Dream Zone Journey from Zero to Hero 

अगर आपको खुद पर विश्वास है तो आपके सपने को पूरे होने से कोई नही रोक सकता – मान्या ओमप्रकाश सिंह

‘तू खुद की खोज में निकल, तू किस लिए हताश है, तू चल… तेरे वजूद को समय को भी तलाश है…’ यह कहना मिस इंडिया फर्स्ट रनर-अप मान्या ओमप्रकाश सिंह का, जिनके संघर्ष की कहानी ने लोगों का दिल ही नहीं जीता बल्कि उन्हें समझाया कि आपका बैकग्राउंड क्या है, आपक कहां से आते हैं, कुछ मायने नहीं रखता। मायने रखता है तो आपका जज्बा और जुनून। बता दें, तेलंगाना की मानसा वाराणसी ने वीएलसीसी मिस इंडिया 2020 का खिताब जीता। जबकि उत्तर प्रदेश की मान्या फर्स्ट रनर अप और मनिका शियोकांड दूसरी रनर अप रहीं। लेकिन तीनों में मान्या की कहानी लोगों के लिए प्रेरणा बन चुकी है। सोशल मीडिया पर लोग उनके जज्बे को सलाम कर रहे हैं।

मान्या सिंह ने एक इंटरव्यू में बताया, ‘कॉलेज के दौरान किसी को नहीं पता था कि मेरे पिता ऑटो रिक्शा चलाते हैं। लेकिन जब सबको यह पता चला तो कोई मुझसे बात नहीं करता था। साथ ही, जब उन्हें इसकी खबर हुई कि मैं पिज्जा हट और कॉल सेंटर में भी काम कर चुकी हूं तो लोग बोलते थे क्या कर रही हूं। इतना ही नहीं, जब मैं उनके सामने मिस इंडिया बनने की ख्वाहिश जाहिर करती तो वे मुझमें ढेर सारी कमिया निकालकर कहते थे कि तुम मिस इंडिया नहीं बन सकती।

अपनी एक इंस्टा स्टोरी के मान्या ने खुलासा किया था कि उनके पिता ऑटो रिक्शा चलाते हैं। उनका सफर काफी मुश्किलों भरा रहा है। उन्होंने कई रातें खाली पेट और नींद के बिना गुजारी हैं। हालांकि, उनके पेरेंट्स ने हमेशा उनका साथ दिया। वो कहती हैं कि Femina Miss India के स्टेज तक वो सिर्फ अपने माता-पिता और भाई की वजह से पहुंच सकीं। क्योंकि उन्होंने मान्या को सिखाया कि अगर आपको खुद पर विश्वास है तो आपके सपने पूरे हो सकते हैं।

मान्या कहती हैं, ‘मेरा बैकग्राउंड हमेशा से मेरी ताकत रहा है। हमें हमेशा जमीन से जुड़े रहना चाहिए। आप चाहे कितना आसामन छू लो। आपका सिर हमेशा ऊंचा रहना चाहिए और आपके पैर जमीन पर रहने चाहिए। संतुलन जरूरी है।

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

1 × 3 =

WhatsApp chat