भारत माता है या पिता !! यह महत्वपूर्ण नही!!! महत्वपूर्ण यह है कि उसकी डेढ़ करोड़ संतानें वेश्या क्यों हैं ? कौन है इसका ज़िम्मेदार?

जी हां, भारत मे डेढ़ करोड़ वेश्याएं हैं। यह संख्या कई देशों की कुल जनसंख्या से भी अधिक है। हमारे देश मे गंगा (नदी) माता है, गाय (पशु) माता है, धरती (जमीन) माता है मगर औरत (इंसान) वेश्या है। और वेश्या भी एक-दो हजार नही पूरे डेढ़ करोड़। कौन है इसका जिम्मेदार?? टेलीविज़न प्लस न्यूज़ सिर्फ पूछना चाहता है क्या इसके पीछे की मजबूरी?


आजकल तो गाड़ी में पार्कों में सड़क किनाारे बैठे प्रेमी जोड़ों से पैसा उगाही डंडे का जोर डंडों के जरिये जबरन उगाही का कारोबार खूब फलफूल रहा है जिसमे सिर्फ प्रशासन के लोग ही नही बल्कि संस्कृति सिखाने वाले लोगो का हाथ है मैैं कहता हूं इन लोगो को पहलेे उन कोठों पर भी जाना चाहिए ताकि अपने हाथों से तैयार की गई “वेश्या संस्कृति” का बदसूरत चेहरा देख सकें।

भारत माता है अथवा पिता है, इस बेहुदा बहस के बीच ये सवाल भी पूरे जोर से उठना चाहिए कि भारत माता हो या पिता मगर उसकी डेढ़ करोड़ संतानें वेश्या क्यों हैं ??

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

10 + ten =

WhatsApp chat