Golden Glimpse Sports 

शार्दुल ठाकुर की जगह सैनी को अंतिम एकादश में शामिल किये जाने की संभावना…

सीरीज में विजयी बढ़त बनाने के बाद भारत शुक्रवार को वेलिंग्टन में न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले चौथे टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच में बैंच स्ट्रेंथ को आजमा सकता है। लेकिन विराट कोहली की टीम मेजबान टीम के खिलाफ अति उत्साह से बचना चाहेगी, जिसे पिछले मैच में दिल तोड़ने वाली हार का सामना करना पड़ा। यह मैच भारतीय समयानुसार दोपहर 12 बजकर 30 मिनट पर शुरू होगा।

मोहम्मद शमी के बेहतरीन अंतिम ओवर और रोहित शर्मा की शानदार बल्लेबाजी से भारत ने बुधवार को न्यूजीलैंड को सुपर ओवर में हराकर पांच मैचों की सीरीज में 3-0 की विजयी बढ़त बना ली।

भारत ने न्यूजीलैंड की सरजमीं पर पहली बार टेस्ट सीरीज जीती। दोनों टीमें गुरुवार को यात्रा करके हेमिल्टन से वेलिंग्टन पहुंची और शनिवार को माउंट माउंगानुई रवाना होंगी, जहां रविवार को अंतिम टी-20 खेला जाएगा जिससे दोनों टीमों को नेट अभ्यास के लिए अधिक समय नहीं मिलेगा।

पांच मैचों की टी-20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज अधिक देखने को नहीं मिलती और भारत के पहले ही सीरीज जीतने के बाद दोनों टीमें इसी साल होने वाले टी-20 विश्व कप को देखते हुए बाकी बचे मैचों में सभी संयोजनों को आजमाना चाहेंगी।

भारतीय टीम के पास 5-0 के क्लीन स्वीप के साथ इतिहास रचने का मौका है। भारत हालांकि अगर प्रयोग करने का विकल्प चुनता है तो संजू सैमसन और ऋषभ पंत को मौका दिया जा सकता है। पंत को अंतिम एकादश में जगह मिलने की संभावना अधिक है, लेकिन उनका चयन इस पर निर्भर करेगा कि किस बल्लेबाज को बाहर किया जाता है और लोकेश राहुल विकेटकीपिंग जारी रखते हैं या नहीं।

शीर्ष तीन में रोहित शर्मा, राहुल और कोहली की टीम में जगह पक्की है, जबकि श्रेयस अय्यर बेहतरीन फॉर्म में चल रहे हैं। मनीष पांडे और शिवम दुबे को और अधिक मौके दिए जाने की जरूरत है। शीर्ष चार में से किसी भी बल्लेबाज को अगले दो मैचों में आराम दिया जा सकता है. अगले दो मैचों में अगर एक-एक करके रोहित और कोहली को आराम दिया जाता है, तो हैरानी नहीं होगी और इससे युवाओं को मौका मिलने का रास्ता साफ होगा.

गेंदबाजी विभाग में बदलाव की अधिक उम्मीद है। वॉशिंगटन सुंदर, कुलदीप यादव और नवदीप सैनी मौके का इंतजार कर रहे हैं। तीनों को हालांकि एक साथ मौका नहीं मिलेगा, लेकिन टीम प्रबंधन एक स्पिनर और एक तेज गेंदबाज को रोटेट कर सकता है।

सुंदर ऑस्ट्रेलिया के बड़े मैदानों पर कोहली की नई गेंद की रणनीति का हिस्सा हैं और उन्हें अगले दो मैचों में खेलने का मौका मिल सकता है। शार्दुल ठाकुर की जगह सैनी को अंतिम एकादश में शामिल किया जा सकता है।

जसप्रीत बुमराह के खेलने पर भी फैसला किया जा सकता है। हेमिल्टन में बुमराह महंगे साबित हुए थे। वह वनडे और टेस्ट टीम में भी शामिल हैं और उन पर काम के अधिक बोझ को देखते हुए उन्हें भी आराम दिए जाने की उम्मीद है।

न्यूजीलैंड की अंतिम एकादश में बदलाव तय है. कॉलिन डी ग्रैंडहोम को अंतिम दो मैचों के लिए टीम में जगह नहीं मिली है और उनकी जगह बल्लेबाज टॉम ब्रूस को शामिल किया गया है. मेजबान टीम अपने बल्लेबाजी क्रम को मजबूत कर सकती है क्योंकि अब तक उसका मध्यक्रम उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाया है।

लोगों का साथ ही मानना है कि कप्तान केन विलियमसन को पारी का आगाज करना चाहिए। हेमिल्टन में शानदार पारी खेलने वाले विलियमसन अगर मार्टिन गप्टिल के साथ पारी का आगाज करते हैं, तो कोलिन मुनरो को बल्लेबाजी क्रम में नीचे आना होगा। मिशेल सेंटनर को बुधवार को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजा गया और देखना होगा कि न्यूजीलैंड इस तरह के प्रयोग को जारी रखता है या नहीं।

Spread the love

Written by 

Related posts

WhatsApp chat