🐊मकर राशि के लोगों को स्थायी संपत्ति में वृद्धि के योग, आपकी राशि में क्या? पढ़िये धर्मा कर्मा में अपना राशिफ़ल..

आचार्य रमेश चन्द्र तिवारी धानिवबांग नालासोपारा पालघर महाराष्ट्र 🌸🙏
सम्पर्क सूत्र – 9518782511
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏
🙏🌸🙏 अथ पंचांगम् 🙏🌸🙏
🙏ll जय श्री राधे ll*🙏
🙏🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🙏

दिनाँक -: 08/03/2020,रविवार
चतुर्दशी, शुक्ल पक्ष
फाल्गुन
“””””””””””””””””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ——–चतुर्दशी 27:03:00 तक
पक्ष —————————-शुक्ल
नक्षत्र ——-आश्लेषा 06:51:07
नक्षत्र ————मघा 28:08:35
योग ———–सुकर्मा 21:09:49
करण ———–गरज 16:49:50
करण ——–वाणिज 27:03:00
वार ————————–रविवार
माह ————————-फाल्गुन
चन्द्र राशि ——- कर्क 06:51:07
चन्द्र राशि ———————सिंह
सूर्य राशि ———————कुम्भ
रितु ————————–शिशिर
आयन ——————-उत्तरायण
संवत्सर ———————-विकारी
संवत्सर (उत्तर) ———-परिधावी
विक्रम संवत —————-2076
विक्रम संवत (कर्तक)——2076
शाका संवत —————-1941

मुम्बई
सूर्योदय —————–06:57:19
सूर्यास्त —————–18:40:44
दिन काल ————–11:45:25
रात्री काल ————-12:13:30
चंद्रोदय —————–16:56:04
चंद्रास्त —————–30:25:47

लग्न —-कुम्भ 23°48′ , 323°48′

सूर्य नक्षत्र ———–पूर्वाभाद्रपदा
चन्द्र नक्षत्र —————-आश्लेषा
नक्षत्र पाया ——————–रजत

          🙏🌸पद, चरण 🌸🙏

डो —-आश्लेषा 06:51:07

मा —-मघा 12:12:50

मी —-मघा 17:32:53

मू —-मघा 22:51:24

मे —-मघा 28:08:35

         🙏🌸 ग्रह गोचर 🌸🙏

ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद

सूर्य=कुम्भ 23°22 ‘ पू o भा o, 2 सो
चन्द्र =कर्क 29°23 ‘ अश्लेषा ‘ 4 डो
बुध = कुम्भ 04°50 ‘ धनिष्ठा’ 4 गे
शुक्र= मेष 09°55, अश्विनी ‘ 3 चो
मंगल=धनु 18°30′ पू o षा o ‘ 2 धा
गुरु=धनु 26°50 ‘ पू oषाo , 4 ढा
शनि=मकर 02°43′ उ oषा o ‘ 2 भो
राहू=मिथुन 10°42 ‘ आर्द्रा , 2 घ
केतु=धनु 10 ° 42 ‘ मूल , 4 भी

          🌸शुभा$शुभ मुहूर्त🌸

राहू काल 16:55 – 18:23 अशुभ
यम घंटा 12:30 – 13:58 अशुभ
गुली काल 15:26 – 16:55 अशुभ
अभिजित 12:07 -12:54 शुभ
दूर मुहूर्त 16:49 – 17:36 अशुभ

🌸गंड मूल अहोरात्र अशुभ

🌸चोघडिया, दिन
उद्वेग 06:37 – 08:06 अशुभ
चर 08:06 – 09:34 शुभ
लाभ 09:34 – 11:02 शुभ
अमृत 11:02 – 12:30 शुभ
काल 12:30 – 13:58 अशुभ
शुभ 13:58 – 15:26 शुभ
रोग 15:26 – 16:55 अशुभ
उद्वेग 16:55 – 18:23 अशुभ

🌸चोघडिया, रात
शुभ 18:23 – 19:54 शुभ
अमृत 19:54 – 21:26 शुभ
चर 21:26 – 22:58 शुभ
रोग 22:58 – 24:30* अशुभ
काल 24:30* – 26:01* अशुभ
लाभ 26:01* – 27:33* शुभ
उद्वेग 27:33* – 29:05* अशुभ
शुभ 29:05* – 30:36* शुभ

नोट— दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है।
प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है।
चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥
रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार ।
अमृत में काम सभी करो , सहाय करो कर्तार ॥
अर्थात- चर में वाहन,मशीन आदि कार्य करें ।
उद्वेग में भूमि सम्बंधित एवं स्थायी कार्य करें ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार ,सगाई व चूड़ा पहनना आदि कार्य करें ।
लाभ में व्यापार करें ।
रोग में जब रोगी रोग मुक्त हो जाय तो स्नान करें ।
काल में धन संग्रह करने पर धन वृद्धि होती है ।
अमृत में सभी शुभ कार्य करें ।

🌸दिशा शूल ज्ञान————-पश्चिम
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा चिरौजी खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l
भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll

🌸 अग्नि वास ज्ञान -:
यात्रा विवाह व्रत गोचरेषु,
चोलोपनिताद्यखिलव्रतेषु ।
दुर्गाविधानेषु सुत प्रसूतौ,
नैवाग्नि चक्रं परिचिन्तनियं ।। महारुद्र व्रतेSमायां ग्रसतेन्द्वर्कास्त राहुणाम्
नित्यनैमित्यके कार्ये अग्निचक्रं न दर्शायेत् ।।

   14 + 1 + 1 = 16  ÷ 4 = 0 शेष

मृत्यु लोक पर अग्नि वास हवन के लिए शुभ कारक है l

 *🌸शिव वास एवं फल -:*

14 + 14 + 5 = 33 ÷ 7 = 5 शेष

ज्ञानवेलायां = कष्ट कारक

🌸भद्रा वास एवं फल -:

स्वर्गे भद्रा धनं धान्यं ,पाताले च धनागम:।
मृत्युलोके यदा भद्रा सर्वकार्य विनाशिनी।।

रात्रि 27:03 से प्रारम्भ

मृत्यु लोक = सर्वकार्य विनाशिनी

        🌸विशेष जानकारी🌸
  • विश्व महिला दिवस 🙏🌸शुभ विचार🌸🙏

बंधनानि खलु सन्ति बहूनि प्रेमरज्जुकृतबन्धनमन्यत् ।
दारुभेदनिपुणोऽपिषण्डघ्निर्निष्क्रियोभवति पंकजकोशे ।।
।।चा o नी o।।

दुनिया में बाँधने के ऐसे अनेक तरीके है जिससे व्यक्ति को प्रभाव में लाया जा सकता है और नियंत्रित किया जा सकता है. सबसे मजबूत बंधन प्रेम का है. इसका उदाहरण वह मधु मक्खी है जो लकड़ी को छेड़ सकती है लेकिन फूल की पंखुडियो को छेदना पसंद नहीं करती चाहे उसकी जान चली जाए.

         🌸 सुभाषितानि 🌸

गीता -: मोक्षसन्यासयोग अo-18

यदग्रे चानुबन्धे च सुखं मोहनमात्मनः।,
निद्रालस्यप्रमादोत्थं तत्तामसमुदाहृतम्‌॥,

जो सुख भोगकाल में तथा परिणाम में भी आत्मा को मोहित करने वाला है, वह निद्रा, आलस्य और प्रमाद से उत्पन्न सुख तामस कहा गया है॥,39॥,

🌸 व्रत पर्व विवरण – विश्व महिला दिवस
🌸विशेष – चतुर्दशी और पूर्णिमा के दिन स्त्री-सहवास तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)

🌷 ज्योतिष शास्त्र🌷
🙏🏻ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,फाल्गुन मास की पूर्णिमा(09 मार्च,सोमवार)को किए गए उपाय बहुत ही जल्दी शुभ फल प्रदान करते हैं। आज हम आपको होली पर किए जाने वाले कुछ साधारण उपाय बता रहे हैं। ये उपाय इस प्रकार हैं-


🌸धन लाभ का उपाय🌸
🔥होलिका दहन से पहले जब गड्ढा खोदें,तो सबसे पहले उसमें थोड़ी चांदी,पीतल व लोहा दबा दें। यह तीनों धातु सिर्फ इतनी मात्रा में होनी चाहिए,जिससे आपकी मध्यमा उंगली के नाप का छल्ला बन सके। इसके बाद विधि-विधान से दाण्डा रोपे। जब आप होलिका पूजन को जाएं,तो पान के एक पत्ते पर कपूर,थोड़ी-सी हवन सामग्री,शुद्ध घी में डुबोया लौंग का जोड़ा तथा बताशे रखें।
🍃 दूसरे पान के पत्ते से उस पत्ते को ढक दें और 7 बार होलिका की परिक्रमा करते हुए ऊं नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जप करें। परिक्रमा समाप्त होने पर सारी सामग्री होलिका में अर्पित कर दें तथा पूजन के बाद प्रणाम करके घर वापस आ जाएं। अगले दिन पान के पत्ते वाली सारी नई सामग्री ले जाकर पुन:यही क्रिया करें। जो धातुएं आपने दबाई हैं,उनको निकाल लाएं।
➡ फिर किसी सुनार से तीनों धातुओं को मिलाकर अपनी मध्यमा उंगली के माप का छल्ला बनवा लें। 15 दिन बाद आने वाले शुक्ल पक्ष के गुरुवार को छल्ला धारण कर लें। इस उपाय से धन लाभ के योग बन सकते हैं।


🙏ग्रहों की शांति के लिए उपाय🙏
🔥होलिका दहन की रात उत्तर दिशा में बाजोट (पटिए) पर सफेद कपड़ा बिछाकर उस पर मूंग, चने की दाल, चावल, गेहूं, मसूर, काले उड़द एवं तिल की ढेरी बनाएं। अब उस पर नवग्रह यंत्र स्थापित करें। उस पर केसर का तिलक करें, घी का दीपक लगाएं एवं नीचे लिखे मंत्र का जप करें। जप स्फटिक की माला से करें। जप पूरा होने पर यंत्र को पूजा स्थान पर स्थापित करें, ग्रह अनुकूल होने लगेंगे।
🌸मंत्र- ब्रह्मा मुरारी त्रिपुरान्तकारी भानु शशि भूमि-सुतो बुधश्च।
गुरुश्च शुक्र शनि राहु केतव: सर्वे ग्रहा शांति करा भवंतु।।


➡बिजनेस में सक्सेस पाने का उपाय⬅
🏉 एकाक्षी नारियल को लाल कपड़े में गेहूं के आसन पर स्थापित करें और सिंदूर का तिलक करें। अब मूंगे की माला से नीचे लिखे मंत्र का जप करें। 21 माला जप होने पर इस पोटली को दुकान में ऐसे स्थान पर टांग दें, जहां ग्राहकों की नजर इस पर पड़ती रहे। इससे व्यापार में सफलता मिलने के योग बन सकते हैं।
🌸मंत्र- ऊं श्रीं श्रीं श्रीं परम सिद्धि व्यापार वृद्धि नम:।
👰🏻शीघ्र विवाह के लिए उपाय👰🏻
🔥होली की सुबह एक साबूत पान पर साबुत सुपारी एवं हल्दी की गांठ शिवलिंग पर चढ़ाएं तथा पीछे पलटे बगैर अपने घर आ जाएं। यही प्रयोग अगले दिन भी करें। जल्दी ही आपके विवाह के योग बन सकते हैं।
🤕रोग नाश के लिए उपाय 🤕
➡अगर आप किसी बीमारी से परेशान हैं, तो इसके लिए भी होली की रात को खास उपाय करने से आपकी बीमारी दूर हो सकती है। होली की रात आप नीचे लिखे मंत्र का जाप तुलसी की माला से करें। इससे आपकी परेशानी दूर हो सकती है।
🌸मंत्र- ऊं नमो भगवते रुद्राय मृतार्क मध्ये संस्थिताय मम शरीरं अमृतं कुरु कुरु स्वाहा


💰धन लाभ के लिए उपाय💰
🔥होली की रात चंद्रमा के उदय होने के बाद अपने घर की छत पर या खुली जगह, जहां से चांद नजर आए, वहां खड़े हो जाएं। फिर चंद्रमा का स्मरण करते हुए चांदी की प्लेट में सूखे छुहारे तथा कुछ मखाने रखकर शुद्ध घी के दीपक के साथ धूप एवं अगरबत्ती अर्पित करें। अब दूध से चंद्रमा को अर्ध्य दें।
🌙 अर्ध्य के बाद सफेद मिठाई तथा केसर मिश्रित साबूदाने की खीर अर्पित करें। चंद्रमा से समृद्धि प्रदान करने का निवेदन करें। बाद में प्रसाद और मखानों को बच्चों में बांट दें। फिर लगातार आने वाली प्रत्येक पूर्णिमा की रात चंद्रमा को दूध का अर्ध्य दें। कुछ ही दिनों में आप महसूस करेंगे कि आर्थिक संकट दूर होकर समृद्धि निरंतर बढ़ रही है।

बच्चो को किसी की बुरी नज़र लग जाये तो रात के समय 2चम्मच चावल और इतना ही नमक साथ साथ में उबाल के किसी पेपर पे रख के बच्चे को दिखा के चैराहे पे रख दे।
बुरी नज़र बिल्कुल खत्म हो जाएगी।

🌸होली विशेष🌸
🔥होली का दिन चंद्रमा का प्रागट्य दिन है, जो लोग सदा किसी न किसी दुःख से पीड़ित रहते हो , तो दुःख और शोक दूर करने के लिए विष्णु-धर्मोत्तर ग्रंथ में बताया है कि होली के दिन भगवान के भूधर स्वरुप अर्थात पृथ्वी को धारण करनेवाले भगवान का ध्यान और जप करना चाहिये, मंत्र बोलना चाहिये होली के दिन इनका विशेष माहात्म्य और फायदे है –


🌸 ॐ भूधराय नम:….. ॐ भूधराय नम: ….. ॐ भूधराय नम:
🙏🏻और नीचे श्लोक एक बार बोलना और भगवान को, गुरु को विशेषरूप से प्रणाम और पूजन कर लें –
धरणीम् च तथा देवीं अशोकेती च कीर्तयेत्।
यथा विशोकाम धरणी कृत्वान्स्त्वां जनार्दन:।।
🙏🏻( हे भगवान जब जब भी पृथ्वी देवी असुरों से पीड़ित होकर आपको पुकारती है , तब तब आप राक्षसों का वध करते है और पृथ्वी को धारण करके उसका शोक दूर कर देते है, ऐसे आप भगवान मेरे भी शोक, दुःख आदि का हरण करे और मुझे धारण करें।) खाली होली के दिन ये करें।
🔥और होली के रात को चंद्रमा को अर्घ्य देना चाहिये, जिनके घर मे पैसों की तंगी रहती है, आर्थिक कष्ट सहना पड़ता है, तो होली के रात दूध और चावल की खीर बनाकर चंद्रमा को भोग लगाये पानी, दूध, शक्कर, चावल मिलाकर चंद्रमा को अर्घ्य दे , दिया जलाकर दिखायें और थोड़ी देर चंद्रमा की चाँदनी में बैठकर गुरुमंत्र का जप करें और प्रार्थना करें हमारे घर का जो आर्थिक संकट है वो टल जायें, कर्जा है तो उतर जाये, होली की रात फिर बैठकर जप करें बहुत फायदा होगा, चंद्रमा उदय होने पर चंद्रमा में भगवान विष्णु, लक्ष्मी और सूर्य की भावना करके अर्घ्य देना चाहिये कि सामने भगवान विष्णु ही बैठे है, भगवान ने गीता में कहा ही है कि नक्षत्रों का अधिपति चन्द्रमा मैं ही हूँ, ये शास्त्रों की बात याद रखे कि दुःख की और कर्जे की ताकत नहीं कि उस आदमी के सिर पर बना रहे।


🌸श्रीर्निषा चन्द्र रुपस्त्वं वासुदेव जगत्पते।
मनोविलसितं देव पूर्यस्व नमो नमः।।
ॐ सोमाय नम:
ॐ नारायणाय नम:
ॐ श्रीं नम:
🙏🏻लक्ष्मीजी का मंत्र – ॐ श्रीं नम: होली की रात घर मे आर्थिक परेशानी को दूर भगाने वाला ये सरल प्रयोग है।

🌸होली में क्या करें🌸
🙏🏻 होली की रात्रि चार पुण्यप्रद महारात्रियों में आती है, होली की रात्रि का जागरण और जप बहुत ही फलदायी होता है।
➡ ऋतु-परिवर्तन के 10-20 दिनों में नीम के 15 से 20 कोमल पत्तों के साथ 2 काली मिर्च चबाकर खाने से वर्ष भर आरोग्य दृढ़ रहता है, बिना नमक का भोजन 15 दिन लेने वाले की आयु और प्रसन्नता में बढ़ोतरी होती है।


💥होली के बाद खजूर खाना मना है।
👉🏻 बाजारू केमिकलों से युक्त रंगों के बदले पलाश के फूलों के रंग से अथवा अन्य प्राकृतिक रंगों से होली खेलनी चाहिए, इससे सप्तरंगों व सप्तधातुओं का संतुलन बना रहता है।
👉🏻 अन्य कुछ प्राकृतिक रंगः मेंहदी पाउडर के साथ आँवले का पाउडर मिलाने से भूरा रंग, चार चम्मच बेसन में दो चम्मच हल्दी पाउडर मिलाने से अच्छा पीला रंग बनता है, बेसन के स्थान पर आटा, मैदा, चावल का आटा, आरारोट या मुलतानी मिट्टी का भी उपयोग किया जा सकता है।
👉🏻 दो चम्मच हल्दी पाउडर दो लीटर पानी में डालकर अच्छी तरह उबालने से गहरा पीला रंग प्राप्त होता है।
🍏 आँवला चूर्ण लोहे के बर्तन में रात भर भिगोने से काला रंग तैयार होता है।

🌸 मंत्र – साफल्य दिवस : होली 🌸
🙏🏻होली के दिन किया हुआ जप लाख गुना फलदायी होता है, यह साफल्य – दिवस है, घुमक्कड़ों की नाई भटकने का दिन नहीं है, मौन रहना, उपवास पर रहना, फलाहार करना और अपना-अपना गुरुमंत्र जपना।
🙏🏻इस दिन जिस निमित्त से भी जप करोंगे वह सिद्ध होगा, ईश्वर को पाने के लिए जप करना, नाम –जप की कमाई बढ़ा देना ताकि दुबारा माँ की कोख में उलटा होकर न टंगना पड़े, पेशाब के रास्ते से बहकर नाली में गिरना न पड़े, होली के दिन लग जाना लाला- लालियाँ ! आरोग्य मंत की भी कुछ मालाएँ कर लेना।


🌸 अच्युतानन्तगोविन्द नामोच्चारणभेषजात।
नश्यन्ति सकला रोगा: सत्यं सत्यं वदाम्यहम।।
🙏🏻‘ हे अच्युत ! हे अनंत ! हे गोविंद ! – इस नामोच्चारणरूप औषध से तमाम रोग नष्ट हो जाते है, यह मैं सत्य कहता हूँ, सत्य कहता हूँ ।
🙏🏻 दोनों नथुनों से श्वास लेकर करीब सवा से डेढ़ मिनट तक रोकते हुए मन–ही–मन दुहराना –
🌷 नासै रोग हरै सब पीरा।जपत निरंतर हनुमत बीरा।।
🙏🏻फिर ५० से ६० सेकंड श्वास बाहर रोककर मंत्र दुहराना, इस दिन जप-ध्यान का फायदा उठाना, काम-धंधे तो होते रहेंगे, अपने-अपने कमरे में गोझरणमिश्रित पानी से पोता मारकर थोडा गंगाजल छिडक के बैठ जाना हो सके तो इस दिन गोझरण मल के स्नान कर लेना, लक्ष्मी स्थायी रखने की इच्छा रखनेवाले गाय का दही शरीर पर रगड़ के स्नान कर लेना, लेकिन वास्तविक तत्त्व तो सदा स्थायी है, उसमें अपने ‘मैं’ को मिला दो बस, हो गया काम !
🙏🏻ब्रम्हचर्य-पालन में मदद के लिए “ॐ अर्यमायै नम:” मंत्र का जप बड़ा महत्त्वपूर्ण है।

🙏🏻एकादशी
19 मार्च

प्रदोष
7 मार्च
21 मार्च

अमावस्या
24 मार्च

पूर्णमासी
9मार्च

होलिका दहन 2020 का मुहूर्त : 06 बजकर 26 मिनट से रात 08 बजकर 52 मिनट तक, 9 मार्च, 2020

       🌸दैनिक राशिफल🌸

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

🐏मेष
किसी तीर्थस्थान के दर्शन तथा पूजा-पाठ का आयोजन हो सकता है। व्यय होगा। राजकीय सहयोग से स्थिति अनुकूल होगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। आलस्य न कर भरपूर कोशिश करें। आय में वृद्धि होगी। चोट व रोग से बाधा संभव है। जल्दबाजी न करें।

🐂वृष
योजना फलीभूत होगी। कारोबार में वृद्धि होगी। कार्यस्थल पर सुधार व परिवर्तन हो सकता है। निवेश लाभदायक रहेगा। भाग्य का साथ रहेगा। प्रसन्नता तथा उत्साह से काम कर पाएंगे। पार्टनरों का सहयोग प्राप्त होगा। जल्दबाजी से बचें। व्यस्तता के कारण थकान रहेगी।

👫मिथुन
डूबी हुई रकम प्राप्ति के योग हैं, भरपूर प्रयास करें। यात्रा लाभदायक रहेगी। समय की अनुकूलता का लाभ लें। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। प्रेम-प्रसंग मनोनुकूल रहेंगे। घर-बाहर प्रसन्नता तथा उत्साह का वातावरण रहेगा। प्रमाद न करें।

🦀कर्क
फालतू खर्च होगा। आर्थिक परेशानी हो सकती है। मित्रों का सहयोग प्राप्त होगा। स्वास्थ्य संबंधी परेशानी भी हो सकती है। गलतफहमी के कारण विवाद हो सकता है। नए संबंध बनाने के पहले विचार करें। महत्वपूर्ण निर्णय लेने में जल्दबाजी न करें। लाभ होगा।

🐅सिंह
स्वास्थ्य का ध्यान रखें। जल्दबाजी में चोट लग सकती है। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। भेंट व उपहार की प्राप्ति संभव है। निवेश मनोनुकूल लाभ देगा। अज्ञात भय सताएगा। कमजोरी रह सकती है। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। व्यापार अच्छा चलेगा।

🙎कन्या
भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। उत्साहवर्धक सूचना मिलेगी। आत्मसम्मान बना रहेगा। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। किसी यात्रा की योजना बन सकती है। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। दूसरे के कार्य में हस्तक्षेप न करें। धन प्राप्ति सुगमता से होगी।

⚖तुला
प्रयास थोड़े तथा लाभ अधिक होगा। कार्यसिद्धि से प्रसन्नता रहेगी। नौकरी में उच्चाधिकारी की प्रसन्नता प्राप्त होगी। शेयर मार्केट व म्युचुअल फंड इत्यादि लाभदायक रहेंगे। किसी बड़े कार्य को करने का मन बनेगा। आय में वृद्धि होगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। मित्रों का सहयोग कर पाएंगे।

🦂वृश्चिक
वाणी में हल्के शब्दों के प्रयोग से बचें। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। कोई बुरी खबर प्राप्त हो सकती है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। हताशा का अनुभव होगा। मित्रों का सहयोग प्राप्त होगा। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। आय में निश्चितता रहेगी। धैर्य रखें।

🏹धनु
अध्ययन तथा शोध इत्यादि कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। पार्टी व पिकनिक का कार्यक्रम बन सकता है। मित्रों के साथ समय सुखद व्यतीत होगा। मनपसंद भोजन का आनंद प्राप्त होगा। प्रसन्नता तथा उत्साह से कार्य कर पाएंगे। हित शत्रुओं से सावधानी आवश्यक है।

🐊मकर
स्थायी संपत्ति में वृद्धि के योग हैं। कारोबारी बड़े सौदे हो सकते हैं। बड़ा मुनाफा हो सकता है। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे। प्रसन्नता का वातावरण निर्मित होगा। प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे। वाणी पर नियंत्रण रखें थकान रहेगी।

🍯कुंभ
राजकीय सहयोग प्राप्त होगा। अटके काम पूरे होंगे। ऐश्वर्य के साधनों पर खर्च होगा। लाभ में वृद्धि होगी। निवेश इत्यादि लाभप्रद रहेंगे। पारिवारिक सहयोग प्राप्त होगा। घर-बाहर प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। उत्साह से कार्य कर पाएंगे। ईर्ष्यालु व्यक्तियों से सावधान रहें। प्रमाद न करें।

🐟मीन
चोट व दुर्घटना से हानि संभव है। किसी भी तरह के विवाद में भाग न लें। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रह सकता है। लेन-देन में सावधानी रखें। बाजार में इज्जत बढ़ेगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। शेयर मार्केट व म्युचुअल फंड इत्यादि मनोनुकूल रहेंगे। इसके बाद भी चिंता बनी रहेगी।

🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

sixteen − 7 =

WhatsApp chat