Digital World Electronics 

दुनिया के सबसे अमीर कॉरपोरेट कार्यकारियों में से एक भारतीय मूल के सुंदर पिचई अब Google के साथ Alphabet को भी संभालेंगे…

तमिलनाडु के मदुरै से आने वाले 46 वर्षीय पिचई को मिली नई जिम्मेदारी के बारे में अधिकतर विश्लेषकों का मानना है कि उनकी प्रतिभा की वजह से उन्हें Alphabet का सीईओ बनाया गया है।

सेलिब्रेटी और बिजनेस लीडर्स की कमाई से जुड़े आंकड़े पेश करने वाले पोर्टल के मुताबिक पिचई के पास कुल 60 करोड़ डॉलर यानी करीब 43,200 करोड़ रुपये की संपत्ति है। इस तरह वह दुनिया के सबसे अमीर कॉरपोरेट कार्यकारियों में से एक हैं।

ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2014 में पिचई को करीब 25 करोड़ डॉलर का रेस्ट्रिक्टेड शेयर मिले थे। अगले साल उन्हें गूगल के सीईओ के रूप में प्रोन्नत किया गया था। इसके साथ ही उन्हें 10 करोड़ डॉलर के रेस्ट्रिक्टेड शेयर प्राप्त हुए थे। पिचई को 2016 में भी 20 करोड़ डॉलर के स्ट्रिक्टेड शेयर मिले थे। इसके बाद उन्होंने बतौर सीईओ 6,50,000 डॉलर का सालाना वेतन और अन्य सुविधाएं प्राप्त की। कंपनी ने साल 2018 में पिचई को कुल 19 लाख डॉलर का भुगतान किया था।

गूगल की कई प्रतिस्पर्धी कंपनियां पिचई को अपनी कंपनी में अहम जिम्मेदारी देने का ऑफर दे चुकी हैं। खबरों के मुताबिक उन्हें माइक्रो-ब्लागिंग वेबसाइट ट्विटर और माइक्रोसॉफ्ट की ओर से कंपनी से जुड़ने के लिए सम्पर्क किया गया था।

विश्लेषकों के मुताबिक पिचई को यह जिम्मेदारी इसलिए भी दी गई है कि दिग्गज टेक कंपनी ड्राइवरलेस कार, बॉयोटेक जैसे सेक्टर से जुड़ी अपनी महत्वाकांक्षी परियोजनाओं पर अधिक ध्यान देना चाहती है। इससे पहले सर्च इंजन वेबसाइट के सह-संस्थापकों ने लैरी पेज और सर्गे बिन ने Alphabet का नेतृत्व छोड़ने का ऐलान किया था। पिचई इस नई जिम्मेदारी को लेकर बहुत उत्साहित हैं।

Spread the love

Written by 

Related Posts

Leave a Comment

4 × 4 =

WhatsApp chat