बालाजी टेलीफिल्म्स के शोज पर मंडरा रहा है खतरा, अगर वर्कर को नहीं मिली सेलरी तो वो शूट पर भी नहीं जाएंगे और ना ही शूटिंग होने देंगें…

टीवी के सबसे पॉपुलर शोज में गिने जाने वाले सीरियल कुमकुम भाग्य, नागिन, कसौटी ज़िन्दगी की 2 ,कुंडली भाग्य, जैसे शोज के शूट पर खतरा मंडरा रहा है। इसके पीछे एक बड़ा कारण ये है कि लॉकडाउन के बाद काफी शोज बंद हो गए हैं। क्योंकि प्रोडक्शन हाउस अपने कर्मचारियों को सैलरी देने में अक्षम थे। अब एकता कपूर की बालाजी टेलिफल्म के निचले स्तर के कर्मचारी अपनी सैलरी न मिलने की वजह से प्रोडक्शन हाउस से खफा हैं और दोबारा शूट शुरू होने से पहले हड़ताल कर सकते हैं। इतना ही नहीं ये कर्मचारी शूटिंग न होने देने की बात भी कर रहे हैं।

बालाजी टेलिफिल्म्स के कर्मचारियों को सिर्फ 20 मार्च तक की तनख्वाह मिली थी। इसके बाद उनको अप्रैल और मई की सैलरी नहीं मिली है। जिस वजह से ग्राउंड लेवल के कर्मचारियों का तबका निराश है। मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में बालाजी टेलिफिल्म के कर्मचारी ने बताया, पिछले 2 महीने से ज्यादा वक्त हो गया है, लेकिन अभी तक हमें सैलरी नहीं मिली है। हम लोग सैलरी के लिए उच्च स्तर पर बात कर रहे हैं।’ इतना ही नहीं उनका ये भी कहना है कि, ‘अगर उन्हें सैलरी नहीं दी गई तो वो शूट पर भी नहीं जाएंगे और ना ही शूटिंग होने देंगे।

आपको बताते चलें कि ग्राउंड लेवल के वर्कर्स में ज्यादातर लाइट मैन, स्पॉट बॉय, सेट पर मौजूद वेटर्स, सेटिंग आदि करने वाले कर्मचारी हैं। जिनके ना होने से शूट शुरू हो पाना काफी मुसबीत भरा होता है या यूं समझें नामुमकिन होता है। कोरोनावायरस की वजह से लॉकडाउन में न सिर्फ निचले स्तर के कर्मचारियों को आर्थिक तंगी से गुजरना पड़ा है। बल्कि कई टीवी एक्टर्स ने भी सामने आकर प्रोड्यसर्स से पैसे न मिलने पर फाइनेंशियल स्थिति बिगड़े की बात कही है।

वहीं अनलॉक 1 के बाद मुंबई के में सशर्त शूटिंग करने की इजाज़त दे दी गई है। जिसके चलते बालाजी टेलिफिल्म्स सहित कई शोज शूटिंग शुरू होने वाली है। हालांकि प्रोड्यूसर्स के साथ हुई सरकार की वर्चुअस मीटिंग में ये निर्णय लिया गया कि 10 साल तक के छोटे बच्चे और 65 साल से अधिक उम्रे के बुजुर्गों को शूटिंग की परमिशन नहीं दी जाएगी।

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

16 − 9 =

WhatsApp chat