पशु आश्रयशाला में हो रही मौतों को लेकर प्रशासन उदासीन

शीतलहरी को देखते हुए प्रशासन द्वारा पशु आश्रयसाला में समुचित की गई जिससे आए दिन हो रही मौतों से ग्रामीणों में आक्रोश

ब्लाक अकबरपुर के मौजा सिसवा में ग्राम पंचायत द्वारा बनाए गए पशु आश्रय में शनिवार की सुबह दो पशुओं की ठण्ड के कारण के मौत हो गई जबकि अन्य कुछ पशुओं की हालत खराब है। इससे पहले भी पशु आश्रय में दो पशु की मौत हो चुकी है। पशुओं के मरने की जानकारी होने पर ग्रामीणों ने पशु आश्रय स्थल पर जाकर ग्रामीणों ने देखा उधर इस मामले में बीडीओ ने अनभिज्ञता जताते हुए मामले की जानकारी लेकर कार्रवाई की बात कही।

प्रदेश सरकार पशुओं के रखरखाव के लिए काफी धन खर्च कर रही है लेकिन वह धन कहां जा रहा है यह कोई भी बताने की स्थिति में नहीं है। यहीं स्थिति अकबरपुर ब्लाक के मौजा सिसवा रामपुर सकरवारी में बने पशु आश्रय स्थल की है। जिसमें दो पशुओं की सोमवार की सुबह मौत हो गई। इसकी जानकारी होने पर दोनों मरे हुए पशुओं को पशु आश्रय स्थल आए दिन हो रही पशुओं की मौतों जिसकी वजह से ग्रामीण हो रहे परेशान । इसकी जानकारी जैसे ही ग्रामीणों को हुई तो ग्रामीण आक्रोशित हो उठे और पशु आश्रय स्थल पर पहुंचकर ग्राम पंचायत तथा जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि इससे पहले रविवार की रात को भी दो पशु की मौत ठंड लगने से हुई, जिस पर मरे हुए मवेशी को उठाने के लिए नहीं हो रही व्यवस्था। वहीं सोमवार को पुन: पंचायत के लोगों द्वारा इस तरह की घटना की पुनरावृत्ती होने पर ग्रामीण नाराज हो उठे।

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

eighteen − three =

WhatsApp chat