ठाणे से बोरीवली तक सुरंग मार्ग की घोषणा, और साथ में वर्सोवा से विरार तक सी लिंक का विस्तार…एकनाथ शिंदे

जी हां कल यानी शुक्रवार को पीडब्ल्यूडी मंत्री एकनाथ शिंदे ने घोषणा किया कि ठाणे और बोरीवली को जोड़ने के लिए एक भूमिगत सड़क विकसित की जाएगी।

ये बात महाराष्ट्र राज्य सड़क विकास निगम (MSRDC) के बांद्रा कार्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान, श्री शिंदे ने कहा, इस परियोजना से ठाणे और बोरीवली के बीच यात्रा का समय कम हो जाएगा और एक भूमिगत सुरंग भी तैयार हो जाएगी।

MSRDC ने 10 किलोमीटर लंबी सड़क के लिए वन विभाग से अनुमति मांगी है। एमएसआरडीसी के एक अधिकारी ने कहा कि तीन लेन की दो सुरंगें होंगी और यह सुरंग 15 मीटर चौड़ी होगी। भूमिगत सड़क के कारण, घोड़बंदर सड़क पर मोड़ से भी बचा जा सकता है।

वर्तमान में, ठाणे और बोरीवली के बीच यात्रा करने के लिए सड़क मार्ग से लगभग दो से तीन घंटे लगते हैं जो रोजमर्रा अप डाउन करने वालों के लिए किसी सजा से कम नही है।

इस परियोजना के पूरा होने पर, लगभग 21 किमी की दूरी को कवर करने में मात्र 15 मिनट का समय लगेगा। सड़क में 1 किमी लंबी लिंक रोड भी होगी। 10.20 किलोमीटर लंबी सुरंग संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान के तहत बनाई जाएगी, और टिकुजी नी वादी (ठाणे) से शुरू होगी और बोरीवली में पश्चिमी एक्सप्रेसवे के साथ जुड़ जाएगी।

एमएसआरडीसी अधिकारी ने कहा, परियोजना को पर्यावरण विभाग से मंजूरी मिल गई है। इसे वन विभाग से अनुमोदन के लिए प्रस्तुत किया गया है। परियोजना की अनुमानित लागत 8,900 करोड़ रुपये होगी।

MSRDC के सूत्रों ने कहा कि वर्तमान में, इस परियोजना के लिए अपर्याप्त धन है MSRDC राज्य सरकार से वित्तीय सहायता की उम्मीद कर रहा है परियोजना के लिए विकास योजना रिपोर्ट अंतिम चरण में है।

श्री शिंदे ने यह भी घोषणा किया कि बांद्रा-वर्सोवा सी लिंक को विरार तक बढ़ाया जाएगा। एमएसआरडीसी के अधिकारी उसी के लिए विकास योजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार कर रहे हैं, उन्होंने यह भी कहा कि मुंबई और नागपुर को जोड़ने वाले समृद्धि महामार्ग कॉरिडोर के 700 किमी लंबी सड़क पर काम शुरू हो चुका है और 18 से 20 प्रतिशत काम पूरा भी हो चुका है। पूरी परियोजना के 2022 तक पूरा होने की उम्मीद है।

Spread the love

Related posts

Leave a Comment

17 − eight =

WhatsApp chat