इंडस्ट्री के ये पांच बौने गुमनामी में जी रहे हैं जिंदगी, आपने न्यूज़पेपर में पढ़ा होगा। मगर क्या है इसकी वजह, !! हम बता रहे हैं अपने नजरिये से..

फिल्म इंडस्ट्री में कई बौने हैं जो एक्टर्स हैं। ये एक्टिंग करते हैं और कमाल करते हैं। बात चाहे तीन फुट के, के के गोस्वामी की हो या फिर ‘बाबा ऐसो वर ढूंढो’ वाली जूही असलम की। ये एक्टर्स किरदार में ऐसे रम जाते हैं कि बड़े बड़े स्टार्स भी इनके सामने बौने नजर आते हैं।

ऐसा बिल्कुल नही है ना ही होता है मनोरंजन के हिसाब से थोड़ा सपोर्ट के लिए इनकी अहमियत होनी चाहिए, जैसे खाने के साथ चटनी, मगर चटनी को सब्जी की तरह प्रयोग करेंगें तो क्या होगा , वही हो रहा है इनके साथ।

जूही असलम को फैंस ‘बाबा ऐसो वर ढूंढो’ सीरियल की भारती के रूप में जानते हैं। इस शो से जूही इतनी फेमस हुईं कि लोग उनका असली नाम भूल भारती बुलाने लगे। आज जूही असलम को पहचान की जरूरत नहीं है लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब लोग उनका खूब मजाक उड़ाते थे। दरअसल जूही की हाइट बहुत कम है। वो 3.5 फुट की हैं। ‘बाबा ऐसो वर ढूंढो’ के अलावा 28 साल की जूही ने ‘जोधा अकबर’ और ‘कबूल है’ जैसे सीरियल्स में भी काम किया है। जूही हाल ही में बेटे की मां भी बनी हैं।

आपको अगर बताए तो आपको विश्वास नही होगा , सिर्फ आप इनको किसी भी काम के अप्प्रोच करिये एड फ़िल्म , फ़िल्म या टीवी सीरियल के लिए इनकी अप्प्रोच आज इस हालत का बयान कर देगी, क्यों ऐसा करते हो, अपने से पहले की घटनाओं से आपको भी सीखना चाहिए। विस्तृत में हम आपको इनके बारे में बहुत जल्द बताएंगें।

केके गोस्वामी की हाइट 3 फीट है। वो कई टीवी सीरियल में काम कर चुके हैं। हाल ही में केके भाभी जी घर पर हैं सीरियल में नजर आए थें। इन्होंने ‘सीआईडी’, ‘चक्रवर्ती अशोक सम्राट’, ‘त्रिदेवियां’, ‘जूनियर टी’, और ‘गुटर-गू’ जैसे सीरियलों में काम किया है। के के गोस्वामी मुजफ्फरपुर बिहार के रहने वाले हैं। गोस्वामी को बचपन में सर्कस वाले लेने आए थे। मोटी रकम देने को तैयार थे लेकिन उनके पिता को अपने बेटे से बहुत प्यार था। उन्होंने केके को नहीं ले जाने दिया।

मुझे भी किसी फिल्म के एक्टर ने मिलवाया कहा भैया इनको कुछ काम दीजिये अपनी फिल्म में मगर मैं असमर्थ था क्योंकि हमारी स्क्रिप्ट में कोई इस तरह का कररेक्टर ही नही था, मगर एक बात बता दूं की इनके मिलने का तरीका ऐसा था मानो ये फ़िल्म इंडस्ट्री के सुपर स्टार है। काम के लिए अप्प्रोच का तरीका और सलीका बहुत ही खराब था जो एक आर्टिस्ट का नही होना चाहिए।

ज्योति आम्गे की हाइट 2.06 फीट है। लिम्का बुक ऑफ रिकार्डस और गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड के अनुसार ज्योति विश्व की सबसे छोटे कद की जीवित महिला हैं।ज्योति बिग बॉस सीजन 6 की कंटेस्टेंट भी रह चुकी हैं। उन्होंने टीवी सीरीज अमेरिकन हॉरर स्टोरी के चौथे सीजन फ्रीक शो (2014) में भी काम किया है।

इनके बारे में कुछ नही कह सकता क्योंकि मैं इनको पर्सनल रूप से नही जानता। मगर कभी मुलाक़ात हुई तो ज़रूर बताएंगें आपको क्योंकि कही ना कही हम अपनी कामयाबी और असफलता के लिए खुद Hई ज़िम्मेदार होते हैं।

अजय कुमार मलयालम फिल्मों के कॉमेडियन हैं। उनकी हाइट 2.6 फीट की है। वह मलयाली फिल्म ‘अद्भुत द्वीप’ में नजर आ चुके हैं। इनके नाम दो गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड हैं।पहला किसी फिल्म में मुख्य किरदार निभाने वाले सबसे कम कद के एक्टर का और दूसरा मूवी को डायरेक्ट करने वाले सबसे कम कद के शख्स होने का।

इनके बारे में भी फिलहाल कोई कमेंट नही करूँगा मगर ऊपर लिखे गए कारणों में से कही ना कहीं ये भी मेल खाते नज़र आएंगे। जो इसका सबसे बडा कारण साबित होगा, विश्वास ना हो तो आजमा कर देख लिजीएगा।

लिलीपुट बहुत ही पुराने और पॉपुलर बौने एक्टर हैं। उनकी हाइट 3.5 फीट है। लिलीपुट ने ‘बंटी और बबली’, ‘स्वर्ग’, ‘आंटी नंबर वन’, ‘कभी तुम कभी हम’ सहित कई बड़ी फिल्मों में काम किया है। इतना ही नहीं वो देख भाई देख, सीआईडी और मानो या ना मानो जैसे बड़े टीवी सीरियल में भी नजर आ चुके हैं। उम्र के इस पड़ाव में कोई उन्हें काम देने को तैयार नहीं है इस वजह से वह कर्ज में डूबे हुए हैं। लोग भूल गए हैं कि इस बेहतरीन एक्टर ने एक समय इंडस्ट्री के लिए बेहतरीन काम किए थे। ये बात उन्होंने मुंबई मिरर को दिए इंटरव्यू में कही थी।

अच्छी बात है कि इनको इस बात का अनुमान है इंडस्ट्री किसी को अपना या किसी को पराया नही बनाती और हमारी ये फ़िल्म या टीवी इंडस्ट्री में जाति पाति का कोई भेद भाव नही होता है इसका सबसे बड़ा उदाहरण सलमान खान शाहरुख खान संजय दत्त अक्षय कुमार आमिर खान अजय देवगन हैं। रणवीर सिंह और रणवीर कपूर भी इसी इंडस्ट्री का हिस्सा हैं।

मैं आपको लिलिपुट के बारे में बताऊं तो वो एक बहुत बेहतरीन इंसान हैं काम में मास्टरी है चाहे सब्जेक्ट या स्क्रिप्ट लेबल का काम हो या कलाकार तो अच्छे हैं ही मगर प्रॉब्लम क्या है…ज़रूरत से ज्यादा उम्मीद रखना प्रोड्यूसर को 40 चीजे संभालनी होती है आप उसमें अगर ये साबित करने की कोशिश करेंगे कि मैं ही में हूं बाकी सबका कोई मतलब नही तो गलत है ये उसी का परिणाम है मेंने इनको देख भाई देख के कुछ सालों बाद अपने सीरियल के लिए अप्प्रोच किया था मगर…अफसोस …

इंडस्ट्री में जितने बड़े स्टार या सुपर स्टार का नाम बताया वे लोग जानते हैं कि फिल्में मेरे नाम पर बिकती है मगर वे लोग भी कभी मैं में नही जीते सबका ध्यान रखते है चाहे स्क्रिप्ट हो म्यूजिक हो डायरेक्टर हो तभी आज वर्षों से अपनी कामयाबी का झंडा गाड़े हुए हैं और नित नए मुकाम को हासिल करते जा रहे हैं।

हम इन सभी कलाकारों से जिनको बोला जा रहा है कि काम नही है गुमनामी की ज़िंदगी जी रहे हैं अनुरोध करूँगा सलाह दूंगा की आप अपने पुराने व्यवहार और पुराने रवैये को अपनाए और अपनी मेहनताना को एक हिसाब से डिमांड करें काम घर तक चल कर आएगा। ज़िन्दगी धूप छावं से ही चलती है आप भी उसी का हिसा हैं घबराएं नही रात के बाद सवेरा ही होता है आपके ज़िन्दगी में भी खुशीया आएंगी मगर उन्हें संभाल कर चलिएगा ताकि फिर वापस ना जायँ।

राम के विचारों को उनके आदर्शों को अपनाएं रावण के नही!! क्यों?? ..आप सब बखूबी जानते हैं।

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

19 − eleven =

WhatsApp chat