। नए अनुबंध हो सकते हैं। प्रतिद्वंद्विता बढ़ेगी। ईर्ष्यालु व्यक्तियों से सावधान रहें। निवेश शुभ फलदायक रहेगा।

🍯कुंभ
यात्रा लाभदायक रहेगी। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। डूबी हुई रकम प्राप्ति के योग हैं, प्रयास करें। सफलता मिलेगी। शेयर मार्केट व मुच्युअल फंड लाभदायक रहेगा। जल्दबाजी न करें। समय की अनुकूलता का लाभ मिलेगा। पार्टनरों व मित्रों का सहयोग व मार्गदर्शन मिलेगा।

🐟मीन
अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। कर्ज लेना पड़ सकता है। कुसंगति से बचें। अपेक्षित कार्यों में विलंब होगा। तनाव रहेगा। विवाद को बढ़ावा न दें। आशंका-कुशंका के चलते समय पर निर्णय नहीं ले पाएंगे। दूसरों के काम में हस्तक्षेप न करें। आय में निश्चितता रहेगी। व्यापार में लाभ होगा।

🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

15 + 12 =

WhatsApp chat