आर्थर जेल में कोरोना का कहर, 77 कैदी और 26 स्टाफ पाए गए पॉजिटिव…

मुंबई में कोरोना का कहर कम होने का नाम नहीं ले रहा है. आम लोगों के अलावा अब इसका संक्रमण पुलिस विभाग में भी तेजी से फैल रहा है. अब यहां के आर्थर रोड जेल में कोविड-19 के मरीजों का पता चला है. आर्थर जेल में 103 कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. इसमें 77 कैदी और 26 जेल के स्टाफ हैं.

कैदियों को जीटी हॉस्पिटल और सेंट जॉर्ज हॉस्पिटल में दाखिल कराया जाएगा. कैदियों को शुक्रवार सुबह सुरक्षा के बीच हॉस्पिटल पहुंचाया जाएगा. जेल के जो स्टाफ हैं, उन्हें अलग से हॉस्पिटल पहुंचाया जाएगा.

आर्थर रोड जेल मुंबई की सबसे पुरानी जेल है. यह कस्तूरबा हॉस्पिटल के ठीक सामने है. कस्तूरबा हॉस्पिटल को ही मुंबई में कोविड-19 का नोडल हॉस्पिटल बनाया गया है. जेल में फिलहाल 2 हजार विचाराधीन कैदी बंद हैं, हालांकि इसकी क्षमता 800 कैदियों की ही है. जेल में कैदियों के बीच आपसी दूरी की भी समस्या है क्योंकि क्षमता से ज्यादा कैदी यहां बंद हैं. येस बैंक के संस्थापक और इस मामले के आरोपी राणा कपूर भी आर्थर रोड जेल में ही बंद हैं।

जेल में अब तक 200 से ज्यादा लोगों के स्वाब टेस्ट लिए गए हैं जिनमें 103 लोग पॉजिटिव आए हैं. ताजा मामले उस घटना के बाद सामने आए हैं जिसमें बुधवार को 45 साल के एक कैदी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. यह कैदी नारकोटिक्स एक्ट के तहत जेल में बंद है।

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने आर्थर रोड जेल में कोरोना पॉजिटिव केस के बारे में जानकारी दी. जेल में कई लोगों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने की आशंका है. अनिल देशमुख के मुताबिक, 77 कैदी और जेल के 26 अधिकारी अब तक कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं. उन्होंने कहा, आर्थर रोड जेल में 2800 से ज्यादा कैदी हैं. जेल की एक बैरक में कोरोना का केस पाया गया था. इसके बाद जेल के सभी कैदियों और स्टाफ की कोरोना जांच कराई गई. रिपोर्ट में 77 कैदियों और 26 जेल अधिकारियों के पॉजिटिव पाए जाने की पुष्टि हुई है. आगे के उपचार के लिए सबको हॉस्पिटल में दाखिल कराया जाएगा।

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

ten + five =

WhatsApp chat